ताज़ा खबर
 

गुजरात की ओर बढ़ा चक्रवाती तूफान तौकते, केरल, कर्नाटक और गोवा में मचाई तबाही

आईएमडी के चक्रवात चेतावनी प्रभाग के मुताबिक, 18 मई तक हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने के आसार हैं जबकि कुछ वक्त के लिए हवा की गति 175 किलोमीटर प्रति घंटे तक भी पहुंच सकती हैं।

Cyclone Tauktae LIVE: रविवार को चक्रवाती तूफान ने गोवा में भयंकर तबाही मचाई (फोटो – पीटीआई)

केरल, कर्नाटक और गोवा के तटीय इलाकों में रविवार को तबाही मचाने के बाद चक्रवात ‘तौकते’ उत्तर में गुजरात की ओर बढ़ गया। चक्रवात के चलते तटीय इलाकों में तेज हवाओं के साथ ही भारी बारिश हुई और समुद्र में ऊंची लहरें उठीं। चक्रवात के कारण हुई घटनाओं की चपेट में आकर छह लोगों की मौत हो गई जबकि सैकड़ों घरों का नुकसान पहुंचा और बिजली के खंभे एवं पेड़ उखड़ गए तथा लोगों को घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा। कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ अगले 24 घंटे में और तीव्र हो सकता है और इसके सोमवार शाम तक गुजरात के तट पर पहुंचने की संभावना है। आईएमडी ने एक बुलेटिन में बताया कि यह मंगलवार तड़के तक पोरबंदर और भावनगर जिले में महुवा के बीच राज्य के तट को पार सकता है। गुजरात में निचले तटीय इलाकों से करीब डेढ़ लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है जबकि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और राज्य
आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की 54 टीमों को तैनात किया गया है।

मुंबई नगरपालिका ने चक्रवाती तूफान तौकते को लेकर जारी चेतावनी के मद्देनजर कोविड-19 टीकाकरण अभियान को 17 मई को तीसरे दिन भी रोके रखने का रविवार को फैसला किया। नगपालिका आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने यह जानकारी दी। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने शुक्रवार को घोषणा की कि भारत मौसम विज्ञान विभाग की चक्रवात संबंधी चेतावनी को ध्यान में रखते हुए 15 और 16 मई को कोई टीकाकरण नहीं किया जाएगा। चहल ने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम अब मंगलवार, बुधवार और बृहस्पतिवार को लागू किया जाएगा।

आईएमडी ने बताया कि उत्तर पूर्वी अरब सागर और गुजरात तट पर (पोरबंदर, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, अमरेली) तथा अपतटीय इलाकों पर हवा की रफ्तार 150-160 से 175 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है तथा 18 मई को तड़के देवभूमि, द्वारका, जामनगर और भावनगर जिलों में हवा की रफ्तार 120-150 से लेकर 165 किलोमीटर प्रतिघंटे हो सकती है। आईएमडी ने कहा कि जूनागढ़ में समुद्र में करीब तीन मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं जबकि तूफान के तट के टकराने के दौरान दीव, गिर सोमनाथ, अमरेली, भरूच, भावनगर, अहमदाबाद, आणंद और सूरत में एक-2.5 मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं तथा इलाकों में पानी भर सकता है।

Next Stories
1 जब मंगलयान लॉन्च हो रहा था तब PM मोदी ISRO सेंटर ऐसे घूमने लगते हैं, जैसे रिसर्च भी उन्होंने किया हो- कोरोना टीका के बहाने रवीश कुमार का तंज
2 कुछ पल देर से आए तो वर्चुअल सुनवाई में जज को नहीं मिली एंट्री, वकीलों को लगानी पड़ी गुहार
3 शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 3,25,730 नए मामले आए, महाराष्ट्र में कवक संक्रमण से अब तक 52 की मौत
ये पढ़ा क्या?
X