ताज़ा खबर
 

CAA, NRC विवादः पहले लगवाए गोली मारो के नारे, अब बोले अनुराग ठाकुर- 11 को नतीजे आते ही शाहीन बाग साफ होने लगेगा

अनुराग ठाकुर ने कहा कि "11 फरवरी को नतीजे आते-आते ही शाहीन बाग भी साफ होना शुरू हो जाएगा, इसका मैं आपको विश्वास दिलाता हूं।"

anurag thakurअनुराग ठाकुर ने कहा है कि 11 फरवरी को शाहीन बाग साफ होना शुरू हो जाएगा। (एएनआई इमेज)

दिल्ली विधानसभा चुनावों में संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी के मुद्दे छाए हुए हैं। बीते दिनों केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री ने देश के गद्दारों को गोली मारने वाले नारे लगवाए थे, अब एक बार फिर उन्होंने शाहीन बाग के मुद्दे को उठाते हुए कहा है कि 11 फरवरी को चुनाव के नतीजे आते ही शाहीन बाग भी साफ होना शुरू हो जाएगा।

एक जनसभा को संबोधित करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि “शाहीन बाग के धरने प्रदर्शन को सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का पूरा समर्थन प्राप्त है, लेकिन 11 फरवरी को नतीजे आते-आते ही शाहीन बाग भी साफ होना शुरू हो जाएगा, इसका मैं आपको विश्वास दिलाता हूं।”

बता दें कि अनुराग ठाकुर ने बीते दिनों एक जनसभा के दौरान विवादित बयान दिया था, जिसके बाद अनुराग ठाकुर पर कुछ दिनों के लिए प्रचार करने पर रोक भी लगी थी। दरअसल बीते दिनों दिल्ली के रिठाला में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि अपने भाषण के दौरान लोगों से नारे लगवाए थे।

इन नारों में अनुराग ठाकुर ने कहा था कि ‘देश के गद्दारों को गोली मारो’। अनुराग ठाकुर के इस बयान ने उस वक्त तूल पकड़ लिया था, जब इसके तुरंत बाद ही एक नाबालिग ने जामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों पर गोली चला दी थी। इस हमले में एक छात्र घायल हुआ था।

वहीं इसके साथ ही एक अन्य युवक ने शाहीन बाग इलाके में भी फायरिंग कर दी थी। इसके बाद अनुराग ठाकुर के बयान पर लोगों ने कड़ी आपत्ति जतायी। जिसके बाद चुनाव आयोग ने कार्रवाई करते हुए उनके कुछ समय के लिए चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी थी।

भाजपा का आरोप है कि शाहीन बाग के धरने प्रदर्शन को आम आदमी पार्टी का समर्थन है। हालांकि आम आदमी पार्टी भाजपा पर ही शाहीन बाग के धरने को लेकर राजनीति और सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करने का आरोप लगा रही है।

संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में बीते काफी समय से शाहीन बाग में धरना प्रदर्शन जारी है। इसके चलते शाहीन बाग इलाके में मुख्य सड़क भी बंद है, जिससे दिल्ली में जाम की समस्या बनी हुई है। शाहीन बाग के आसपास के लोग जाम की समस्या के चलते इस धरने प्रदर्शन का विरोध कर रहे हैं। सोमवार को पीएम मोदी ने भी अपनी एक जनसभा के दौरान शाहीन बाग के धरने पर निशाना साधा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi Elections 2020: राहुल गांधी का प्रहार- ये मोदी नहीं, अडानी-अंबानी की सरकार है; ये काम नहीं मार्केटिंग करते हैं
2 Delhi Elections 2020: ‘दिल्ली को दोष नहीं, चाहिए दिशा वाली सरकार’; PM का केजरीवाल पर वार- ये केंद्रीय योजनाओं में बने रोड़ा
3 CAA, NRC विवाद: जामिया में फिर गरमाया माहौल, लगे ‘गोली मारो…’ के नारे, 40 हिरासत में
ये पढ़ा क्या?
X