ताज़ा खबर
 

दादरी कांड पर बोले महंत आदित्यनाथ- अखलाक के परिवार से वापस लो फ्लैट और मुआवजा, गिरफ्तार लोगों को करो रिहा

लैब की रिपोर्ट आने के बाद गोरखपुर से भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में गिरफ्तार 18 लोगों की रिहाई की मांग की है।

Author नई दिल्ली | June 1, 2016 3:15 PM
मोहम्मद अखलाक की बहन। (Photo Source: Indian Express/ Gajendra Yadav)

दादरी मामले को आठ महीने बीत जाने के बाद फोरेंसिक लैब की रिपोर्ट में सामने आया है कि अखलाक के घर के बाहर से बरामद मांस का टुकड़ा ‘गाय या उसके बछड़े’ का है। लैब की यह रिपोर्ट मंगलवार (31 मई) को जारी की गई है। लैब की रिपोर्ट आने के बाद गोरखपुर से भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में गिरफ्तार 18 लोगों की रिहाई की मांग की है।

आपको बता दें, दिल्ली से सटे दादरी में मोहम्मद अखलाक की गाय का मांस घर में पकाने के शक में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।

Read Also: दादरी कांड: बीफ की रिपोर्ट आने के बाद अखलाक के परिवार के खिलाफ एफआईआर कराने की तैयारी

साथ ही सांसद आदित्यनाथ ने मांग की है कि अखलाक के परिवार को दिया गया मुआवजा और फ्लैट वापस लिया जाए। आदित्यनाथ ने इस मामले को लेकर यूपी की सपा सरकार पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि इस जांच रिपोर्ट ने सेकुलरिज्म और विपक्षी दलों को नंगा कर दिया है।

योगी आदित्यनाथ के साथ ही बिसाहड़ा गांव के रहने वाले एक व्यक्ति (जिसका बेटा अखलाक की मौत के मामले में जेल में है ) का कहना है कि अखलाक के परिवार को दिए गए मुआवजा वापस ले लेना चाहिए।

Read Also: मथुरा के फोरेंसिक लैब ने बताया- अखलाक के घर से मिला मांस गाय या उसके बछड़े का

गौरतलब है कि नोएडा के दादरी के बिसाहड़ा गांव 28 सितंबर की रात मोहम्मद अखलाक के घर में गााय का मांस होने की अफवाह पर उनकी हत्या कर दी गई थी। हमले में अखलाक के पुत्र दानिश को भी जमकर पीटा गया था, जिसके बाद उसको गंभीर हालत में कैलाश हास्पिटल में भर्ती कराया गया।

दादरी कांड से संबंधित खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App