ताज़ा खबर
 

पाक अखबार ने सर्जिकल स्ट्राइक पर खड़े किए सवाल, केजरीवाल के वीडियो को बनाया आधार

केजरीवाल के वीडियो को आधार बनाकर पाकिस्तानी अंग्रेजी न्यूज पेपर The Express Tribune ने खबर छापी है।
Author नई दिल्ली | October 4, 2016 04:09 am
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा सोमवार को सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर जारी किए गए वीडियों को पाकिस्तान की मीडिया ने भुना लिया है। अरविंद ने  पाकिस्‍तान के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समर्थन किया था। केजरीवाल ने वीडियो संदेश में कहा था, भारतीय सीमा पर हमारी सेना के 19 जवानों को शहीद कर दिया गया। पिछले हफ्ते हमारी सेना ने बहादुरी से इसका बदला लिया और अंदर घुसकर आतंकी कैंप्‍स पर सर्जिकल स्‍ट्राइक किया। मेरे अपने प्रधानमंत्री से 100 मुद्दों पर मतभेद हो सकते हैं लेकिन प्रधानमंत्री ने जो इच्‍छाशक्ति दिखाई है इसके लिए मैं उन्‍हें सैल्‍यूट करता हूं। लेकिन सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद से पाकिस्‍तान बौखला गया है। वह गंदी राजनीति पर उतर आया है। वह अंतरराष्‍ट्रीय पत्रकारों को सीमा पर लेकर गया है। यह दिखाने की कोशिश कर रहा है कि सर्जिकल स्‍ट्राइक तो हुर्इ ही नहीं।

संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी कहा कि ऐसी कोई गोलीबारी नहीं हुई। सीएनएन की रिपोर्ट में भी कहा गया कि पाक सेना कह रही है कि ऐसा कुछ नहीं हुआ। उस रिपोर्ट को देखकर खून खौल उठा बुरी तरह से। बीबीसी वाले, न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स वालों की रिपोर्ट भी चल रही है। पाकिस्‍तान भारत की साख खराब करने में लगा है। मेरी प्रधानमंत्रीजी से अपील है कि जैसे जमीन पर मजा चखाया है वैसे ही पाकिस्‍तान जो झूठा प्रोपगैंडा कर रहा है उसे भी बेनकाब किया जाए। पूरा देश आपके साथ है। हम सबके आपके साथ है। देश से अपील है कि  पाकिस्‍तान के इस प्रोपगैंडा पर भरोसा ना करें।”  इस वीडियो के बाद सोशल मीडिया पर भी केजरीवाल के ऊपर सवाल खड़े किए गए थे कि कहीं केजरीवाल पाकिस्तान का नाम लेकर सर्जीकल स्ट्राइक पर सवालिया निशान तो नहीं लगा रहे। अब केजरीवाल के इस वीडियो को आधार बनाकर पाकिस्तानी अंग्रेजी न्यूज पेपर  The Express Tribune ने खबर छापी है। अखबार ने ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री ने भारत के पाकिस्तान में किए सर्जिकल स्ट्राइक पर खड़े किए सवाल’ के शीर्षक से खबर छापी है। पाकिस्तान पहले दिन से ही भारत के सर्जिकल स्ट्राइक को झूठ करार देता रहा है। ऐसे में उन्होंने अपनी बात सहीं साबित करने के लिए सीएम केजरीवाल की वीडियो का सहारा लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.