ताज़ा खबर
 

कोरोना संकट नहीं हुआ खत्म, और खतरनाक हो सकती है तीसरी लहर- CSIR ने चेताया

महानिदेशक शेखर सी मांडे ने कहा कि मौजूदा स्थिति से बाहर निकलने के लिए संस्थानों में लगातार सहयोग के साथ ही जलवायु परिवर्तन और जीवाश्म ईंधन पर अति निर्भरता से पैदा होने वाली संकटपूर्ण स्थितियों को टालना भी आवश्यक है।

Author Edited By सचिन शेखर Updated: February 28, 2021 8:57 PM
CSIR,Corona,कोरोना संकट को लेकर CSIR ने चेताया ( सोर्स – एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के महानिदेशक शेखर सी मांडे ने रविवार को आगाह किया कि कोविड-19 संकट अभी समाप्त नहीं हुआ है और अगर महामारी की तीसरी लहर आती है जो उसके गंभीर परिणाम होंगे। उन्होंने कहा कि मौजूदा स्थिति से बाहर निकलने के लिए संस्थानों में लगातार सहयोग के साथ ही जलवायु परिवर्तन और जीवाश्म ईंधन पर अति निर्भरता से पैदा होने वाली संकटपूर्ण स्थितियों को टालना भी आवश्यक है। ऐसी संकटपूर्ण स्थिति से पूरी मानवता के लिए खतरा पैदा हो सकता है।

मांडे यहां राजीव गांधी सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी (आरजीसीबी) द्वारा आयोजित एक डिजिटल कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस कार्यक्रम का विषय कोविड-19 और भारत की प्रतिक्रिया था।उन्होंने स्पष्ट किया कि भारत अभी सामुदायिक प्रतिरोधक क्षमता हासिल करने से दूर है और ऐसे में लोगों को वायरस के संक्रमण से बचने के लिए मास्क पहनना चाहिए। इसके अलावा लोगों को सामाजिक दूरी तथा हाथों की सफाई जैसे उपायों का भी पालन करते रहना चाहिए।

उन्होंने आत्मसंतुष्टि के भाव को लेकर लोगों और वैज्ञानिक समुदाय को आगाह करते हुए कहा कि अगर महामारी की तीसरी लहर आती है तो वह उस चुनौती से कहीं अधिक खतरनाक स्थिति होगी जिसका अब तक देश ने सामना किया है। आरजीसीबी के निदेशक चंद्रभास नारायण ने डिजिटल कार्यक्रम का संचालन किया। मांडे ने वैज्ञानिक समुदाय के सवालों का जवाब देते हुए उम्मीद जतायी कि कोविड-19 टीके कोरोना वायरस के विभिन्न स्वरूपों के खिलाफ प्रभावी होंगे।

महाराष्ट्र में तेजी से बढ़ रहे हैं मामले: महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं। राज्य के कई शहरों में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए प्रशासन की तरफ से सतर्कता बढ़ा दी गयी है। कुछ शहरों में लॉकडाउन भी लगा दिया गया है।

एक्टिव केस के मामले में महाराष्ट्र टॉप पर: देश में कोरोना के एक्टिव केस के मामले मेों महाराष्ट्र टॉप पर है। यहां 72 हजार से अधिक एक्टिव मरीज हैं, जिनका इलाज चल रहा है।

Next Stories
1 स्मृति ईरानी ने काशी में खाए गोलगप्पे, VIDEO देख लोग बोले- मैडम मस्त, जनता त्रस्त
2 ‘ठोंक दो…’, वाली नीति पर हुआ सवाल, CM योगी ने दिया यह जवाब
3 लाइव शो में BJP नेता पर पैनलिस्ट ने चला दी थी चप्पल, VIDEO शेयर कर बोले लोग- चैनल का करो बहिष्कार
ये पढ़ा क्या?
X