ताज़ा खबर
 

दिल्ली हिंसाः मौजपुर में उपद्रवियों ने फूंकी गाड़ियां, 200 जख्मी, 11 केस दर्ज

प्रभावित इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है। पुलिसा का कहना है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे।

दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कई अहम बातें कही। (फोटो-ANI)

नागरिकता संशोधित कानून का विरोध और समर्थन कर रहे लोगों के बीच हुई हिंसक झड़प को लेकर दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इधर दिल्ली पुलिस प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही थी उधर मौजपुर में उपद्रवियों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा कि हालात काबू में है। सीनियर अधिकारी ग्राउंड पर मौजूद हैं।

प्रभावित इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है। उन्होंने कहा कि तंग गलियों की वजह से दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पुलिसा का कहना है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे।

रंधावा ने कहा था कि फिलहाल हिंसा में 10 लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि हिंसा में 56 जवान घायल हुए हैं और इसके अलावा दो आईपीएस और 130 आम नागरिक घायल हुए हैं। हिंसा के सिलसिले में अभी तक 11 मामले दर्ज किए गए हैं। हालांकि, रात साढ़े 10 बजे तक घायलों की संख्या बढ़कर 200 पहुंच गई थी।

पुलिस पीआरओ के मुताबिक पुलिस बल की कमी जैसी कोई समस्या नहीं है। अफवाहों पर ध्यान ना देने की अपील की गई। पुलिस ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के जरिए उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। इसके अलावा ड्रोन से निगरानी की जा रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम असामाजिक तत्वों से जुड़ी घटनाओं पर कार्रवाई कर रहे हैं। उत्तरपूर्वी दिल्ली में पर्याप्त बल तैनात किया गया है। आरएएफ और सीआरपीएफ को भी तैनात किया गया है।’’ उन्होंने कहा कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी स्थिति पर करीब से नजर रख रहे हैं।

Next Stories
1 भारत-पाकिस्तान के बीच ‘कांटा’ है J&K, जरूरत पड़ी तो करूंगा मध्यस्थता, मेरे PM इमरान से अच्छे ताल्लुकात- बोले डोनाल्ड ट्रंप
2 CAA के खिलाफ हिंसा से निपटने के लिए शाह को सेना बुलाने की सलाह दें राजनाथ सिंह, स्वामी ने किया ट्वीट
3 डोनाल्ड ट्रंप के दौरे से भारत-अमेरिका को क्या हुआ फायदा, जानें 10 महत्वपूर्ण बातें
ये पढ़ा क्या?
X