ताज़ा खबर
 

दिल्ली चुनाव 2020: नामांकन भरने पहुंचे केजरीवाल का विरोध, अंदर जाने पर जामनगर हाउस में हुई हाथापाई

Delhi Polls: परिवार के साथ नामांकन दाखिल करने पहुंचे केजरीवाल ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस एक हो गई हैं। दिल्ली में मैं पहली बार ऐसा गठबंधन देख रहा हूं।

नामांकन से एक दिन पहले रोड शो के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Photo: PTI)

Delhi Polls: दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मुख्यमंत्री और AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल मंगलवार को पर्चा भरने पहुंचे। कुछ टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोपहर करीब साढ़े 12 बजे वह जामनगर हाउस आए, तो कुछ निर्दलीय उम्मीदवार उनका विरोध करने लगे। और, इसी दौरान उन्होंने सीएम को अंदर जाने से रोका। जानकारी के मुताबिक, जामनगर हाउस के बाहर हाथापाई भी हुई।

हालांकि, अच्छी बात यह रही कि इस दौरान किसी को चोट नहीं आई। परिवार के साथ नामांकन दाखिल करने पहुंचे केजरीवाल ने कहा, “BJP और Congress एक हो गई हैं। दिल्ली में मैं पहली बार ऐसा गठबंधन देख रहा हूं।” बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में नामांकन के लिए 21 जनवरी, 2020 आखिरी दिन है। हालांकि, केजरीवाल सोमवार को भी पूरी तैयार के साथ पर्चा भरने निकले थे, मगर कल वह नाकाम रहे थे।

इस मामले पर आप के सौरभ भारद्वाज ने कहा, “आरओ ऑफिस में लगभग 35 उम्मीदवार बिना उचित नामांकन पत्र के बैठे हैं। यहां तक कि 10 बिना प्रस्तावक के हैं। वे जोर दे रहे हैं कि जब तक उनके कागजात पूरे नहीं होंगे और नामांकन दाखिल नहीं होगा, वे सीएम केजरीवाल को नामांकन दाखिल करने नहीं करने देंगे। इन लोगों के पीछे बीजेपी का हाथ है।”

दरअसल रोड शो की वजह से सोमवार को देरी हो गई थी और वे नामांकन नहीं कर पाए थे। रोड शो शुरू करने से पहले आम आदमी पार्टी के नेता ने अपनी पत्नी, दोनों बच्चों और अभिभावक के साथ वाल्मीकि मंदिर में पूजा की थी। इसके बाद रोड शो पंचकुईयां रोड होते हुए कनॉट प्लेस पहुंचा और फिर इनर र्सिकल तथा इसके बाद बाबा खड़ग सिंह मार्ग पहुंचा। रोड शो का समापन पटेल चौक मेट्रो स्टेशन के निकट हुआ था।

केजरीवाल ने मंगलवार को विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि विरोधियों का उद्देश्य आगामी चुनाव में उन्हें हराना है लेकिन उनका उद्देश्य भ्रष्टाचार को हराना और दिल्ली को आगे ले जाना है। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘एक ओर हैं भाजपा, जद(यू), लोजपा, जजपा, कांग्रेस और राजद। दूसरी ओर है स्कूल, अस्पताल, पानी, बिजली, महिलाओं के लिए मुफ्त बस सेवा। मेरा उद्देश्य है भ्रष्टाचार को हराना और दिल्ली को आगे ले जाना। लेकिन उनका उद्देश्य है मुझे हराना।’’

Next Stories
1 Delhi polls: आप उम्मीदवार जितेंद्र सिंह तोमर का कटा टिकट, पार्टी ने पत्नी को मैदान में उतारा
2 मोदी सरकार के J&K प्लान पर मणिशंकर अय्यर का हमला, बोले- डरपोक है, 31 मंत्री जा रहे जम्मू, कश्मीर में सिर्फ पांच
3 IMF ने आर्थिक वृद्धि दर अनुमान में की कटौती, पूर्व FM बोले- मोदी सरकार के मंत्रियों के हमले को तैयार रहें गीता गोपीनाथ
ये पढ़ा क्या?
X