ताज़ा खबर
 

Cyclone Amphan: 190 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आया चक्रवात, उखड़ गए पेड़, लैंपपोस्ट और बिजली के खंभे,12 लोगों की मौत

190 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाले विकराल चक्रवात अम्फान के कारण भारी तबाही हुई और कम-से-कम 10 से 12 लोगों की मौत हो गई।

Cyclone Amphan Tracker LIVE: अम्फान के कुछ देर में पश्चिम बंगाल के तट पर टकराने की संभावना है (source: PTI)

चक्रवाती तूफान अम्फान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में जमकर तबाही मचाई। 190 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाले इस चक्रवात की चपेट में आकार  कम-से-कम 10 से 12 लोगों की मौत हो गई है। चक्रवात दोपहर में करीब ढाई बजे पश्चिम बंगाल में दीघा और बांग्लादेश में हटिया द्वीप के बीच तट पर पहुंचा। चक्रवात के कारण तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही हुई, बड़ी संख्या में पेड़, बिजली के खंभे, लैंपपोस्ट, टेलीफोन टावर, ट्रैफिक सिग्नल उखड़ गए। कच्चे मकानों और पुरानी पक्की इमारतों को भी नुकसान हुआ।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने ऑनलाइन ब्रीफिंग में कहा कि घने बादलों के साथ दोपहर 2 बज कर करीब 30 मिनट पर तूफान का जमीन से टकराना शुरू हो गया। तूफान के मध्य क्षेत्र (आई ऑफ स्टॉर्म) का व्यास करीब 40 किलोमीटर है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें उम्मीद है कि शाम सात बजे तक तूफान पूरी तरह दस्तक दे देगा।’’ महापात्र ने यह भी कहा कि तूफान का पूर्वानुमान सटीक है। उन्होंने कहा कि भारत तूफान की चेतावनी बांग्लादेश को भी जारी कर रहा है। उन्होंने कहा कि अम्फान तूफान कोलकाता और आसपास के क्षेत्रों में शाम तक दस्तक देगा। इस दौरान 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली जोरदार हवाएं चलेंगी जो अधिकतम 135 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती हैं।  

Cyclone Amphan Tracker, Weather Today LIVE Updates: यहां पढ़ें इससे जुड़ी सभी लाइव अपडेट…. 

ओडिशा और पश्चिम बंगाल में बचाव और राहत प्रयासों को बढ़ाने के लिए जेमिनी बोट और चिकित्सा टीमों के साथ 20 बचाव दल भी तैयार हैं। भारतीय नौसेना ने जानकारी दी कि पूर्वी नौसेना कमान बंगाल की खाड़ी के घटनाक्रमों की बारीकी से निगरानी कर रही है और नौसेना अधिकारी पश्चिम बंगाल और ओडिशा संबंधित राज्य प्रशासन के साथ लगातार संचार में हैं ताकि बचाव और राहत कार्यों को बढ़ाया जा सके।

Live Blog

Highlights

    11:19 (IST)21 May 2020
    अग्निशमन की 250 तथा ओडिशा फॉरेस्ट डेवलपमेंट कॉरपोरेशन की 100 यूनिट अब भी तैनात

    भुवनेश्वर में अलग से अग्निशमन की 250 तथा ओडिशा फॉरेस्ट डेवलपमेंट कॉरपोरेशन की 100 यूनिट तैनात की गई हैं। भुवनेश्वर व कोलकाता के मौसम विज्ञानियों के अनुसार, सुंदरवन में लैंडफाल करने के बाद एम्फन बांग्लादेश की तरफ कूच कर गया है। 

    10:56 (IST)21 May 2020
    20 वर्षों में पूर्वी तट से टकराने वाला दूसरा सबसे शक्तिशाली तूफान

    भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान अम्फान रिकॉर्ड 18 घंटे में श्रेणी-1 से श्रेणी-5 के सुपर साइक्लोनिक तूफान में बदल गया। अम्फान बीते 20 वर्षों में पूर्वी तट से टकराने वाला दूसरा सबसे शक्तिशाली तूफान है। इससे पहले 1999 में ओडिशा में आए तुफान ने भारी तबही मचाई थी और इसमें 15 हजार लोगों की जान गई थी।

    10:08 (IST)21 May 2020
    नुकसान का वास्तविक आकलन आज होगा

    पश्चिम बंगाल में भयावह चक्रवात के चलते 12 लोगों की मौत हुई है। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बताया, बुधवार देर रात तक मिली जानकारी के मुताबिक कम से कम 12 लोगों की जान गई है। कई इलाकों में भारी तबाही हुई है। संचार व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित है। सबसे ज्यादा प्रभावित इलाकों मेें पहुंच नहीं बन सकी है। इसलिए नुकसान का वास्तविक आकलन बृहस्पतिवार को ही हो सकेगा। बनर्जी ने कहा, हम कोरोना महामारी से ज्यादा नुकसान इस चक्रवात के कारण झेल रहे हैं।

    09:41 (IST)21 May 2020
    27 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ गया अम्फान

    मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवाती तूफान अम्फान पिछले 6 घंटों के दौरान 27 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ गया है। तूफान कमजोर हो गया है और वो अभी बांग्लादेश के उत्तर-उत्तरपूर्व में 270 किलोमीटर दूर स्थित है। 

    09:24 (IST)21 May 2020
    मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा "नुकसान कितना हुआ इसका अंदाजा लगाने में अभी कुछ दिन लगेंगे"

    बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, 'बंगाल का इतना नुकसान हुआ है कि उसे शब्‍दों में नहीं बयान किया जा सकता। कम से कम 10 से 12 लोगों की मौत हुई है। नुकसान कितना हुआ इसका अंदाजा लगाने में अभी कुछ दिन लगेंगे।

     
    08:38 (IST)21 May 2020
    बड़ी संख्या में पेड़, बिजली के खंभे, लैंपपोस्ट, टेलीफोन टावर, ट्रैफिक सिग्नल उखड़ गए

    तेज हवा और भारी बारिश के कारण भारी नुकसान हुआ है। हवा इतनी तेज थी कि बड़ी संख्या में पेड़, बिजली के खंभे, लैंपपोस्ट, टेलीफोन टावर, ट्रैफिक सिग्नल उखड़ गए। कच्चे मकानों, पुरानी पक्की इमारतें धराशायी हो गईं।

    07:55 (IST)21 May 2020
    बंगाल में तूफान ने भारी तबाही मचाई

    बंगाल की खाड़ी में उठा तूफान एम्फान बुधवार दोपहर करीब 2.30 बजे बंगाल के दीघा और बांग्लादेश के हातिया के बीच कहर बरपाता हुआ तट से टकरा गया। इस दौरान हवा की गति 190 किलोमीटर प्रति घंटे तक थी। बंगाल में तूफान ने भारी तबाही मचाई है।

    07:28 (IST)21 May 2020
    ओडिशा और गंगीय पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद

    अगले 24 घंटों के दौरान तटीय ओडिशा और गंगीय पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है। ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटों तथा उत्तरी तमिलनाडु के तटीय भागों पर बंगाल की खाड़ी में उथल-पुथल मची रहेगी।

    06:27 (IST)21 May 2020
    बंगाल, ओडिशा चक्रवात अम्फान की चपेट में, तीन की मौत, 6.5 लाख को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया

    ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों में बुधवार को 190 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाले विकराल चक्रवाती तूफान अम्फान के कारण भारी तबाही हुयी और कम से कम तीन लोगों की मौत हो गयी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

