ताज़ा खबर
 

IT नियम केसः इधर Twitter को दिल्ली HC का नोटिस, उधर NCPCR ने दर्ज कराई FIR; प्रसाद ने दोहरे मानदंड पर दागा यह सवाल

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले,"आज कल पत्रकारों, जजों से लेकर कारोबारी तक ट्रोल हो जाते हैं। ये हैं दुरुपयोग के बड़े सवाल। आपको दुरुपयोग का एक अफसर बनाना पड़ेगा, जहां पर शिकायत हो सके। ये लोग व्यापार करते हैं यहां, पर शिकायत के लिए कहते हैं कि अमेरिका जाओ।"

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सवाल उठाया कि किसानों की ट्रैक्टर परेड रैली के दौरान जब लाल किला पर नंगी तलवार लहरा दी थी। कितने पुलिस वाले पिटे थे, उससे जुड़े फोटो-वीडियो खूब दिखाए गए। सवाल उठाया गया, तो जवाब आया था कि यह तो बोलने की आजादी है। पर जब अमेरिका के कैपिटल हिल पर जब कुछ चढ़ गए थे, तब सबके अकाउंट बंद कर दिए थे। ऐसा दोहरा मानदंड क्यों है? (फाइल फोटो)

दिल्ली हाईकोर्ट ने Twitter Inc को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। सोमवार (31 मई, 2021) को अदालत ने यह नोटिस सूचना प्रौद्योगिकी नियम, 2021 के कथित गैर-अनुपालन को लेकर दी गई एक याचिका पर सुनवाई के दौरान जारी किया।

कोर्ट ने कहा कि नियम है, तो उसका पालन सभी के लिए जरूरी है। हालांकि, टि्वटर ने कोर्ट को बताया कि उसने Information Technology (Intermediary Guidelines and Digital Media Ethics Code) Rules, 2021 का पालन किया है और 28 मई को रेजिडेंट ग्रीवियंस ऑफिसर नियुक्त कर चुका है। मामले में अगली सुनवाई छह जुलाई को होगी।

नोटिस जारी होने से कुछ ही देर पहले केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ABP News से बातचीत में कहा कि टि्वटर के अलावा सभी ने नियम मान लिए हैं। अधिकारियों की नियुक्तियां कर दी हैं। टि्वटर पर जो कानूनी कार्रवाई है, वह करेंगे। नोटिस जारी करेंगे।

बकौल प्रसाद, “यह हमने अचानक नहीं किया। विषय सोशल मीडिया के प्रयोग का नहीं है बल्कि इसके दुरुपयोग का है। लोग पीएम मोदी, मेरी और मेरी सरकार की आलोचना करें, हम उनका सम्मान करें। विदेशी कंपनियां भारत में आकर पैसे कमाएं इससे भी दिक्कत नहीं है। पर कोई महिला मेरे पास आकर कहती हैं कि उनकी बेटी का पूर्व प्रेमी आपत्तिजनक अवस्था में खींचे गए पुराने फोटो वायरल कर रहा है…मुझे इस स्थिति में क्या करना चाहिए?”

वह आगे बोले,”आज कल पत्रकारों, जजों से लेकर कारोबारी तक ट्रोल हो जाते हैं। ये हैं दुरुपयोग के बड़े सवाल। आपको दुरुपयोग का एक अफसर बनाना पड़ेगा, जहां पर शिकायत हो सके। ये लोग व्यापार करते हैं यहां, पर शिकायत के लिए कहते हैं कि अमेरिका जाओ।”

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सवाल उठाया कि किसानों की ट्रैक्टर परेड रैली के दौरान जब लाल किला पर नंगी तलवार लहरा दी थी। कितने पुलिस वाले पिटे थे, उससे जुड़े फोटो-वीडियो खूब दिखाए गए। सवाल उठाया गया, तो जवाब आया था कि यह तो बोलने की आजादी है। पर जब अमेरिका के कैपिटल हिल पर जब कुछ चढ़ गए थे, तब सबके अकाउंट बंद कर दिए थे। ऐसा दोहरा मानदंड क्यों है?

उधर, टि्वटर के खिलाफ गलत सूचना और POCSO Act के उल्लंघन के आरोप में शिकायत दी गई है, जिसके बाद एफआईआर दर्ज कर ली गई है। यह जानकारी सोमवार को National Commission for Protection of Child Rights के चेयरमैन ने समाचार एजेंसी ANI को दी। उन्होंने आगे बताया कि हमने केंद्र को लिखा है कि बच्चों को टि्वटर का एक्सेस नहीं मिलना चाहिए, क्योंकि वह उनके लिए सुरक्षित मंच नहीं है।

Next Stories
1 कश्मीरी पंडितों को न्याय के लिए मैंने भी छेड़ा था अभियान, जिन्हें किया जाएगा बदनाम, उनके लिए उठाऊंगा आवाज- बोले BJP सांसद सुब्रमण्यम स्वामी
2 ‘Central Vista’ है जरूरी राष्ट्रीय प्रोजेक्ट, रोकने का औचित्य नहीं- याचिका खारिज कर बोला दिल्ली HC; पिटिशनर पर 1 लाख का लगाया जुर्माना
3 VIDEO: इसाई=ऐलोपैथी, हिंदू=आयुर्वेद…ऐसा क्यों? आपकी तरफ से सिग्नल आ रहा है- पत्रकार ने दागा सवाल, देखें- क्या बोले रामदेव
ये पढ़ा क्या?
X