ताज़ा खबर
 

महिला उत्पीड़न मामला: कोर्ट ने दिल्‍ली पुलिस को दिया कुमार विश्‍वास के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश

महिला का आरोप है कि कुमार विश्वास की पत्नी कुमार विश्वास के साथ उनका नाम जोड़कर बदनाम कर रही हैं।
Author नई दिल्‍ली | March 16, 2016 18:16 pm
आप नेता कुमार विश्वास (पीटीआई फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास की मुश्किलें फिर बढ़ गई हैं। महिला कार्यकर्ता के शोषण के आरोप पर दिल्ली पुलिस से क्लीन चिट के बाद अब पटियाला हाउस कोर्ट ने मामले में दखल दिया है। कोर्ट ने दिल्‍ली पुलिस को आदेश दिया है कि वह कुमार विश्वास के खिलाफ इस मामले में एफआईआर दर्ज करे। महिला ने कोर्ट में अपनी शिकायत में कहा कि उसने दिल्ली पुलिस से नेता की शिकायत की थी, लेकिन पुलिस ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में पेश की एक्शन टेकन रिपोर्ट में कहा था कि महिला के आरोप बेबुनियाद हैं।

महिला से कथित संबंध के मामले में आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास को दिल्ली महिला आयोग ने नोटिस भेजा भी था। दिल्ली महिला आयोग की तत्‍कालीन अध्यक्ष बरखा शुक्ला सिंह ने कुमार विश्वास को नोटिस भेजकर आयोग के दफ्तर आकर जवाब देने को कहा था। पिछले साल सोशल मीडिया पर कुमार विश्वास के एक महिला कार्यकर्ता से कथित संबंधों की खबर आई थी। बताया गया कि यह महिला अमेठी में विश्वास के लिए प्रचार करने गई थी। हालांकि, विश्वास की तरफ से इस पर कभी सफाई नहीं दी गई। आप की महिला कार्यकर्ता ने आरोप लगाया कि कुमार विश्वास की पत्नी उसे बदनाम कर रही हैं। महिला ने कुमार विश्वास पर भी आरोप लगाया है कि उसके चरित्र पर लगाए जा रहे आरोप का कुमार विश्वास सामने आकर खंडन नहीं कर रहे हैं।

महिला का आरोप है कि कुमार विश्वास की पत्नी कुमार विश्वास के साथ उनका नाम जोड़कर बदनाम कर रही हैं। महिला ने आरोप लगाया कि जब अमेठी में वह कुमार विश्वास के चुनाव प्रचार कर रही थीं, उसी दौरान विश्वास की पत्नी ने उन पर आरोप लगाए थे। महिला का आरोप है कि इस बेबुनियाद आरोप को लेकर कुमार विश्वास के साथ उसका नाम जोड़ा गया और उसे सोशल मीडिया पर भी डाल दिया गया, जिसकी वजह से उनका निजी जीवन प्रभावित हो गया। नौबत यहां तक आ गई कि उनके पति तलाक की धमकी देने लगे हैं।

Read Also: JNU ROW: केजरीवाल बोले- देश के खिलाफ नारे लगाने वालों को बचाने वाली बीजेपी सबसे बड़ी राष्‍ट्रविरोधी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.