    06:07 (IST)21 May 2020
    दो की मौत, कारण अस्पष्ट

    चक्रवात के दौरान केंद्रपाड़ा और भद्रक में दो लोगों की मौत होने की सूचना है लेकिन उनकी मौत के कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो सके हैं। अधिकारियों ने बताया कि भद्रक के तिहड़ी इलाके में तीन महीने के एक शिशु की मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि केंद्रपाड़ा में प्राकृतिक कारणों से 67 वर्षीय एक महिला की घर में मौत हो गई। मौत के कारण का पता लगाया जा रहा है। केंद्रपाड़ा के जिलाधिकारी समर्थ वर्मा ने कहा कि तत्काल राहत के रूप में 12,000 रुपये दिए गए हैं और विस्तृत जांच की जा रही है।

    05:55 (IST)21 May 2020
    चक्रवात मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार ही बढ़ रहा है : जेना

    ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पी के जेना ने कहा कि चक्रवात उसी दिशा में आगे बढ़ा, जैसा पुर्वानमुान में कहा गया था। उन्होंने मौसम विभाग खासकर उसके महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र को धन्यवाद दिया और कहा कि उनकी सटीक भविष्यवाणी से स्थिति को संभालने में काफी मदद मिली। चक्रवात के ओडिशा तट से गुजरने के दौरान पुरी, खुर्दा, जगतसिंहपुर, कटक, केंद्रपाडा, जाजपुर, गंजाम, भद्रक और बालासोर जिलों में विभिन्न स्थानों में मंगलवार से भारी बारिश हो रही है।

    05:20 (IST)21 May 2020
    निचले इलाके के 1.41 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया

    ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पी के जेना ने बताया कि ओडिशा के निचले तटीय इलाकों और कच्चे मकानों में रह रहे 1.41 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। उन्होंने बताया कि सुरक्षित तरीके से हटाए गए लोगों को 2,921 आश्रय स्थलों में रखा गया है जहां उन्हें भोजन और अन्य सुविधाएं मुहैया करायी जा रही हैं।

    04:48 (IST)21 May 2020
    चक्रवात ‘अम्फान’ से ओडिशा में भारी बारिश

    चक्रवात ‘अम्फान से ओडिशा में भारी तबाही हुयी है। अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को पश्चिम बंगाल तट की ओर बढ़ रहे चक्रवात के दौरान तेज हवाओं के साथ-साथ भारी बारिश हुयी। इससे बड़ी संख्या में पेड़ उखड़ गए वहीं कई कच्चे मकान भी ढह गए।

    22:04 (IST)20 May 2020
    5500 मकान क्षतिग्रस्त, 2 लोगों की मौत

    बशीरहाट के उप-मंडल अधिकारी (SDO) बिबेक वासमे की शाम 7 बजे के रिपोर्ट के मुताबिक, महाचक्रवात अम्फान के चलते पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना में 5500 मकान क्षतिग्रस्त, 2 लोग मारे गए और 2 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

    20:52 (IST)20 May 2020
    चक्रवाती तूफान अम्फान ने ओडिशा में मचाई भीषण तबाही

    अम्फान चक्रवात ने ओडिशा में भारी तबाही मचाई है। अधिकारियों के मुताबिक बुधवार को पश्चिम बंगाल तट की ओर बढ़ रहे चक्रवात के दौरान तेज हवाओं के साथ-साथ भीषण बारिश हुई है। इससे बड़ी संख्या में पेड़ उखड़ गए, तो वहीं कई कच्चे मकान गिर गए। 

    19:43 (IST)20 May 2020
    बंगाल में दो की मौत

    चक्रवात अम्फान के चलते बंगाल और ओडिशा में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश जारी है। इस तूफान के चलते बंगाल में दो लोगों की मौत हो गई है। वहीं ओडिशा में भी तूफान ने भारी तबाही मचाई है। 

    19:14 (IST)20 May 2020
    पश्चिम बंगाल में अम्फान के चलते भारी बारिश जारी
    18:14 (IST)20 May 2020
    रेल डिब्बों को नुकसान होने का खतरा

