ताज़ा खबर
 

अमित शाह बने रहेंगे बीजेपी अध्यक्ष, चार राज्यों में विधान सभा चुनाव के बाद होगी नए चेहरे की तलाश

पार्टी मीटिंग बाद भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीटिंग में अमित शाह के भाषण के बारे में जानकारी दी है।

गुरुवार (13 जून, 2019) को अमित शाह ने दिल्ली में राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में भाजपा की राज्य इकाइयों के महासचिवों और अध्यक्षों ने भाग लिया। (twitter.com/AmitShah)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का नया राष्ट्रीय अध्यक्ष कौन होगा? इन अटकलों पर फिलहाल के लिए विराम लग गया है। सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि भाजपा के वर्तमान अध्यक्ष अमित शाह ही पद पर बने रहेंगे। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक अमित शाह आगामी राज्यों में विधानसभा चुनावों तक अर्थात दिसंबर तक पार्टी अध्यक्ष बने रहेंगे। भाजपा को संभवत: अगले साल की शुरुआत तक नया अध्यक्ष मिल सकता है।

बता दें कि गुरुवार (13 जून, 2019) को अमित शाह ने दिल्ली में राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में भाजपा की राज्य इकाइयों के महासचिवों और अध्यक्षों ने भाग लिया। अध्यक्ष पद संभालने के बाद से भाजपा को चुनावों में बड़ी जीत दिलाने के बाद आधुनिक ‘चाणक्य’ के नाम से मशहूर हुए अमित शाह से हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, झारखंड और महाराष्ट्र जैसे महत्वपूर्ण चुनावी राज्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की उम्मीद है। इन चारों राज्यों में 2019 में ही चुनाव होने हैं। खबर है कि इन चुनाव के बाद ही भाजपा में संगठनात्मक चुनावों की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

गुरुवार को हुई मीटिंग में पार्टी का ध्यान सदस्यता अभियान शुरू करने पर रहा। भाजपा को उम्मीद है कि आगामी विधानसभा चुनावों से पहले उसकी सदस्यता में बीस फीसदी तक की बढ़ोतरी होगी। भाजपा के अभी 11 करोड़ सदस्य है जिसे 20 फीसदी बढ़ाने का लक्ष्य है। जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वर्तमान में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान सदस्यता अभियान का नेतृत्व कर सकते हैं। इसके लिए भगवा पार्टी के कई बड़े नेता उनकी मदद करेंगे।

वहीं पार्टी मीटिंग बाद भाजपा महासचिव भूपेंद्र यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीटिंग में अमित शाह के भाषण के बारे में जानकारी दी। भूपेंद्र यादव के मुताबिक, ‘अमित शाह ने संगठनात्मक पदाधिकारियों से कहा कि पार्टी 2019 में अब तक की सबसे अधिक 303 सीटें जीतने के बावजूद अपने चुनावी प्रदर्शन के मामले में शीर्ष पर नहीं है।’ भूपेंद्र यादव ने अमित शाह के हवाले से कहा कि पार्टी की पहुंच को नए क्षेत्रों और समाज के वर्गों तक विस्तारित करने की आवश्यकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X