दो साल पहले तीन पुलिसवालों को चकमा दे फरार हुआ था कांग्रेस का पूर्व विधायक, दिल्ली पुलिस ने दबोचा

रामबीर शौकीन दिल्ली के कुख्यात गैंगस्टर नीरज बवाना का मामा लगता है। उन पर नीरज बवाना के साथ मिलकर गैंग चलाने, डाका डालने और उगाही करने का आरोप है।

Rambeer Shokeen, MLA
कांग्रेस नेताओं के साथ लाल स्वेटर में रामबीर शौकीन। (फाइल फोटो)

दो साल पहले बागपत पुलिस कस्टडी से फरार हुए मुंडका के पूर्व विधायक रामबीर शौकीन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया गया है कि पुलिस ने उसे पकड़ कर पूछताछ की, जिसमें उसने 2018 में सफदरजंग अस्पताल से भाग निकलने की बात कबूली है।

डीसीपी (साउथवेस्ट) इंगित प्रताप सिंह ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए कहा कि पूर्व विधायक के खिलाफ सफदरजंग एन्क्लेव पुलिस स्टेशन पर एफआईआर दर्ज कराई गई है। बता दें कि इसी साल की शुरुआत में पुलिस ने दिल्ली कोर्ट में शौकीन और उसके साथी के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी। चार्जशीट में उन तीन पुलिसवालों के नाम भी शामिल थे, जिनकी कस्टडी से शौकीन फरार हुआ था।

कैसे हुई गिरफ्तारी?: बताया जा रहा है कि रामबीर शौकीन दिल्ली हाई कोर्ट में सरेंडर करने के लिए पहुंचा था, लेकिन कोर्ट ने उसे सीएमओ कोर्ट जाने के लिए कहा। इसी बीच पुलिस रामबीर के दिल्ली में होने की भनक लग गई और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। रामबीर शौकीन पर एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित है।

क्या हैं रामबीर शौकीन पर आरोप: रामबीर शौकीन दिल्ली के कुख्यात गैंगस्टर नीरज बवाना का मामा लगता है। उन पर नीरज बवाना के साथ मिलकर गैंग चलाने, डाका डालने और उगाही करने का आरोप है। उसे 2016 में आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहने के लिए मकोका के तहत गिरफ्तार किया जा चुका है। यूपी के बागपत में पुलिस कस्टडी से कुछ बदमाश पुलिसवालों के हथियार छीनकर भागे थे, उस मामले में रामबीर शौकीन का नाम भी सामने आया था। तब बागपत पुलिस ने रामबीर को गिरफ्तार किया था।

26 सितंबर 2018 को शौकीन सफदरजंग अस्पताल में कोर्ट ऑर्डर के तहत इलाज कराने के लिए आया था। यहां उसके साथ आए पुलिसकर्मियों को बताया गया कि डॉक्टर ऑपरेशन कर रहे हैं, इसलिए उन्हें इंतजार करना होगा। इस बीच शौकीन ने पुलिसवालों को देवली स्थित अपने घर में खाना खाने का न्योता दिया और उनके साथ कैब से घर पहुंच गया। बाद में शौकीन पुलिस को चकमा देते हुए घर से ही फरार हो गया।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट