ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी सरकार ने किया राम मंदिर ट्रस्ट के गठन का ऐलान, EC बोला- घोषणा के लिए हमारी मंजूरी जरूरी नहीं

आयोग की यह प्रतिक्रिया उस सवाल के जवाब के रूप में आई है, जिसमें पूछा गया था कि क्या सरकार को ट्रस्ट संबंधित ऐलान के लिए पैनल से क्लियरेंस लेना होगा?

Delhi Assembly Elections 2020, Delhi Elections, Model Code of Conduct, Election Commission, Ram Janmabhoomi Trust, AAP, EC, Delhi News, National News, Hindi Newsमोदी सरकार ने बुधवार को 15 सदस्यों वाले ट्रस्ट के गठन का ऐलान किया। यही ट्रस्ट भव्य राम मंदिर के निर्माण का काम देखेगा। (फाइल फोटोः एजेंसी)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA सरकार ने Delhi Elections 2020 से ऐन पहले राम मंदिर निर्माण के लिए ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ ट्रस्ट के गठन को मंजूरी दी है। बुधवार को केंद्र ने इस बाबत 15 सदस्यों वाले ट्रस्ट के गठन का ऐलान किया, जो अयोध्या में ‘भव्य’ मंदिर निर्माण का काम-काज देखेगा। Election Commission (EC) ने इसी पर कहा है कि मोदी सरकार द्वारा मंदिर ट्रस्ट के गठन की घोषणा के लिए उसकी आज्ञा की जरूरत नहीं थी।

आयोग की यह प्रतिक्रिया उस सवाल के जवाब के रूप में आई है, जिसमें पूछा गया था कि क्या सरकार को ट्रस्ट संबंधित ऐलान के लिए पैनल से क्लियरेंस लेना होगा? ऐसा इसलिए, क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी में आठ फरवरी, 2020 को मतदान है, जबकि फिलहाल दिल्ली में आर्दश आचार संहिता भी लागू है।

दरअसल, बुधवार को पीएम ने संसद के निचले सदन लोकसभा को बताया कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने राम मंदिर के निर्माण के लिए ट्रस्ट के गठन को मंजूरी दे दी है। वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बोले कि ट्रस्ट में दलित समुदाय के एक सदस्य सहित 15 सदस्य होंगे।

मंत्रालय के मुताबिक, अयोध्या के निश्चित क्षेत्रों का अधिग्रहण कानून, 1993 सात जनवरी 1993 से लागू हुआ और उत्तर प्रदेश के अयोध्या मंडल के संभागीय आयुक्त को क्षेत्र को अधिकार में लेने और इसके प्रबंधन के लिए अधिकृत व्यक्ति नियुक्त किया गया।

अधिसूचना के अनुसार, उच्चतम न्यायालय के नौ नवंबर 2019 के आदेश के आलोक में भारत सरकार ने एक कार्यक्रम को मंजूरी दी, जिसमें ट्रस्ट के कामकाज को लेकर आवश्यक प्रावधान हैं। प्रावधान में मंदिर के निर्माण सहित ट्रस्ट के प्रबंधन, न्यासियों की शक्तियों आदि के प्रावधान हैं। पांच फरवरी के आदेश नंबर 71011/02/2019-एवाई से कार्यक्रम को मंजूर किया गया।

क्या बोले दिल्ली CM केजरीवाल?: AAP संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि ‘‘अच्छे काम’’ के लिए सही समय नहीं होता। बुधवार को पत्रकारों के सामने उन्होंने केंद्र के इस निर्णय का स्वागत किया और देश के लोगों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह अच्छी चीज है।

संवाददाताओं ने जब उनसे पूछा कि आठ फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए क्या केंद्र की भाजपा सरकार ने यह घोषणा की है तो उन्होंने कहा, ‘‘कुछ लोग समय के बारे में पूछ रहे हैं। अच्छे काम के लिए सही समय नहीं होता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं चाहता हूं कि वे आज और कल भी और ज्यादा घोषणाएं करें। कोई समस्या नहीं है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi Elections 2020: प्रवेश वर्मा को फिर झटका! केजरीवाल को ‘आतंकी’ बताने पर EC ने 6 फरवरी की शाम तक प्रचार पर लगाई रोक
2 कश्‍मीरी मां-बाप का दर्द: छह महीने से कैद बेटा, 20 हजार खर्च कर हुई केवल 20 म‍िनट की मुलाकात
3 मोदी सरकार ने पेश किया आंकड़ा, देश में बेरोजगारी दर 6.1 प्रतिशत, 2012 के बाद नहीं बढ़ी बेरोजगारी!
IPL 2020 LIVE
X