ताज़ा खबर
 

प्रदूषण: दिल्ली एनसीआर की हवा में सुधार बरकरार

दिल्ली, गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा, गुरुग्राम सहित कई शहरों की हवा ‘बहुत खराब’ से सुधरकर ‘मध्यम’ दर्जे की हो गई है

Author नई दिल्ली | November 29, 2020 7:05 AM
animal overpasses central wildlife boardतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (पीटीआई)

दिल्ली सहित एनसीआर की हवा में उल्लेखनीय सुधार बरकरार है। धूप खिलने व हवा चलने से प्रदूषणकारी तत्व उड़कर राहत दिए। हालांकि पराली जलाने की घटनाएं फिर बढ़ी दर्ज की गई है। जिसके चलते प्रदूषण में इसकी हिस्सेदारी एक से बढ़ कर चार फीसद हो गया। दिल्ली, गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा, गुरुग्राम सहित कई शहरों की हवा बहुत खराब से सुधरकर मध्यम दर्जे की हो गई है।

इसके अलावा ज्यादातर शहरों की हवा संतोषजनक पाई गई। पृथ्वी व विज्ञान मंत्रालय के वायु प्रदूषण निगरानी प्रणाली सफर के मुताबिक दिल्ली की समग्र वायु गुणवत्ता में आज सुबह के समय मध्यम श्रेणी में रही। इसमें पहले से काफी सुधार हुआ है। दिल्ली का एक्यूआइ 169 रहा। तेज हवाओं और आसपास के क्षेत्रों में बारिश के कारण संचित प्रदूषकों को साफ करने में मदद मिली। सतही स्तर की हवाए दक्षिणी पछुवा रही। हवा की गति अभी भी अधिक है।
प्रदूषकों के फैलाव के लिए वेंटिलेशन की स्थिति काफी अनुकूल है।

सीमा-परत परिवहन स्तर की हवाएं उत्तर पछुवा हैं और पराली जलाने के मामले भी कम हुए हैं। हालांकि परसों की तुलना में इमसें मामूली बढ़ोत्तरी हुई है। सफर को सैटेलाइट से मिली तस्वीरों से पता चला पराली जलाने के लगभग 1361 मामले परसों दर्ज हुए जबकि कल यह 400 से अधिक रहे। इसलिए, दिल्ली की हवा में पीएम 2.5 की भागीदारी दो से बढ़ कर चार फीसद हो गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाक से आए शरणार्थियों ने कहा, 70 साल बाद हुआ इंसाफ
2 जम्मू कश्मीर : शांति से निपटे पहले चरण में 52% पड़े वोट, केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद पहली बार जिला विकास परिषद के चुनाव
3 सीमा पर तनाव के बीच चीनी कंपनी के कार्यक्रम में शामिल हुए CDS चीफ बिपिन रावत
यह पढ़ा क्या?
X