ताज़ा खबर
 

गैर कानूनी तरीके से लोगों को विदेश ले जाने के मामले में अदालत में पेश हुए दलेर मेंहदी

गैर कानूनी तरीके से लोगों को विदेश ले जाने के 2003 में दर्ज एक मामले में फंसे पंजाबी पॉप गायक दलेर मेंहदी अदालत में पेश हुए। दलेर गुरुवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट सुखविंदर सिंह की अदालत में पेश हुए।

Author पटियाला | May 27, 2016 2:30 AM
पॉप गायक दलेर मेंहदी

गैर कानूनी तरीके से लोगों को विदेश ले जाने के 2003 में दर्ज एक मामले में फंसे पंजाबी पॉप गायक दलेर मेंहदी अदालत में पेश हुए।  दलेर गुरुवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट सुखविंदर सिंह की अदालत में पेश हुए। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तारीख एक जुलाई मुकर्रर की है। दलेर और उनके भाई शमशेर सिंह पर आरोप है कि उन्होंने कुछ लोगों को अपनी मंडली का सदस्य बताकर गैरकानूनी तरीके से विदेश भेजा। इसके लिए इन्होंने उन लोगों से भारी रकम भी वसूली।

मेहंदी बंधूओं पर आरोप है कि 1998 और 1999 के दौरान वह अपनी दो मंडलियां अमेरिका ले गए थे। इनमें से मंडली के सदस्य बताकर ले जाए गए 10 लोगों को वहां गैर कानूनी तरीके से छोड़ दिया गया था। एक अभिनेत्री के साथ अमेरिकी यात्रा पर गए दलेर ने कथित तौर पर तीन लड़कियों को सैन फ्रांसिस्को छोड़ दिया था। अक्तूबर 1999 में भी दोनों भाई एक बार फिर कुछ अभिनेताओं के साथ अमेरिका गए थे और इस दौरान तीन लड़कों को न्यू जर्सी में छोड़ दिया गया था।
बख्शीश सिंह नाम के शख्स की शिकायत के आधार पर पटियाला पुलिस के दलेर और उनके भाई शमशेर के खिलाफ मामला दर्ज करते ही दलेर बंधूओं के खिलाफ धोखाधड़ी की और 35 शिकायतें दर्ज कराई गई।

शिकायतों में कहा गया है कि दलेर बंधुओं ने उनसे गैरकानूनी तरीके से अमेरिका ले जाने के लिए भारी भरकम रकम वसूली थी लेकिन बाद में वे उन्हें वहां नहीं ले गए। पटियाला पुलिस ने नई दिल्ली में कनॉट प्लेस स्थित दलेर मेहंदी के कार्यालय पर छापा भी मारा था। वहां से कथित तौर पर दी गई भारी भरकम रकम से संबंधित दस्तावेज समेत कई अन्य दस्तावेज जब्त किए गए थे। पटियाला पुलिस ने 2006 में दलेर को निर्दोष बताते हुए उन्हें आरोप मुक्त किए जाने संबंधी दो याचिकाएं दायर की थी। अदालत ने इन्हें यह कहते हुए खारिज कर दिया था,‘न्यायिक फाइल में दलेर के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं और इसमें आगे तफ्तीश की गुंजाइश है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App