ताज़ा खबर
 

सुनवाई टलने पर शख्स को आया गुस्सा, सनी देओल स्टाइल में तारीख पर तारीख चिल्ला की दिल्ली की कोर्ट में तोड़फोड़

बार एंड बेंच के मुताबिक शनिवार सुबह कोर्ट नंबर 66 का कुछ स्टाफ कोर्ट रूम में बैठकर कंप्यूटर पर कोर्ट की कार्यवाही से संबंधित जरूरी काम निपटा रहा था। इसी दौरान एक शख्स सुबह 10 बजे के करीब राकेश कोर्ट रूम में पहुंचा। उसने कोर्ट रूम में घुसते ही जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया।

नहीं मिली तारीख तो शख्स ने सनी देओल स्टाइल में तारीख पर तारीख चिल्ला की दिल्ली की कोर्ट में तोड़फोड़। (सांकेतिक फोटो)

राजकुमार संतोषी की फिल्म ‘दामिनी’ में सनी देओल तारीख पर तारीख चिल्लाते हुए सामने वाले वकील यानि अमरीश पुरी पर अपना गुस्सा निकलाते हैं, क्योंकि बार-बार केस की सुनवाई स्थगित हो रही थी। दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट में चौथी मंजिल पर स्थित कोर्ट नंबर 66 में भी कुछ इसी तरह का वाकया सामने आया।

बार एंड बेंच के मुताबिक शनिवार सुबह कोर्ट नंबर 66 का कुछ स्टाफ कोर्ट रूम में बैठकर कंप्यूटर पर कोर्ट की कार्यवाही से संबंधित जरूरी काम निपटा रहा था। इसी दौरान एक शख्स सुबह 10 बजे के करीब राकेश कोर्ट रूम में पहुंचा। उसने कोर्ट रूम में घुसते ही जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। इससे पहले कि कोर्ट स्टाफ कुछ समझ पाता उसने कोर्ट रूम में रखी कुर्सियों को उठाकर फर्श पर पटक पटक कर तोड़ना शुरू कर दिया।

शख्स ने पूरे कंप्यूटर सिस्टम को तहस नहस कर दिया। उसने जज की कुर्सी के सामने बनी स्क्रीन को भी तोड़ दिया। छत में लगीं लाइट्स और पंखों को भी तोड़ दिया। कोर्ट स्टाफ ने जब उसे रोकने की कोशिश की तो वो कुर्सी लेकर उन्हें मारने के लिए दौड़ा।

गौरतलब है कि कोरोना की वजह से इस समय ज्यादातर कोर्ट मामलों की सुनवाई ऑनलाइन कर रही है। रोटेशन के हिसाब से हर कोर्ट का कुछ स्टाफ कोर्ट आकर जरूरी काम निपटाता है। इस आक्रामक कार्रवाई से कोर्ट स्टाफ डर गया और उन्होंने वहां से भागकर किसी तरह से अपनी जान बचाई।

जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती आरोपी फरार हो चुका था। विवेचना में पता चला कि आरोपी राकेश शास्त्री पार्क इलाके की झुग्गी में रहता है। किसी ने उसकी झुग्गी पर कब्जा कर लिया था। मामला कोर्ट में चल रहा था। वो धीमी रफ्तार से हो रही सुनवाई को लेकर नाराज था। उसका कहना है कि अदालत केवल सुनवाई के लिए तारीखें दे रही है, जिससे न्याय की प्रक्रिया में देरी हो रही है।

पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और एक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जिसने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। दिल्ली पुलिस ने राकेश पर धारा 186 (सरकारी काम में बाधा डालना), धारा 353 (सरकारी कर्मी के खिलाफ हिंसा), धारा 427 (शरारत) और धारा 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज किया है।

Next Stories
1 Canon से लेकर Nikon तक ये हैं कुछ किफायती DSLR कैमरे, जानें कीमत
2 100-Ball : टी-20 से भी ज्यादा रोमांचक है क्रिकेट का ये फॉर्मेट; गेंदबाजों को नहीं मिलता ओवर, जानिए नो बॉल पर मिलते हैं कितने रन
3 केएल राहुल खेल सकते हैं पहला टेस्ट मैच, जानिए रोहित शर्मा के साथ कौन करेगा ओपनिंग?
ये पढ़ा क्या?
X