ताज़ा खबर
 

Delhi Election 2020: दिल्ली किसकी, आज तय करेंगे मतदाता; शाहीन बाग समेत 144 इलाके संवेदनशील

Delhi Assembly Election 2020: सुरक्षा इंतजाम कड़े करने के साथ ही शाहीन बाग तथा अन्य संवेदनशील मतदान केंद्रों पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है।

नई दिल्ली | Updated: February 8, 2020 3:28 AM
चुनाव के लिए तीन हफ्ते से अधिक समय तक चला तूफानी प्रचार गुरुवार को शाम छह बजे थम गया।

Delhi Election 2020: बेहद आक्रामक चुनाव प्रचार के साथ मतदाताओं को अपनी-अपनी तरफ लुभाने की सभी दलों की हरचंद कोशिशें की जा चुकी हैं और अब दिल्ली के मतदाता शनिवार को अपनी पसंद के उम्मीदवारों पर मुहर लगाएंगे। मतदान सुबह आठ बजे शुरू होकर शाम छह बजे तक चलेगा। शाम छह बजे तक मतदान केंद्र में प्रवेश कर जाने वाले सभी मतदाता अपने वोट डालेंगे। दिल्ली का मुकाबला मुख्य रूप से आम आदमी पार्टी, भाजपा और कांग्रेस के बीच है।

दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रणबीर सिंह के मुताबिक शनिवार को होने वाले 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा चुनाव के मतदान के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सुरक्षा इंतजाम कड़े करने के साथ ही शाहीन बाग तथा अन्य संवेदनशील मतदान केंद्रों पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। दिल्ली में 1.47 करोड़ मतदाता हैं।

सिंह ने कहा कि दिल्ली चुनाव में 1,47,86,382 लोगों को मतदान का अधिकार है जिनमें से 2,32,815 मतदाता 18 से 19 साल के आयुवर्ग के हैं। चुनाव के लिए तीन हफ्ते से अधिक समय तक चला तूफानी प्रचार गुरुवार को शाम छह बजे थम गया। दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए 672 उम्मीदवार मैदान में हैं। विशेष पुलिस आयुक्त (आसूचना) प्रवीर रंजन ने बताया कि शांतिपूर्ण चुनाव के लिए केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 190 कंपनियां तैनात की गई हैं। उन्होंने कहा कि जहां तक संवेदनशील मतदान केंद्रों की बात है तो 516 मतदान केंद्रों पर 3704 बूथ इस श्रेणी में आते हैं।

हाल ही में चुनाव कार्यालय के अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों से मिलकर उन्हें मतदान के लिए प्रोत्साहित किया था। इस बार चुनाव में मोबाइल ऐप, क्यूआर कोड, सोशल मीडिया इंटरफेस जैसी तकनीकों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। दिल्ली के 11 जिलों की एक-एक विधानसभा सीट चुनी गई हैं जिन पर मतदाता मतदान पर्ची बूथ पर नहीं लाने की स्थिति में स्मार्टफोन के जरिए हेल्पलाइन एप्प से क्यूआर कोड प्राप्त कर सकता है।

इस बार दिल्ली की सभी सत्तर विधानसभा सीटों के लिए 2688 भवनों में 13571 मतदान बूथ बनाए गए हैं। दिल्ली में 144 इलाकों को संवेदनशील माना गया है जहां के 516 जगहों पर बने सभी 3141 मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया गया है।

Next Stories
1 ‘वेतन लेकर मक्कारी करेंगे तो डंडे पड़ेंगे, जनता के नौकर हैं, खुद को शहंशाह न समझें’, राहुल के समर्थन में पप्पू यादव का पीएम पर निशाना
2 बंगाल: ममता सरकार के सामने एक न चली गवर्नर जगदीप धनखड़ की, न चाहते हुए भी पढ़ना पड़ा CAA,NRC के खिलाफ लिखित भाषण
3 टीवी डिबेट में शाहीन बाग पर भड़के मुस्लिम स्कॉलर की फिसली जुबान- ‘भाजपा के गंवारों को, स्कूल भेजो सा.. को’
ये पढ़ा क्या ?
X