ताज़ा खबर
 

Weather Forecast Today, Cyclone Bulbul LIVE Updates: ‘बुलबुल’ के मद्देनजर अलर्ट, पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में सुरक्षा मजबूत

Weather Forecast Today, Cyclone Bulbul LIVE Updates: मौसम विभाग के क्षेत्रीय निदेशक जी के दास ने कहा कि तूफान से राज्य के कच्चे घरों, बिजली तथा संचार सेवाओं और सड़कों को नुकसान हो सकता है।

Author नई दिल्ली | Updated: Nov 09, 2019 10:25:47 pm
चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल'(फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

Weather Forecast Today, Cyclone Bulbul LIVE Updates:  चक्रवात ”बुलबुल” के रविवार तड़के पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के बीच तटों से टकराने का अनुमान है। इस वजह से तटीय इलाकों में भारी बारिश और 135 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की आशंका जताई गई है। मौसम विभाग ने यह जानकारी दी। मौसम विभाग के क्षेत्रीय निदेशक जी के दास ने कहा कि तूफान से राज्य के कच्चे घरों, बिजली तथा संचार सेवाओं और सड़कों को नुकसान हो सकता है। उन्होंने संवेदनशील इलाकों में लोगों को घरों में रहने की सलाह देते हुए आगाह किया इससे पेड़ उखड़ने, फसलें बर्बाद होने और तटबंधों के नष्ट होने की आशंका है।

Weather Forecast Today LIVE Updates, Cyclone Maha

चक्रवाती तूफान ”महा” के कमजोर पड़ने के साथ ही शुक्रवार को मुंबई के कई हिस्सों और आस-पास के इलाकों में भारी बारिश हुई। एक अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को सुबह मुंबई के घाटकोपर, चेंबूर, सांताक्रूज, बोरिवली, कांदिवली और मलाड उपनगर भारी बारिश से प्रभावित रहे। कुछ स्थानों पर बिजली और गरज के साथ बौछारें पड़ीं। जिला आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया कि ठाणे और पालघर जिलों के कुछ हिस्सों में भी भारी बारिश हुई। ठाणे और पालघर जिलों के निचले इलाकों में जलभराव हो गया था। प्राप्त जानकारी के अनुसार पालघर जिले के, समुद्र तट पर बसे दहानू, चिनचनी, बोईसर, सफले और केलवे गांवों में भारी बारिश हुई।

Live Blog

Highlights

    22:11 (IST)09 Nov 2019
    झारखंड में दिखा बुलबुल का असर

    बुलबुल तूफान का असर झारखंड के विभिन्न हिस्सों में देखने को मिला। सुबह से ही बादल छाए रहे। वहीं, हवा के साथ बूंदाबांदी भी हुई। वहीं नावाडीह में दिन भर बादल छाए रहे और कुछ इलाकों में बारिश भी हुई।

    21:35 (IST)09 Nov 2019
    मुंबई में अगले 24 घंटे में बारिश का अनुमान

    मुंबई के मौसम ब्यूरो ने वित्तीय राजधानी में अगले 24 घंटों में बादल छाए रहने के साथ-साथ गरज के साथ छींटे पड़ने या हल्की बारिश होने की संभावना जताई है। एक अधिकारी ने बताया कि बारिश से सड़क और रेल परिवहन अप्रभावित रहा। चक्रवात ‘महा’ गुरुवार को गुजरात तट से दूर अरब सागर में पहुंचा और कमजोर पड़ गया जिसके बाद महाराष्ट्र के कई हिस्सों में मध्यम बारिश हुई।

    20:58 (IST)09 Nov 2019
    पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में सुरक्षा मजबूत

    चक्रवाती तूफान 'बुलबुल' पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप से पहले ही टकरा चुका है। तूफान को को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में सुरक्षा मजबूत कर दी गई है। उन इलाकों में राहत व बचाव टीमें भी मुस्तैद हैं।

    20:18 (IST)09 Nov 2019
    70 किलोमीटर की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

    मौसम विभाग के अनुसार अनुसार कोलकाता में दस नवंबर को भारी बारिश और 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का भी अनुमान है। अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार को कोलकाता से 600 किलोमीटर दूर बना गंभीर चक्रवाती तूफान ''बुलबुल'' शनिवार को और तेज होते हुए उत्तर की ओर बढ़ेगा।

    19:52 (IST)09 Nov 2019
    ‘बुलबुल’ के मद्देनजर बांग्लादेश में अलर्ट

    बंगाल की खाड़ी में एक शक्तिशाली तूफान के बांग्लादेश के दक्षिणपश्चिम और दक्षिण तट पर पहुंचने की आशंका के मद्देनजर वहां अधिकारियों ने 50,000 से अधिक स्वयंसेवकों को तैयार रहने को कहा है। ढाका में मौसम कार्यालय ने सबसे गंभीर तूफान की चेतावनी जारी की। चक्रवात बुलबुल के शनिवार शाम को तट पर पहुंचने की आशंका है।

