ताज़ा खबर
 

पेरिस में पहली बार शस्त्र पूजा कर राफेल में उड़ान भरेंगे रक्षा मंत्री, दशहरा पर शक्ति प्रदर्शन का नया संदेश

फ्रांस की राजधानी में एल्सी पैलेस में मैंक्रो के साथ भेंटवार्ता के बाद सिंह दक्षिण पश्चिमी फ्रांसीसी शहर बोर्डोक्स जायेंगे जहां वह भारतीय वायुसेना द्वारा खरीदे गये पहले राफेल लड़ाकू जेट को सौंपे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। यह कार्यक्रम भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस और दशहरे के दिन होगा ।

Author नई दिल्ली | Updated: October 8, 2019 9:10 AM
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोर्डोक्स में वह पहला राफेल जेट विमान प्राप्त करेंगे। (indian express photo)

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को पेरिस में फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैंक्रो के साथ बैठक करेंगे और बोर्डोक्स में वह पहला राफेल जेट विमान प्राप्त करेंगे। बोर्डोक्स में ही वह दशहरे के मौके पर शस्त्र पूजा करेंगे और राफेल में उड़ान भरेंगे। सिंह ने सोमवार को पेरिस पहुंचने पर ट्वीट किया, ‘‘फ्रांस पहुंचकर खुशी हुई। यह महान देश भारत का अहम सामरिक साझेदार है और हमारा विशेष संबंध औपचारिक संबंधों के क्षेत्र से परे जाता है। फ्रांस की मेरी यात्रा का लक्ष्य दोनों देशों के बीच के वर्तमान सामरिक साझेदारी का विस्तार करना है।’’

फ्रांस की राजधानी में एल्सी पैलेस में मैंक्रो के साथ भेंटवार्ता के बाद सिंह दक्षिण पश्चिमी फ्रांसीसी शहर बोर्डोक्स जायेंगे जहां वह भारतीय वायुसेना द्वारा खरीदे गये पहले राफेल लड़ाकू जेट को सौंपे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। यह कार्यक्रम भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस और दशहरे के दिन होगा । इस मौके पर पारंपरिक ‘शस्त्र पूजा’ के लिए एयरबेस पर प्रबंध किया गया है। शस्त्र पूजा दशहरा का हिस्सा है। शस्त्र पूजा के बाद सिंह इस विमान के दो सीट वाले प्रशिक्षु संस्करण में उड़ान भरेंगे।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘रक्षा मंत्री (सिंह) मेरीग्नैक में फ्रांस के रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले के साथ राफेल को सौंपे जाने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।’’ प्रवक्ता ने कहा,‘‘ वह विजयदशमी के पावन अवसर पर शस्त्र पूजा भी करेंगे और राफेल लड़ाकू विमान में उड़ान भी भरेंगे।’’ इस मौके पर फ्रांस के शीर्ष सैन्य अधिकारी तथा राफेल के विनिर्माता दसाल्ट एविएशन के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

भारत ने करीब 59 हजार करोड़ रुपये मूल्य पर 36 राफेल लड़ाकू जेट विमान खरीदने के लिए सितंबर, 2016 में फ्रांस के साथ अंतर-सरकारी समझौता किया था। वैसे तो सिंह मंगलवार को 36 राफेल जेट विमानों में पहला विमान मंगलवार को प्राप्त कर लेंगे लेकिन चार विमानों का पहला खेप अगले साल मई तक ही भारत आएगा। सभी 36 राफेल जेट विमान सितंबर, 2022 तक भारत पहुंचने की संभावना है। उसके लिए भारतीय वायुसेना जरूरी बुनियादी ढांचा तैयारी करने और पायलटों को प्रशिक्षण देने समेत जरूरी तैयारियां कथित रूप से कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 जम्मू-कश्मीर से पाबंदियां हटाए सरकार, इंटरनेट बंदी से जनजीवन है प्रभावित, अमेरिकी सांसदों के पैनल ने की सिफारिश
2 गंगा साफ हुई नहीं, पर पांच साल में 15 गुना बढ़ गया ‘नमामि गंगे’ का खर्चा, मोदी सरकार का है ड्रीम प्रोजेक्ट
3 National Hindi News, 8 October 2019 Updates: शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर मुद्दे पर दिया बयान, कहा अयोध्या में राम मंदिर के लिए विशेष कानून बने
जस्‍ट नाउ
X