ताज़ा खबर
 

सीएम शिवराज ने दी ‘MODI’ की नई परिभाषा, बोले- पीएम के नाम में छिपा है आत्मनिर्भरता का मंत्र

शिवराज ने कहा कि पीएम के नाम में आत्मनिर्भरता का मंत्र छिपा है। शिवराज ने ट्वीट कर कहा "पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत ने हर क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित किये।

Coronavirus, Lockdown, Madhya Pradesh, MP, BJP, MLA, Baghelkhand, Oppose, CM, Shivraj Singh Chauhan, State News, Hindi Newsमध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान। (एक्सप्रेस फोटोः रोहित जैन पारस)

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा हो गया है। इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पीएम की तारीफ करते हुए उनके नाम की परिभाषा बताई है। साथ ही शिवराज ने कहा कि पीएम के नाम में आत्मनिर्भरता का मंत्र छिपा है। शिवराज ने ट्वीट कर कहा “पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत ने हर क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित किये।

शिवराज ने लिखा “MODI नाम का मंत्र भारत के प्रत्येक नागरिक के हृदय में बसा हुआ है। जहां भी जाओ, देश-विदेश में या प्रदेश में, हर जगह आपको मोदी-मोदी के नारे सुनाई पड़ते हैं। ये मंत्र हम सब के हृदय को एक नयी ऊर्जा से भर देता है।” उन्होने आगे कहा कि हमारे यहाँ कहा जाता है कि जो काम करते हैं, नाम उन्हीं का होता है। हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काम का लोहा तो पूरी दुनिया मानती है, लेकिन उनके नाम में भी एक बहुत महत्वपूर्ण संदेश छिपा है।

मध्य प्रदेश के सीएम ने कहा “जब हम बोलते हैं, मोदी-मोदी तो वो एक महान नेता के लिए हम सब का अनन्य प्रेम तो दर्शाता ही है, लेकिन एक नया मंत्र भी दे जाता है। मोदी जी के नाम का पहला अक्षर है M; M से… मोटिवेशनल, मेहनती,…मोदी जी मोटिवेशनल हैं, वे अथक मेहनत करते हैं। इस महान देश को महानतम ऊंचाइयों तक पहुँचाने के लिए हम सब को हमेशा मोटिवेट करते रहते हैं। मोदी जी के नाम का दूसरा अक्षर है O; O से होता है ओजस्वी, ऑपर्चुनिटी,… मोदी जी हमारे ऐसे ओजस्वी नेता हैं जो भारत में छिपी हुई ऑपर्चुनिटी को पहचानते हैं, उसको निखारने का सदैव प्रयास करते हैं। कोरोना की चुनौती को भी उन्होंने अवसर में बदल दिया।

उन्होने कहा “मोदी जी के नाम का तीसरा अक्षर D; D से होती है दूरदर्शिता, डाइनैमिक लीडरशिप, डेव्लपमेंट…मोदी जी की दूरदर्शिता, डाइनैमिक लीडरशिप का ही प्रमाण है जो भारत को डेव्लपमेंट के रास्ते पर तेज रफ्तार से आगे बढ़ा रही है। आज पूरी दुनिया उन्हें विकास पुरुष के नाम से जानती है और मोदी जी के नाम का चौथा और आखिरी अक्षर है I; I से होता है इंडिया, इन्सपाइर, इच्छाशक्ति…मोदी जी हमारे ऐसे नेता हैं जो इंडिया को…भारत को अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए इन्सपाइर करते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मां-बाप की गुजारिश भी नहीं मानी तो सुरक्षाबलों ने हिजबुल के दो आतंकियों को कर दिया ढेर, कुलगांव में सुबह से चल रही थी मुठभेड़
2 19 हाईकोर्ट्स ने प्रवासी मदजूरों की दुर्दशा पर लगाई लताड़, सॉलिसिटर जनरल बोले- लोग चला रहे समानांतर सरकार
3 दस में से नौ प्रवासी मजदूरों का पैसा कंपनियों में फंसा, भुगतान का कर रहे इंतजार, एक-एक का 1.35 लाख रुपये तक है बकाया!