ताज़ा खबर
 

NSA के दौरे और भारी सुरक्षा बल की तैनाती के बावजूद 60 साल के बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या, दिल्ली हिंसा में मृतकों की संख्या हुई 42

पुलिस के अनुसार, दिल्ली हिंसा के मामले में 123 एफआईआर दर्ज की गई हैं। 630 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इलाके में शांति कायम करने के लिए पीस कमेटी का गठन किया गया है।

दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 42 हो गई है (Express photo by Amit Mehra)

दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाकों में पांच दिन पहले भड़की हिंसा में मृतकों का आंकड़ा 42 तक पहुंच गया है। हालांकि हिंसा की आग अभी भी ठंडी नहीं हुई है। शुक्रवार की सुबह भी हिंसा प्रभावित रहे शिव विहार इलाके में एक 60 साल के बुजुर्ग व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। इलाके में भारी सुरक्षा बल की तैनाती है, इसके बावजूद यह घटना हैरान करने वाली है।

शुक्रवार को हुई हिंसा में मारे गए व्यक्ति की पहचान अयूब अंसारी के रूप में हुई है। अयूब अंसारी एक कबाड़ी थे और गाजियाबाद के लोनी इलाके में रहते थे। दिल्ली का शिव विहार इलाका उनके आवास से सिर्फ 2 किलोमीटर दूर है। फिलहाल पुलिस घटना की जांच कर रही है और अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

द इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में अयूब अंसारी के बेटे सलमान अंसारी ने बताया कि कुछ अज्ञात लोग उनके घायल पिता को लेकर उनके घर पहुंचे थे। जहां से उन्हें एक स्थानीय क्लीनिक ले जाया गया। वहां से प्राथमिक चिकित्सा देने के बाद उन्हें जीटीबी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया, लेकिन रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

सलमान अंसारी ने बताया कि उसके पिता पिछले कुछ दिनों से जारी हिंसा के चलते घर पर ही थे, आज सुबह वह कबाड़ इकट्ठा करने के लिए सुबह 4-5 बजे घर से निकले थे। जब कुछ लोग उन्हें घर लेकर आए, तब हमारी नींद खुली। उनके सिर पर, पैर और शरीर पर चोट के निशान थे। सलमान ने बताया कि उन्हें पता चला है कि उनके पिता को शिव विहार इलाके में रोका गया था और उनसे नाम पूछा गया था। नाम बताने के बाद लोगों ने उन्हें पीटना शुरू कर दिया।

पुलिस के अनुसार, दिल्ली हिंसा के मामले में 123 एफआईआर दर्ज की गई हैं। 630 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इलाके में शांति कायम करने के लिए पीस कमेटी का गठन किया गया है। पीस कमेटी हिंसा ग्रस्त इलाकों में अभी तक 47 बैठके कर चुकी है।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल ने दो दिन पहले ही घटनास्थल का दौरा किया था। दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों में से 36 की पहचान हो चुकी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली हिंसा के वीडियो में खुलासा- जमीन पर पड़े घायल से जबरन बोलवाया ‘वंदे मातरम’ और ‘जन गण मन’
2 रेलवे ने रद्द कीं 450 से अधिक ट्रेन! देखें कहीं आपकी गाड़ी भी तो इनमें नहीं है
3 राजद्रोह केस में दिल्ली सरकार के कदम पर कन्हैया कुमार ने कहा- ‘धन्यवाद’, उमर खालिद बोले- अब दूध का दूध और पानी का पानी होगा