    19:23 (IST)09 Nov 2019
    ओडिशा में 6 लाख हैक्टयर धान का नुकसान

    ओडिशा में 'बुलबुल' का कहर जारी है। राज्य सरकार ने कहा है कि बुलबुल से 6 लाख हैक्टयर धान का नुकसान हुआ है। सरकार ने नुकसान का सर्वे करने के लिए केंद्र से एक टीम भेजने को कहा है। वहीं बुलबुल की वजह से बंगाल, पूर्वोत्तर राज्यों में तेज हवा, भीषण बारिश देखने को मिलेगीl

    18:34 (IST)09 Nov 2019
    प्रशासन ने लोगों को संवेदनशील क्षेत्रों से हटाया

    ओडिशा के केंद्रापाड़ा में तूफान के चलते लोगों को संवेदनशील क्षेत्रों से हटाया गया है। केंद्रापाड़ा प्रशासन ने अब तक एक हजार से ज्यादा लोगों को हटाया है। वहीं बालासोर और जगतसिंहपुर जिलों में 1500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

    18:10 (IST)09 Nov 2019
    कोलकाता एयरपोर्ट पर विमानों का परिचालन रहेगा बंद

    बेहद शक्तिशाली तूफान ‘बुलबुल’ के कारण कोलकाता एयरपोर्ट पर विमानों का परिचालन आज शाम 6 बजे से कल सुबह 6 बजे तक बंद रहेगी। पश्चिम बंगाल तट पर इस चक्रवात के कारण भूस्खलन की आशंका है।

    17:53 (IST)09 Nov 2019
    मौसम विभाग ने जारी की है ‘रेड वॉर्निंग’

    चक्रवाती तूफान ''बुलबुल'' आज शाम या देर रात तक पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तटों पर दस्तक दे सकता है। मौसम विभाग ने कदम उठाने के लिए ‘रेड वॉर्निंग’ जारी की और प्रशासन से यह सुनश्चित करने को कहा कि मछली पकड़ने की गतिविधियां, नौका सेवाओं आदि को पूरी तरह बंद रखा जाए। उसने प्रभावित इलाकों के लोगों से घरों में रहने की अपील भी की है।

    17:17 (IST)09 Nov 2019
    बांग्लादेश में बड़े पैमाने पर लोगों से इलाका खाली कराया गया

    बांग्लादेश में अधिकारियों ने निचले तटीय गांवों और द्वीपों से करीब 18 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने का शुक्रवार को आदेश दिया। देश में शनिवार शाम को बेहद शक्तिशाली चक्रवाती तूफान के दस्तक देने की आशंका है। आपदा प्रबंधन मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि हजारों लोगों को पहले ही सुरक्षित शिविरों में ले जाया गया है। 10 दक्षिणपश्चिम तटीय जिलों में लोगों से स्थान खाली कराने की प्रक्रिया चल रही है जिनके चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ के ज्यादा चपेट में आने की संभावना है। अब तक तीन लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है।

    16:39 (IST)09 Nov 2019
    ‘बुलबुल’ से ओडिशा में भारी बारिश

    बेहद शक्तिशाली तूफान ‘बुलबुल’ के कारण मध्य ओडिशा के कई हिस्सों में  तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई, पेड़ उखड़ गए और सड़क संपर्क टूट गया। विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पी के जेना ने बताया कि अभी तक कहीं से भी किसी के हताहत होने की खबर नहीं है हालांकि जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा और भद्रक जिलों में कई स्थानों पर बड़ी संख्या में पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए।

    16:15 (IST)09 Nov 2019
    सुबह इतनी दूरी पर था तूफान

    मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि बुलबुल सुबह साढे पांच बजे सागर द्वीप के दक्षिण-दक्षिणपूर्व में 190 किलोमीटर की दूरी पर था जिसके क्रमिक रूप से कमजोर होने और पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप और बांग्लादेश के खेपुपारा के बीच तट पार करने की संभावना है।

    15:56 (IST)09 Nov 2019
    तटरक्षक बल ने बुलबुल के लिए कमर कसी

    भारतीय तटरक्षक बल के र्किमयों ने गंभीर चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ के मद्देनजर किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए कमर कर ली है जिसके पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश तटों के बीच शनिवार देर शाम या रात तक पहुंचने की आशंका है। तटरक्षक बल के महानिरीक्षक राजन बारगोत्रा ने बताया कि पारादीप, धर्मा और सागर द्वीप के तटों पर जहाजों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है।

