ताज़ा खबर
 

‘थोबड़ा-दिखाऊ विज्ञापनों” पर करोड़ों खर्च करके कमाई गई गंदी-बौनी क्रांति के बजबजाते नाले में बहे सच्चे घर’, कुमार विश्वास का केजरीवाल पर तंज

केजरीवाल ने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘इस साल सभी एजेंसियां, चाहे वो दिल्ली सरकार की हों या दिल्ली नगर निगम की, कोरोना नियंत्रण में लगी हुई थीं। करोना वायरस की वजह से उन्हें कई कठिनाइयाँ आयीं। ये वक्त एक दूसरे पर दोषारोपण का नहीं है।

Delhi Rains, Rainfall in Delhi, Anna Nagar Incident, Minto Road Underpassदिल्ली में बारिश के बाद जलभराव होने के लिए भाजपा ने आप सरकार पर निशाना साधा। (फोटोः टि्वटर/एजेंसी)

देश की राजधानी नई दिल्ली के अन्ना नगर में रविवार को बारिश के बाद एक मकान नाले के बहाव में भरभरा कर जा गिरा। कवि और पूर्व AAP नेता कुमार विश्वास ने इसी को लेकर मुख्यमंत्री और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा। घटना का वायरल वीडियो रीट्वीट करते हुए उन्होंने कहा कि चकाचौंध वाले ऐड पर करोड़ों रुपए खर्च कर कमाई गई गंदी क्रांति के बजबजाते नाले में सच्चे घर बह गए।

विश्वास ने ट्वीट किया, “दिल्ली के टैक्स पेयर्स के दो हज़ार करोड़ रूपए “थोबड़ा-दिखाऊ विज्ञापनों” पर खर्च करके कमाई गई गंदी-बौनी क्रांति के इस बजबजाते नाले में जो कच्चे और सच्चे घर बहे गए हैं, दुर्भाग्य से वे भी “अन्ना नगर” के ही हैं। आइए दोषारोपण और कुतर्कों से अपने-अपने आकाओं/पार्टियों का बचाव शुरू करें।”

वहीं, दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके के पास मिंटो रोड अंडरपास में भरे पानी में डूबने से एक व्यक्ति के मौत के मामले पर लोगों ने सिस्टम पर सवाल उठाए। पत्रकार मानव यादव (@ManavLive) ने लिखा कि मिंटो ब्रिज से संसद की दूरी 6 किमी है। ब्रिज से AAP दफ़्तर की दूरी 1 किमी है। ब्रिज से BJP दफ़्तर की दूरी 800 मी है, जबकि ब्रिज से NDMC दफ़्तर की दूरी 1.5 किमी है। अब एक-दूसरे पर आरोप मढ़े जाएंगे, लेकिन हक़ीक़त यही है कि राजधानी के बीचों-बीच एक शख्स की पानी में डूबने से मौत हो गई, सिस्टम-सरकारें हर स्तर पर फेल हो गए।

इसी बीच, पत्रकार और डॉक्यूमेंट्री मेकर विनोद कापड़ी ने मिंटो रोड पर पानी से डूबने वाले व्यक्ति के शव को लेकर लिखा- ये लाश “ 60 साल से देश में कुछ नहीं हुआ ” और “ हम राजनीति बदलने आए हैं “ बोलने वाले लोगों के झूठे वादों और धोखेबाज़ी की लाश है।

जलभराव पर BJP ने AAP को घेरा, CM बोले- ये दोषारोपण का समय नहींः दिल्ली में बारिश के बाद जलभराव होने के लिए भाजपा ने आप सरकार पर निशाना साधा है जिस पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि यह राजधानी के विभिन्न हिस्सों में पानी भरने पर दोषारोपण का समय नहीं है क्योंकि सभी एजेंसियां कोरोना वायरस से निपटने में व्यस्त हैं। भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि मानसून की पहली बारिश में आप सरकार की तैयारियों की कलई खुल गयी है।

केजरीवाल ने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘इस साल सभी एजेंसियां, चाहे वो दिल्ली सरकार की हों या दिल्ली नगर निगम की, कोरोना नियंत्रण में लगी हुई थीं। करोना वायरस की वजह से उन्हें कई कठिनाइयाँ आयीं। ये वक्त एक दूसरे पर दोषारोपण का नहीं है। सबको मिल कर अपनी जिम्मेदारियां निभानी हैं। जहां जहां पानी भरेगा, हम उसे तुरंत निकालने का प्रयास करेंगे।’’ दिल्ली में रविवार को भारी बारिश से कई जगह जलभराव की स्थिति बन गयी और मिंटो ब्रिज पर 56 वर्षीय एक व्यक्ति की कथित तौर पर उसका मिनी ट्रक पानी में डूब जाने से मौत हो गयी।

Next Stories
1 पावर सेक्टर में चीनी कंपनियां हर महीने पा रही एक ठेका, 44 महीनों में नेशनल ग्रिड समेत 46 शहरों में की घुसपैठ!
2 ‘राम मंदिरः बाबर ने तुड़वाया, मोदी ने बनवाया’, BJP के कपिल मिश्रा ने लिखा लेख, बोले लोग- क्या PM सारे कोर्ट से बड़े हैं?
3 ‘हमारे साहेब स्टंटमैन हैं, स्टेट्समैन नहीं, इसीलिए मीडिया की TRP हाई है और GDP लो’, कन्हैया का पीएम मोदी पर नया तंज
चुनावी चैलेंज
X