ताज़ा खबर
 

दिल्ली चुनाव: 25 साल में सबसे कम उम्मीदवार, BJP ने दिए सबसे कम महिलाओं को टिकट

दिल्ली चुनाव में महिला उम्मीदवारों की बात करें तो आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और भाजपा तीनों पार्टियों की तरफ से कुल 24 महिला उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा गया है।

दिल्ली चुनाव के नतीजों का 11 फरवरी को होगा ऐलान। (फाइल फोटोज)

दिल्ली चुनावों में नामांकन वापस लेने का शुक्रवार को आखिरी दिन था। जिसके बाद दिल्ली चुनाव में अब फाइनल तौर पर कुल 668 प्रत्याशी मैदान में हैं। खास बात ये है कि बीते 25 सालों में दिल्ली चुनावों में यह प्रत्याशियों की सबसे कम संख्या है। इससे पहले 1993 के दिल्ली विधानसभा के चुनाव में कुल 1316 प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतरे थे। उसके बाद से प्रत्याशियों की संख्या में हर चुनाव में कमी आयी है।

दिल्ली चुनाव कार्यालय को नामांकन की आखिरी तारीख 21 जनवरी तक कुल 1029 उम्मीदवारों के 1528 नामांकन पत्र हासिल हुए थे। इनमें से दस्तावेजों की जांच के बाद यह संख्या घटकर 698 तक पहुंच गई। 24 जनवरी को नामांकन वापस लेने के दौरान 30 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया, जिसके बाद अब चुनाव मैदान में कुल 668 उम्मीदवार बचे हैं।

दिल्ली चुनाव में महिला उम्मीदवारों की बात करें तो आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और भाजपा तीनों पार्टियों की तरफ से कुल 24 महिला उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा गया है। कांग्रेस ने सबसे ज्यादा 11 महिलाओं को टिकट दिया है। वहीं आम आदमी पार्टी की तरफ से 8 महिला प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। भाजपा की तरफ से सबसे कम 5 महिला उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है।

शुक्रवार को जिन उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस लिया, उनमें आम आदमी पार्टी के दो पूर्व विधायक मोहम्मद इशराक और जगदीप सिंह का नाम शामिल है। मोहम्मद इशराक सीलमपुर से और जगदीप सिंह हरिनगर सीट से विधायक रह चुके हैं। इनके अलावा ओखला से कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान का नाम शामिल है। बता दें कि इन तीनों नेताओं को इनकी पार्टियों की तरफ से टिकट नहीं दिया गया था, जिसके बाद तीनों ने बतौर निर्दलीय नामांकन किया था।

शाहदरा सीट से भाजपा उम्मीदवार जतिंदर सिंह शंटी का नामांकन तकनीकी कारणों से कैंसिल हो गया है। जतिंदर सिंह शंटी शिअद के पूर्व विधायक हैं और इस बार उन्होंने बतौर भाजपा उम्मीदवार नामांकन किया था।

दिल्ली में मटियाला विधानसभा सीट में सबसे ज्यादा मतदाताओं की संख्या है। मटियाला में 4.2 लाख वोटर्स हैं। वहीं सबसे कम मतदाता दिल्ली की चांदनी चौक विधानसभा में हैं, जहां मतदाताओं की संख्या 1.2 लाख है। दिल्ली में प्रति 1000 मतदाताओं पर 824 महिला मतदाता हैं। दिल्ली में कुल मतदाताओं की संख्या 1,47,86,382 है। इनमें पुरुष मतदाता 81,05,236, महिला मतदाता 66,80,277 और थर्ड जेंडर मतदाताओं की संख्या 869 है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बिहार में इस हफ्ते बरस सकते हैं बादल, जानिए अपने क्षेत्र के मौसम का हाल
2 टीआरएस ने किया क्लीन स्वीप, भाजपा-कांग्रेस बुरी तरह पिछड़ीं
3 गोवा में पहली बार CAA के खिलाफ उतरे चर्च, कहा- भारत में बाइबल, कुरान व गीता के साथ बच्चों को पढ़ाया जाए इंसानियत का पाठ
ये पढ़ा क्या?
X