दिल्लीः 9 साल की बच्ची की मौत के मामले ने पकड़ा तूल, माता-पिता का आरोप- रेप के बाद हत्या, परिवार से मिलने पहुंचे राहुल गांधी

दलित नाबालिग की संदिग्ध हत्या के मामले में दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने भी जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

Rahul Gandhi, Delhi
दिल्ली में पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी।

दक्षिण पश्चिमी दिल्ली में संदिग्ध परिस्थितियों में एक नाबालिग दलित बच्ची की मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। पुलिस ने बताया कि 9 वर्षीय बच्ची की मौत के मामले में उसके माता पिता ने आरोप लगाया है कि बच्ची का बलात्कार हुआ, जिसके बाद बिना उन्हें पूर्व सूचना दिए रविवार को उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना पर विरोध प्रदर्शन के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी बुधवार को लड़की के परिवार से मिलने पहुंचे। उन्होंने मुलाकात के बाद साफ कहा है कि वे न्याय मिलने तक परिवार के साथ ही खड़े रहेंगे।

क्या बोले राहुल गांधी?: कांग्रेस नेता बुधवार सुबह ही लड़की के परिवार से मिलने पहुंच गए। यहां मुलाकात के बाद लौटते वक्त मीडिया से मुखातिब होते हुए राहुल ने कहा, “मैंने परिवार से बात की और परिवार सिर्फ न्याय मांग रहा है। परिवार कह रहा है कि उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है और उनकी पूरी मदद होनी चाहिए। जब तक उनको न्याय नहीं मिलेगा तब तक राहुल गांधी उनके साथ खड़ा है और एक इंच पीछे नहीं हटेगा।” एक दिन पहले ही राहुल गांधी ने इस घटना को लेकर ट्वीट में कहा था कि दलित की बेटी भी देश की बेटी है। 

महिला आयोग पहले ही कह चुका है जांच की बात: बता दें कि बच्ची की मौत के मामले में पुलिस ने एक पुजारी समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने कहा कि दिल्ली छावनी में बच्ची की मौत के मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं। आयोग को एक अगस्त को अपराह्न 12 बजकर 35 मिनट पर महिला हेल्पलाइन पर कॉल आई थी जिसमें घटना के बारे में जानकारी दी गई।

महिला आयोग ने तत्काल पुलिस थाने में एक टीम को भेजा और प्राथमिकी दर्ज कराने में परिवार की सहायता की। आयोग ने कहा कि मामला बेहद गंभीर है और इसमें तत्काल ध्यान देने की जरूरत है। इसके साथ ही आयोग ने दक्षिण पश्चिमी जिले के पुलिस उपायुक्त को पांच अगस्त या उससे पहले पेश होने और मामले की पूरी फाइल तथा प्राथमिकी की एक प्रति सौंपने को कहा है।

प्रियंका गांधी भी साध चुकी हैं निशाना: इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आरोप लगाया कि गृह मंत्री अमित शाह अपनी जिम्मेदारी नहीं संभाल पा रहे हैं। उन्होंने ट्वीट किया, “दिल्ली के नांगल में नाबालिग बच्ची के साथ हुई घटना दर्दनाक एवं निंदनीय है। सोचिए क्या बीत रही होगी उसके परिवार पर? दिल्ली में कानून व्यवस्था के जिम्मेदार गृहमंत्री जी उत्तर प्रदेश सर्टिफिकेट बांटने गए थे, लेकिन खुद की जिम्मेदारी नहीं संभाल पा रहे हैं। हाथरस से नांगल तक: जंगलराज है।”

आरोपियों पर पॉक्सो-एससी/एसटी एक्ट की धाराओं में केस: दिल्ली में नाबालिग लड़की के बलात्कार और हत्या के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों पर दिल्ली पुलिस के ज्वॉइंट कमिश्नर जसपाल सिंह ने कहा कि इस मामले में आईपीसी, पॉक्सो एक्ट, एससी/एसटी एक्ट की सभी संबंधित धाराओं का इस्तेमाल किया जाएगा। हमने लोगों को आश्वासन दिया है कि हम जल्द से जल्द जांच पूरी करेंगे। मैंने लोगों से आंदोलन खत्म करने की अपील की है।

अपडेट