SIT जांच में फंसा U-19 वर्ल्ड कप विजेता टीम का यह स्टार क्रिकेटर, चार्जशीट में बड़ा आरोप

दिल्ली पुलिस की SIT जांच में इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। SIT ने इस मामले में तीस हजारी कोर्ट में चीफ मेट्रोपोलिट मजिस्ट्रेट के सामने एक चार्जशीट दायर की है।

manjot kalra
अंडर-19 क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे मनजोत कालरा। (file pic)

अंडर-19 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य और फाइनल मैच में मैन ऑफ द मैच रहे मनजोत कालरा उम्र संबंधी फर्जीवाड़े में फंस गए हैं। दरअसल मनजोत कालरा पर आरोप है कि उन्होंने दिल्ली में जूनियर क्रिकेट खेलने के लिए अपनी उम्र को एक साल घटाकर बताया। अब दिल्ली पुलिस की SIT जांच में इस फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। SIT ने इस मामले में तीस हजारी कोर्ट में चीफ मेट्रोपोलिट मजिस्ट्रेट के सामने एक चार्जशीट दायर की है। जिसके अनुसार, कालरा की जन्मतिथि असल में 15 जनवरी, 1998 है, लेकिन बीसीसीआई रिकॉर्ड्स में उनकी उम्र 15 जनवरी, 1999 दर्शायी गई है।

बता दें कि पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने इस मामले को उठाते हुए साल 2014 और 2015 में एफआईआर दर्ज करायी थीं। उसके बाद से ही पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। चूंकि एफआईआर के वक्त मनजोत कालरा नाबालिग थे, इसलिए चार्जशीट में कालरा के माता-पिता का नाम शामिल किया गया है। कालरा के अलावा 11 अन्य खिलाड़ियों की जन्मतिथि में भी गड़बड़ी पायी गई है।

कैसे हुआ खुलासाः दिल्ली पुलिस जब जूनियर स्तर पर खेलने वाले खिलाड़ियों की जन्मतिथि की जांच कर रही थी, उसी दौरान मनजोत कालरा के स्कूल रिकॉर्ड्स को खंगाला गया, जहां से इस गड़बड़ी का पता चला। यह भी पता चला कि कालरा के पासपोर्ट को भी गलत जन्मतिथि के तहत रिन्यू कराया गया है। वहीं कालरा के माता-पिता ने गलत जन्मतिथि के लिए झूठा हलफनामा भी दाखिल किया। पुलिस की चार्जशीट में इन सब बातों को भी शामिल किया गया है। हालांकि क्रिकेटर के माता-पिता अभी भी इस बात से इंकार कर रहे हैं कि उम्र को लेकर कोई गड़बड़ी की गई। माता पिता के अनुसार, मनजोत कालरा को स्कूल में पहली बार दाखिले के समय उनके एक रिश्तेदार ने गलत जन्मतिथि रजिस्टर करा दी थी, जिसे बाद में उन लोगों ने तब्दील कराया।

ये क्रिकेटर भी गड़बड़ी में शामिलः मनजोत कालरा के अलावा दिल्ली के स्टार खिलाड़ी नीतीश राणा पर भी आरोप है कि उन्होंने अंडर-15 क्रिकेट के दौरान दिल्ली डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) के रिकॉर्ड्स में अपनी जन्मतिथि को कम करके बताया। फिलहाल नीतीश राणा दिल्ली रणजी टीम के सदस्य हैं और आईपीएल में वह कई टीमों का हिस्सा रहे हैं। फिलहाल पुलिस द्वारा दायर चार्जशीट में नीतीश राणा के पिता का नाम शामिल किया गया है, क्योंकि एफआईआर के वक्त नीतीश नाबालिग थे। इन दोनों क्रिकेटर्स के अलावा हर्ष त्यागी, अंकित प्रताप सिंह, हर्षित सेठी, राजा खान, भरत गुप्ता, प्रशांत भंडारी, प्रतीक कौशिक और सारंग रावत के माता-पिता का नाम भी शामिल है। क्रिकेटर दीपक खत्री का नाम भी चार्जशीट में शामिल किया गया है, क्योंकि एफआईआर के वक्त वह नाबालिग नहीं थे।

इन सब के अलावा डीडीसीए के मौजूदा सचिव विनोद तिहारा का नाम भी चार्जशीट में दाखिल किया गया है। विनोद तिहारा पर आरोप है कि जिस क्लब लाल बहादुर शास्त्री क्रिकेट क्लब के वह मालिक हैं, उस क्लब के क्रिकेटर्स की उम्र को लेकर फर्जीवाड़ा सामने आया है। साथ ही विनोद तिहारा विद्या जैन पब्लिक स्कूल की मैनेजमेंट टीम में भी शामिल हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।