ताज़ा खबर
 

दाती महाराज पर रेप केस करने वाली लड़की का दावा- बाबा ने कई के साथ किया है ऐसा

पीड़िता ने शनिधाम के संस्थापक पर आरोप लगाया था कि दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रमों मे दाती ने उससे रेप किया। यह मामला सुर्खियों में आने के बाद दिल्ली महिला आयोग (डीडब्ल्यूसी) पहुंचा था। आयोग का कहना था कि दाती को गिरफ्तार किया जाए। फिलहाल दिल्ली पुलिस इस मामले को सुलझाने के लिए जांच-पड़ताल कर रही है।

पीड़िता ने शनि धाम के संस्थापक पर नए आरोप लगाए हैं। (फोटोः यूट्यूब/फेसबुक)

शनि धाम के संस्थापक दाती महाराज पर रेप का मामला दर्ज कराने वाली पीड़िता ने दावा किया है कि बाबा ने कई पीड़िताओं के साथ ऐसा किया है। एक टीवी चैनल से बातचीत में उसने बताया कि बाबा ने न केवल उसकी इज्जत से खिलवाड़ किया, बल्कि अन्य लड़कियों को भी हवस का शिकार बनाया।

बकौल पीड़िता, “मेरे सामने ढेर सारे रात्रि सेवा में जाते थे। मगर जब मेरे साथ कुकर्म हुआ, तब मैं सकते में आ गई थी। मैं जानती हूं कि कई और लड़कियां भी हैं, जिनका रेप हुआ है। शुरुआत में मुझे इस सब का अंदाजा नहीं था। मैं उन्हें भगवान समझती थी। लेकिन जो गंदा काम उन्होंने किया है, उसे माफ नहीं करा जा सकता। आश्रम का मुख्य डायरेक्टर ही लड़कियों को ले जाती थी।”

पीड़िता का यह भी आरोप है कि दाती ने उनसे कुछ दस्तावेजों पर हस्ताक्षर कराए थे। बोलीं, “महाराज ने मुझसे कई दस्तावेजों पर साइन कराए थे। मैं डरी हुई थी, लिहाजा घर वालों को इस बारे में नहीं बता पाई। लेकिन बाद में उन्हें बताया तो उन्होंने मेरा साथ दिया। शिकायत न करती, तो मेरा जमीर जिंदा न रहने देता। आश्रम में हमें बरगलाया जाता था। ऐसा लगता था कि जो वह (दाती) कह रहे हैं, वही सही है।”

हालांकि, दाती महाराज ने पीड़िता के इन आरोपों को गलत और बेबुनियाद ठहराया है। उनका कहना है कि षडयंत्र के तहत उन्हें फंसाने की कोशिश की जा रही है। दाती बोले, “मैं हर जांच के लिए राजी हूं। मैं भगोड़ा नहीं हूं।” मंगलवार (19 जून) को इससे पहले पुलिस ने छह घंटों तक दाती से पूछताछ की थी।

पीड़िता ने शनिधाम के संस्थापक पर आरोप लगाया था कि दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रमों मे दाती ने उससे रेप किया। यह मामला सुर्खियों में आने के बाद दिल्ली महिला आयोग (डीडब्ल्यूसी) पहुंचा था। आयोग का कहना था कि दाती को गिरफ्तार किया जाए। फिलहाल दिल्ली पुलिस इस मामले को सुलझाने के लिए जांच-पड़ताल कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App