ताज़ा खबर
 

‘G-23’ सम्मेलन के एक दिन बाद आजाद ने की मोदी की तारीफ, कहा – वे कभी अपनी असलियत नहीं छिपाते

कांग्रेस ने कहा " मेरी तरह मोदी भी एक गांव से हैं और अपनी जड़ों को नहीं भूले हैं। उन्होंने कहा, 'मैं खुद गांव का हूं और मुझे इसका फक्र है। मैं अपने प्रधानमंत्री जैसे नेताओं की काफी प्रशंसा करता हूं जो कहते हैं कि वह गांव से हैं। वह चाय बेचते थे।'

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: March 1, 2021 8:45 AM
ghulam nabi azad on pm modi, congress party reforms, ghulam nabi azad rajya sabha farewell, ghulam nabi azad, pm modiकांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। (RSTV/PTI file photo)

कांग्रेस में संगठन चुनाव कराने और नियमित अध्यक्ष की नियुक्ति की मांग करने वाले नेताओं की मीटिंग के एक दिन बाद हाल ही में राज्यसभा से रिटायर गुलाम नबी आज़ाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की है। कांग्रेस नेता ने कहा कि पीएम एक ऐसे व्यक्ति हैं जो कभी अपना सच्चा स्वभाव को नहीं छिपाते।

रविवार को जम्मू में गुर्जर देश चार्टेबल ट्रस्ट द्वारा आयोजित एक समारोह में बोलते हुए, आजाद ने खुद को पीएम मोदी की तरह बताया। कांग्रेस ने कहा ” मेरी तरह मोदी भी एक गांव से हैं और अपनी जड़ों को नहीं भूले हैं। उन्होंने कहा, ”मैं खुद गांव का हूं और मुझे इसका फक्र है। मैं अपने प्रधानमंत्री जैसे नेताओं की काफी प्रशंसा करता हूं जो कहते हैं कि वह गांव से हैं। वह चाय बेचते थे।’ आजाद ने कहा, ”मोदी के साथ मेरे राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन वह भी अतीत में चायवाला होने के बारे में खुल कर बात करते हैं।’

पूर्व राज्यसभा सांसद आजाद ने कहा, ‘मैं भी एक गाँव से हूं और मुझे इस पर गर्व है। मैं दुनिया के सौ से ज्यादा मुल्कों में घूमा हूं, 5 सितारा औऱ 7 सितारा होटलों में भी ठहरा हूं, लेकिन जब मैं अपने गांव के लोगों से मिलता हूं, फिर चाहे उनके कपड़े ज्यादा धुले हुए न हों, तो अलग सी खुशबू आती है। उसका अलग ही मजा है।”

आजाद की टिप्पणी कई कांग्रेस नेताओं को अच्छी नहीं लगी। तमिलनाडु के जोथिमणि से कांग्रेस सांसद ने ट्वीट कर लिखा “प्रिय गुलाम नबी आज़ाद जी आप को मोदीजी की जितनी तारीफ करनी है करो लेकिन एक बात याद रखना कि उन्होने कश्मीर को दो हिस्सों में बांट दिया है। इसी राज्य और यहां के लोगों ने आपको वो बनाया जो पिछले एक दशक से आप कांग्रेस के साथ थे।”

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने शनिवार को ‘जी-23′ सम्मेलन में कहा था कि सच्चाई तो ये है कि कांग्रेस पार्टी हमें कमजोर होती दिख रही है। इसलिए हम यहां इकट्ठा हुए हैं पहले भी इकट्ठा हुए थे। इकट्ठा होकर हमें इसको मजबूत करना है।” सिब्बल ने कहा कि गांधी जी सचाई पर चलते हैं लेकिन ये सरकार झूठ बोल रही है।”

Next Stories
1 नीतीश कुमारः मुख्यमंत्री बनने के 2 दशक पहले ही कहा था, ‘by hook or by crook, मैं बनूंगा 1 दिन CM’
2 वाम, कांग्रेस व आईएसएफ गठबंधन का जनहित सरकार पर जोर, पर पहले दिन दिखी दरार
3 BJP का समर्थन करना था मेरी सबसे बड़ी गलती- किसान आंदोलन के बीच बोले राकेश टिकैत के भाई नरेश
ये पढ़ा क्या?
X