    15:21 (IST)09 Nov 2019
    तूफान बुलबुलः 3000 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया

    ओडिशा में तूफान बुलबुल के मद्देनजर कुछ तटीय क्षेत्रों में संवेदनशील और निचले इलाकों से करीब 3,000 लोगों को निकाला गया है। राज्य के  मुख्य सचिव असित त्रिपाठी ने बताया कि राज्य सरकार स्थिति पर करीब से नजर रख रही है और इससे निपटने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। 

    15:12 (IST)09 Nov 2019
    ओडिशा के केंद्रपाड़ा में हुई सबसे अधिक बारिश

    चक्रवाती तूफान बुलबुल से मध्य ओडिशा में बारिश हुई। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग  ने बताया कि केंद्रपाड़ा जिले के राजनगर ब्लॉक में शुक्रवार से अब तक सबसे अधिक 180 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी।  भद्रक के चांदबाली में 150 मिमी. और जगतसिंहपुर जिले के तिरतोल में 100 मिमी. बारिश दर्ज की गयी।

    15:00 (IST)09 Nov 2019
    चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ अभी पारादीप से करीब 95 किलोमीटर पूर्व बंगाल की खाड़ी में स्थित

    भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक एच आर बिस्वास ने बताया कि बेहद गंभीर श्रेणी का चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ अभी पारादीप से करीब 95 किलोमीटर पूर्व-उत्तरपूर्व में बंगाल की खाड़ी के उत्तरपश्चिम में है। उन्होंने बताया कि ‘बुलबुल’ से ज्यादातर स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई और मध्य ओडिशा के कुछ इलाकों में भारी से बहुत भारी वर्षा हुई।

    14:43 (IST)09 Nov 2019
    ओडिशा में तूफान बुलबुल की वजह से तेज हवाएं चलीं, कई पेड़ गिरे
    10:21 (IST)09 Nov 2019
    आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में शुष्क रहेगा मौसम
    09:11 (IST)09 Nov 2019
    गंभीर चक्रवाती तूफान का रूप लेगा बुलबुल
    09:09 (IST)09 Nov 2019
    दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में
    09:05 (IST)09 Nov 2019
    70 किलोमीटर की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

    मौसम विभाग के अनुसार अनुसार कोलकाता में नौ और दस नवंबर के बीच भारी बारिश और 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का भी अनुमान है। अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार को कोलकाता से 600 किलोमीटर दूर बना गंभीर चक्रवाती तूफान ''बुलबुल'' शनिवार को और तेज होते हुए उत्तर की ओर बढ़ेगा।

    09:02 (IST)09 Nov 2019
    महाराष्ट्र के ठाणे और पालघर में भरा पानी

    ठाणे और पालघर जिलों के निचले इलाकों में जलभराव हो गया था। प्राप्त जानकारी के अनुसार पालघर जिले के, समुद्र तट पर बसे दहानू, चिनचनी, बोईसर, सफले और केलवे गांवों में भारी बारिश हुई।

    08:37 (IST)09 Nov 2019
    चक्रवात बुलबुल से ओडिशा में बारिश का अनुमान

    बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवात ‘‘बुलबुल’’ और ताकतवर होकर एक भयंकर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है, जिससे ओडिशा के तटवर्ती इलाकों और उसके आस-पास के कई हिस्सों में बारिश शुरू हो गई है । मौसम विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी । भुवनेश्वर मौसम केंद्र के निदेशक एच आर बिश्वास ने शुक्रवार को बताया कि पारादीप से करीब 310 किलोमीटर दक्षिण - दक्षिणपूर्व में बंगाल की खाड़ी के ऊपर इस चक्रवात के ओडिशा को घेरते हुए पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की तरफ बढ़ने की संभावना है ।

    08:06 (IST)09 Nov 2019
    उत्तर दिशा की तरफ बढ़ेगा तूफान बुलबुल

    मौसम विभाग के अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार को कोलकाता से 600 किलोमीटर दूर बना गंभीर चक्रवाती तूफान ''बुलबुल'' शनिवार को और तेज होते हुए उत्तर की ओर बढ़ेगा। दास ने कहा, "इसके बाद इसके उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ते हुए 10 नवंबर को तड़के पश्चिम बंगाल के सागर द्वीपसमूह और बांग्लादेश के खेपूपारा के बीच तटों से टकराने की संभावना है।" 

    08:01 (IST)09 Nov 2019
    दिल्ली, चंडीगढ़ में हो सकती है हल्की बारिश

    मौसम विभाग का कहना है कि  दिल्ली चंड़ीगढ़ व आसपास के इलाकों में भी गरज के साथ बारिश का अनुमान है। उधर, बीते 24 घंटे में दिल्ली में 8 मिलीमीटर बारिश हुई। आर्द्रता का स्तर 94 फीसद रहा। मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि आसमान में हल्के बादल छाए रह सकते हैं। राजधानी में अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहा।

