ताज़ा खबर
 

Delhi Anaj Mandi Fire: हड्डी टूटने के बाद भी फायरमैन राजेश ने बचाई 11 जिंदगियां, दिल्ली अग्निकांड में 43 की मौत

Delhi Anaj Mandi Fire News: दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ट्वीट कर बताया कि दमकलकर्मी राजेश शुक्ला असली हीरो हैं। वह आग वाली जगह घुसने वाले पहले दमकलर्किमयों में शामिल थे और उन्होंने 11 लोगों की जान बचाई है।

Author नई दिल्ली | Updated: December 8, 2019 4:44 PM
दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन दमकलकर्मी राजेश शुक्ला के साथ।, फोटो सोर्स- @SatyendarJain

Delhi Anaj Mandi fire News updates: दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में रविवार को जलती इमारत में सबसे पहले घुसने वाले दमकलर्किमयों में से एक राजेश शुक्ला ने 11 लोगों की जान बचाई। दिल्ली अग्निशमन सेवा के कर्मी शुक्ला को इस बचाव अभियान के दौरान पैर में चोट आई और उनका भी एलएनजेपी अस्पताल में इलाज चल रहा है। इस बचाव अभियान में करीब 150 दमकलकर्मी लगे थे और उन्होंने इमारत से 63 लोगों को बाहर निकाला है। जिसमें 43 लोगों की जान चली गई। दो फायर कर्मी भी चोटिल हुए हैं।

मंत्री ने ट्वीट कर दमकलकर्मी की तारीफ की: दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने अस्पताल में शुक्ला से मुलाकात की। जैन ने मुलकात करने के बाद ट्वीट कर बताया कि दमकलकर्मी राजेश शुक्ला असली हीरो हैं। वह आग वाली जगह घुसने वाले पहले दमकलर्किमयों में शामिल थे और उन्होंने 11 लोगों की जान बचाई है। हड्डी में चोट के बावजूद उन्होंने अंत तक अपना काम किया। इस हीरो की बहादुरी को सलाम। इस दौरान सत्येंद्र जैन के साथ दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन भी मौजूद थे।

Hindi News Today, 08 December 2019 LIVE Updates: बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 कई लोगों की दम घुटने से गई जान: उत्तरी दिल्ली के अनाज मंडी इलाके के एक कारखाने में रविवार सुबह लगी आग में 43 मजदूरों की मौत हो गई जबकि कई अन्य घायल हो गए। बताया जा रहा है कि जब आग लगी तो कई मजदूर गहरी नींद में थे। इमारत में हवा आने-जाने की उचित व्यवस्था नहीं थी इसलिए कई लोगों की जान दम घुटने से चली गई। सभी झुलसे हुए लोगों और मृतकों को आरएमएल अस्पताल, एलएनजेपी और हिंदू राव अस्पताल ले जाया गया, जहां लोग अपने रिश्तेदारों को ढूंढने में लगे हैं।

सरकार ने मुआवजे की घोषणा की: गौरतलब है कि दिल्ली सीएम अरविंद केजरिवाल ने मरने वालों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा का ऐलान किया है। घायलों को 1-2 लाख रुपये इलाज के खर्च के साथ दिए जाएगे। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री राहत कोष से 2-2 लाख रुपये मरने वालों के परिवार को दिया जाएगा।

Next Stories
1 हिरासत में हर आरोपी की हिफाजत करना पुलिस का धर्म, हैदराबाद एनकाउंटर पर फिर बोले रिटायर्ड जज
2 MP: जिंदा जलाने की घमकी देने वाले कांग्रेस MLA के खिलाफ FIR दर्ज कराने थाने पहुंची प्रज्ञा ठाकुर
3 IPC और CrPC में संशोधन पर DGP के सम्मेलन में गृहमंत्री ने लगाई मुहर, एक दिन पहले ही उनकी मिनिस्ट्री ने राज्यों से मांगा है सुझाव
यह पढ़ा क्या?
X