ताज़ा खबर
 

Delhi Election Results 2020: कुमार विश्वास ने HUG डे पर किया ट्वीट, लोग बोले- इंसानियत के नाते केजरीवाल जी को बधाई तो दे देते

Delhi Vidhan Sabha Election/Chunav Results 2020: चुनाव प्रचार अभियान के दौरान कुमार विश्वास ने ट्वीट कर आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा था और लिखा था कि पिछले 5 साल के कलंक धोने का समय है दिल्ली वालो।

अरविंद केजरीवाल को बधाई नहीं देने पर सोशल मीडिया यूजर्स ने कुमार विश्वास को ट्रोल किया। (Source; Kumar Vishwas / YouTube)

Delhi Election/Chunav Results 2020: कवि और नेता कुमार विश्वास ने दिल्ली चुनाव में मतदान के बाद ट्वीट किया था, “जिस दिल्ली से वैकल्पिक राजनीति की उम्मीद पूरे देश में जागी थीं आज उसी दिल्ली में इतना कम मतदान यही सिद्ध करता है कि जनता आशाओं को धूमिल करने वाले राजनीतिक विमर्श से विमुख है! सोचिए कि सत्तर सीटों में से सबसे कम मतदान नई दिल्ली सीट पर हुआ।” लेकिन आम आदमी पार्टी के मिले प्रचंड बहुतम के बाद उन्होंने अरविंद केजरीवाल को बधाई तक नहीं दी। उनके इस व्यवहार को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स उन्हें ट्रोल कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा कि इंसानियत के नाते केजरीवाल जी को बधाई तो दे देते।

दरअसल Hug Day के असर पर कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, “दूर धरती के काँधे पे देखो, आसमां झूम कर झुक गया है। नर्म बाहों के घेरे के बाहर, शोर दुनिया का चुप रुक गया है..!” उनके इस ट्वीट पर टि्वटर यूजर @kuldeepofficial ने लिखा, “अरे चचा, दोस्त को जीत की बधाई तो दे देते।” यूजर @SureshV61021200 ने लिखा, “सर आज वो ‘शब्द’ नहीं है इस कविता में! चम्पू,, बौना, अमानती, अजगर, चिंटू, घोंचू, टटपुंजिये, आत्ममुग्ध !!!! अब तो इन शब्दों के बिना आपकी कविता कुछ अधूरी सी लगती है !”

टि्वटर यूजर @dk_verma07 ने लिखा, “कविवर तबियत तो ठीक हैं? पिछले 2-3 दिन से ट्वीटर से नदारद थे आप?” यूजर @kuchshabd ने लिखा, “शिकायतें सियासत से अवाम की जाली निकली अहल अपने जमीर से, चंदों में बिक गया है। वो जो कहते थे बदल देंगे, अहल की फितरत, उनके मंसूबों का जहर यकीनन हवा में घुल गया है।”

यूजर @imrahulyadav111 ने लिखा, “एक बार अपने पुराने मित्र को भी हग करके बधाई दे दो।” @galav_monu ने लिखा, “कविवर इंसानियत के नाते केजरीवाल जी को बधाई तो दे देते।”

चुनाव प्रचार अभियान के दौरान कुमार विश्वास ने एक और ट्वीट कर आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा था। उन्होंने लिखा था, पिछले 5 साल के कलंक धोने का समय है दिल्ली वालो। वोट की चोट से समाज, देश, आशाओं, सेना, मित्रता व भरोसे की हत्या करने वाले राजनैतिक एडस आत्ममुग्ध बौनों के निकृष्ट मंसूबे ध्वस्त करने का समय है। निकलो घरों से, बताओ कि बना सकते हो तो अंहकारी शिशुपालों को मिटा भी सकते हो।”

Next Stories
1 लालू ने नीतीश का फोटो साझा कर किया पलटवार- ‘तेरे दर पर सनम चले आये, ले के अपना भरम स्वयं चले आये’
2 Kerala Lottery Today Results 2020 announced: लॉटरी रिजल्ट जारी, यहां चेक करें
3 उमर अब्दुल्ला के केस की सुनवाई करने से SC जज ने किया इनकार, बहन सारा पायलट ने डिटेंशन को दी है चुनौती
ये पढ़ा क्या?
X