    सुपर साइक्लोन  अल्फान के आज पश्चिम बंगाल के तट पर टकराने की आशंका जताई गई, 185 से 155 कि.मी. प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाले तूफान से सबसे बड़ा खतरा रेल सेवाओं पर होने से हावड़ा में रेल कोचों को चेन से बांधा गया है तूफानी हवाओं से रेल के डिब्बों को नुकसान पहुंचाने से रोका जा सके।

    17:20 (IST)20 May 2020
    तूफान और बारिश के बीच राहत और बचाव कार्य में जुटी NDRF की टीम
    17:17 (IST)20 May 2020
    अम्फान चक्रवात का कहर शुरू

    महाचक्रवात अम्फान पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों से गुजर रहा है। इस दौरान सुंदरबन के समीप दीघा और हतिया में जोरदार बारिश देखने को मिली। तेज हवाओं के चलते कई मकान ढह गए, पेड़- पौधों भी उखड़े नजर आए।Image

    16:22 (IST)20 May 2020
    अम्फान पश्चिम बंगाल में तट पर सुंदरबन के पास प्रवेश

    मौसम विभाग के डीजी मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि अम्फान पश्चिम बंगाल में तट पर सुंदरबन के पास प्रवेश कर रहा है। उपग्रह से प्राप्त ताजा चित्र के अनुसार इसकी स्थिति पूर्वाअनुमान के अनुसार ही है। इस तूफान की गति ओडिशा के पाराद्वीप में 106 किमी प्रतिघंटा की स्पीड दर्ज की गई। ओडिशा में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान था, उसी के अनुरूप ही हो रहा है। ये साइक्लोन उत्तर, उत्तर पूर्व दिशा में बढ़ा, धीरे-धीरे हवा की गति बढ़ी और बारिश हुई।

    16:18 (IST)20 May 2020
    अगले 24 घंटे तूफान के लिहाज से काफी अहम

    कोरोना को देखते हुए सभी टीमों के पास पीपीई किट भी उपलब्ध है। अम्फान के हालात पल-पल बदल रहे हैं। अगले 24 घंटे तूफान के लिहाज से काफी अहम हैं। डीजी एसएन प्रधान ने कहा कि लैंडफॉल के बाद एनडीआरएफ का असली काम शुरू होता है। कई जगहों पर रोड क्लियरेंस करने का काम शुरू किया जा चुका है।

    15:39 (IST)20 May 2020
    पश्चिम बंगाल के नादिया और मुर्शिदाबाद जिलों से गुजरने की संभावना है

    मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि इसके कमजोर होकर चक्रवाती तूफान के रूप में पश्चिम बंगाल के नादिया और मुर्शिदाबाद जिलों से गुजरने की संभावना है और इसके बाद यह बृहस्पतिवार दोपहर बाद बांग्लादेश में गहरे दबाव के रूप में पहुंचेगा।

    15:16 (IST)20 May 2020
    लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया

    एनडीआरएफ प्रमुख ने कहा कि संकट की स्थिति को देखते हुए ओडिशा में बालासोर और भद्रक 1.5 लाख और पश्चिम बंगाल के 3.3 लाख को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है।

    Next Stories
    1 कोरोना की जंग में बीजेपी बनाम विपक्ष: यूपी में 20 कांग्रेसियों पर केस दर्ज, तो महाराष्ट्र में बीजेपी नेता पर FIR,सोनिया ने बुलाई बैठक
    2 Migrant Crisis: बसें भेजने पर कांग्रेस MLA ने ही बोला प्रियंका गांधी पर हमला, कहा- ये कैसा क्रूर मजाक?
    3 ‘शराब बेच राजस्व कमाना, विज्ञापन पर पैसा लुटाना, ये कौन सा इकनॉमिक मॉडल है?’ वरिष्ठ पत्रकार ने पूछा तो लोग बोले- सूरज किधर से निकला?
      यह पढ़ा क्या?
    X