    07:57 (IST)09 Nov 2019
    मुंबई में अगले 24 घंटे में बारिश का अनुमान

    मुंबई के मौसम ब्यूरो ने वित्तीय राजधानी में अगले 24 घंटों में बादल छाए रहने के साथ-साथ गरज के साथ छींटे पड़ने या हल्की बारिश होने की संभावना जताई है। एक अधिकारी ने बताया कि बारिश से सड़क और रेल परिवहन अप्रभावित रहा। चक्रवात ‘महा’ गुरुवार को गुजरात तट से दूर अरब सागर में पहुंचा और कमजोर पड़ गया जिसके बाद महाराष्ट्र के कई हिस्सों में मध्यम बारिश हुई।  

    07:53 (IST)09 Nov 2019
    पश्चिम बंगाल में स्कूलों की छुट्टी घोषित

    तूफान बुलबुल के मद्देनजर पश्चिम बंगाल के कोलकाता, नॉर्थ और साउथ 24 परगना, पू्वी और पश्चिमी मिदनापुर, हावड़ा और झारग्राम में शनिवार को सभी सरकारी स्कूलों को बंद रखने की घोषणा की गई है। आईएससीई के सचिव गैरी अराथुन ने बताया कि आईसीएसई के अधिकतर स्कूल शनिवार को बंद रहेंगे।

    07:48 (IST)09 Nov 2019
    ओडिशा में भी एनडीआरएफ की 6 टीमें तैनात

    राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के महानिदेशक एस एन प्रधान ने बताया कि ओडिशा में छह टीमों को तैनात किया गया है जबकि शेष को रिजर्व में रखा गया है। इसी प्रकार पश्चिम बंगाल में दस टीमों को तैनात किया गया है जबकि शेष को तैयार रखा गया है। उन्होंने बताया, ‘‘सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं और हमारी टीमें पश्चिम बंगाल एवं ओडिशा के प्रशासनिक अधिकारियों के संपर्क में हैं ।

    07:44 (IST)09 Nov 2019
    हिमाचल, कश्मीर में बर्फबारी से दिल्ली के प्रदूषण में आएगी गिरावट

    मौसम संबंधी निजी वेबसाइट ने अनुमान लगाया है कि जम्मू व हिमाचल में हुई बर्फबारी से भी दिल्ली के तापमान व प्रदूषण में गिरावट आएगी। साइट के प्रमुख महेश पहलावत ने बताया कि शुष्क व ठंडी हवाएं दिल्ली के वातवरण की नमी को कुछ हद तक सोख लेंगी। इससे प्रदूषक तत्व निचले स्तर पर जमा नहीं होंगे। साथ ही करीब 25 किलोमीटर प्रतिघंटा रफ्तार की हवा चलेगी जो प्रदूषण के तितर-बितर कर देगी। इससे अगले दो तीन दिनों में राजधानी वासियों को राहत मिलेगी।

    07:39 (IST)09 Nov 2019
    जम्मू से लेकर ओडिशा, गुजरात व अन्य इलाकों में भी होगी बारिश

    मौसम विभाग ने पश्चिमी विक्षोभ व तूफान महा व बुलबुल के प्रभाव से देश के कई इलाकों में बारिश का अनुमान लगाया है। जिसमें जम्मू-कश्मीर से लेकर ओडिशा गुजरात व अन्य इलाकों में भी बारिश की संभावना है। इससे मौैसम में सर्दी की आहट होने लगी है। 

    07:35 (IST)09 Nov 2019
    बुलबुल के मद्देनजर पश्चिम बंगाल में एनडीआरएफ की टीमें तैनात

    पश्चिम बंगाल एवं ओडिशा में बुलबुल चक्रवात के मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा मोचन बल ने अपने 34 दस्तों को दोनों राज्यों में तैनात किया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के महानिदेशक एस एन प्रधान ने यहां बताया कि दोनों राज्यों में बल की 17-17 टीमों को तैनात किया गया है और राष्ट्रीय आपदा कार्रवाई बल किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।

    Next Stories
    1 करतारपुर गलियारे का आज उद्घाटन करेंगे प्रधानमंत्री
    2 Ayodhya Verdict: अयोध्या मामले पर आज आएगा फैसला, पीएम मोदी ने की शांति बनाए रखने की अपील
    3 Ayodhya Verdict: राम जन्मभूमि फैसले से पहले छावनी में तब्दील हुई अयोध्या, जमीन से आसमान तक निगरानी