ताज़ा खबर
 

‘देश की अखंडता से किसी कीमत पर समझौता नहीं, सेना किसी भी हरकत का जवाब देने और दुश्मन को हराने में सक्षम’, बोले राजनाथ सिंह

राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान पर हमला करते हुए कहा कि वह आतंकवाद को राजकीय नीति के तौर पर इस्तेमाल करने पर ‘आमादा’ है।

Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: February 3, 2021 1:54 PM
एयरो इंडिया शो का उद्घाटन करने पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह। (फोटो- Twitter/Rajnath Singh)

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक बार फिर कहा है कि भारत एकपक्षवाद और आक्रामकता से अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है। कर्नाटक के बेंगलुरु में चल रहे एयरो इंडिया- 2021 कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से पिछले काफी समय में ऐसी कोशिशें देखीं, जहां हमारे अनिर्धारित सीमाओं को बलपूर्वक एकपक्षीय तरीके से बदलने की कोशिश की गई। उन्होंने दावा किया कि भारत की सेना हर कीमत पर अपनी स्वायत्ता की रक्षा करने और दुश्मन की किसी भी हरकत का जवाब देने में सक्षम है।

बता दें कि भारत और चीन के बीच पिछले साल पांच मई से पूर्वी लद्दाख में सैन्य गतिरोध बना हुआ है। दोनों देशों ने इस गतिरोध को सुलझाने के लिए कई दौर की वार्ता की है, लेकिन इसमें कोई विशेष प्रगति नहीं हुई है। इस बीच चीन की तरफ से पहले कई बार अलग-अलग सेक्टरों में घुसपैठ की कोशिश हुई, जिसे भारतीय सेना ने नाकाम कर दिया।

रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत के सामने अलग-अलग फ्रंट पर चुनौतियां हैं। राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान के बारे में कहा कि वह आतंकवाद को राजकीय नीति के तौर पर इस्तेमाल करने पर ‘आमादा’ है। भारत पड़ोसी द्वारा प्रायोजित आतंकवाद से प्रभावित रहा है, जो कि अब वैश्विक खतरा है। राजनाथ सिंह ने एयरो इंडिया शो में आने के लिए मालदीव, यूक्रेन, गिनी, ईरान, कोमोरोस और मैडागास्कर जैसे देशों के जुड़ने पर भी शुक्रिया अदा किया।

राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में भारत की सैन्य शक्ति बढ़ाने और रक्षा क्षेत्र के साजो-सामान का घरेलू स्तर पर उत्पादन के लिए उठाए जा रहे कदमों का भी उल्लेख किया। उन्होंने बताया कि सरकार अगले सात से आठ साल में रक्षा क्षेत्र में आधुनिकीकरण में 130 अरब डॉलर (करीब 9.5 लाख करोड़ रुपए) खर्च करेगी। सिंह ने कहा, ‘‘ युद्ध रोकने की प्रतिरोधी क्षमता हासिल कर के ही शांति सुनिश्चित की जा सकती है। हमने क्षमता विकास और स्वदेशीकरण के साथ प्रतिरोधी क्षमता निर्माण करने की कोशिश की है।’’

Next Stories
1 दिल्ली हिंसा के आरोपी दीप सिद्धू पर शिकंजा, पुलिस ने घोषित किया 1 लाख का इनाम, क्लू देने पर भी 50 हजार
2 किसान आंदोलन: दिग्विजय सिंह को याद आए अटल, आडवाणी, कहा- कश्मीर से हरियाणा तक पहुंच गया रोग
3 शादी कर कैडर बदलवाया, फिर दूसरी शादी की- जानिए 31 लाख घूस लेने और 38 लाख मांगने के आरोप में गिरफ़्तार एसपी की कहानी
ये  पढ़ा क्या?
X