ताज़ा खबर
 

दिल्ली-NCR में बूंदा-बांदी ने दिलाई गर्मी से निजात, पर कई जगह जलभराव, मौसम हुआ साफ तो दिखा इंद्रधनुष

इससे पहले, रविवार को राष्ट्रीय राजधानी में रातभर 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ बारिश ने पारा गिरा दिया जिससे मौसम सुहावना हो गया।

दिल्ली-एनसीआर में रविवार शाम बूंदा-बांदी के बाद कई जगह इस तरह इंद्रधनुष नजर आया।

दिल्ली-एनसीआर (गाजियाबाद, नोएडा, गुरुग्राम आदि) में रविवार शाम करीब साढ़े चार बजे मौसम बदल गया। आसमान में काले घने बादल छाने के साथ हल्की-फुल्की गर्जना हुई, जिसके कुछ देर बाद पानी गिरने लगा। हालांकि, शुरुआत में आंधी या तेज हवा नहीं चली, मगर मौसम जरूर सुहाना हो गया। राजधानी में इसी के साथ पारा भी गिर गया, जिससे लोगों को गर्मी से कुछ राहत भी मिली।

हालांकि, बारिश के बाद बदरपुर में दिल्ली-फरीदाबाद बार्डर के पास और तुगलकाबाद इलाके में अंडरपास के नजदीक जलभराव हो गया था। वहीं, कुछ ही देर बाद आसमान साफ हुआ तो दिल्ली-एनसीआर समेत आस-पास के इलाकों में इंद्रधनुष नजर आया। बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में काफी सालों बाद इतना खूबसूरत डबल रेनबो नजर आया था।

इससे पहले, रविवार को राष्ट्रीय राजधानी में रातभर 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ बारिश ने पारा गिरा दिया जिससे मौसम सुहावना हो गया। सफदरजंग वेधशाला ने 9.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की। शनिवार को यहां अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री नीचे दर्ज किया गया था। पालम वेधशाला ने रातभर 5 मिमी. बारिश दर्ज की।

Bihar, Jharkhand Coronavirus LIVE Updates

मौसम वैज्ञानिकों ने रविवार को दिल्ली-एनसीआर में 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ हल्की बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान जताया है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 35 डिग्री और 22 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

नोएडा सेक्टर 20 में शाम करीब पांच बजे बारिश और हवा के दौरान मौसम कुछ इस तरह सुहाना हो गया था। (फोटोः जनसत्ता ऑनलाइन/अभिषेक गुप्ता)

मौसम विभाग ने बताया कि जून के पहले सप्ताह में उत्तरपश्चिम भारत में एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ की संभावना है इसलिए दिल्ली-एनसीआर में आठ जून से पहले लू चलने की संभावना नहीं है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि मौजूदा पश्चिमी विक्षोभ और पूर्वी हवाओं का असर रविवार शाम तक कम हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि दिल्ली-एनसीआर में अधिकतम तापमान एक जून से तीन जून तक दो से चार डिग्री सेल्सियस तक बढ़ने का अनुमान है। उन्होंने कहा, ‘‘पारा ज्यादातर स्थानों पर 40 डिग्री सेल्सियस से कम रहेगा और अब लू नहीं चलेगी।’’श्रीवास्तव ने बताया कि अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के साथ ही नए सिरे से बने पश्चिमी विक्षोभ और दक्षिणपश्चिमी हवाओं से दिल्ली-एनसीआर में आर्द्रता आएगी।

इससे दिल्ली-एनसीआर में तीन से पांच जून के बीच गरज के साथ छींटे और हल्की बारिश का अनुमान है। उन्होंने बताया, ‘‘उत्तर पश्चिम भारत में आठ जून तक लू चलने की संभावना नहीं है।’’ (पीटीआई-भाषा और IMD इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सीमा विवाद के बीच भारत के हिस्से को अपना बताने वाला विवादित नक्शा नेपाल की संसद में पेश
2 सिग्नल पर खड़ी थी मिजो प्रवासी मजदूरों को ले जा रही ट्रेन, लोगों ने दौड़-दौड़कर पहुंचाया खाना,पानी, बिहार का वीडियो हो रहा वायरल
3 देश में ढील से बढ़ी मुश्किल? COVID-19 के कुल केसों में से करीब आधे Lockdown 4.0 में सामने आए