ताज़ा खबर
 

मिलिए कश्‍मीर में बदसलूकी के शिकार हुए सीआरपीएफ जवान से, चार महीने से लगातार कर रहा था चुनाव ड्यूटी

जिस जवान के साथ बदसलूकी हुई वह पश्चिम बंगाल का रहने वाला है।

CRPF, CRPF jawan video, kashmir, kashmir crpf jawan, kashmir by poll, jammu kashmir, kashmir violence, srinagar by election, security forces kashmir, kashmir newsसोशल मीडिया पर वायरल हुआ सीआरपीएफ जवान की पिटाई का वीडियो। (Photo Source: Videograb/Facbook:Kashmir news 24×7)

पिछले सप्‍ताह कश्‍मीर से एक वीडियो सामने आया था जिसमें चुनाव कराकर लौट रहे सीआरपीएफ जवान के साथ बदसलूकी दिखाई देती है। वीडियो के अनुसार, जवान के साथ मारपीट होती है और उसका हेलमेट भी गिरा दिया जाता है। सीआरपीएफ जवान नौ अप्रैल को श्रीनगर लोकसभा सीट का उपचुनाव कर अपने साथियों के साथ लौट रहा था। इस वीडियो के सामने आने के बाद कई लोगों ने सीआरपीएफ जवान के संयम की तारीफ की थी। साथ ही यह मांग भी उठी थी कि सुरक्षाबलों से इस तरह का बर्ताव करने वाले लोगों के साथ सख्‍ती बरती जाए।

न्‍यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार, जिस जवान के साथ बदसलूकी हुई वह पश्चिम बंगाल का रहने वाला है। कांस्‍टेबल के पद पर कार्यरत यह जवान अपनी यूनिट के साथ पिछले चार महीने से चुनाव ड्यूटी पर है। कश्‍मीर में चुनाव से पहले उसकी यूनिट ने उत्‍तर प्रदेश और मणिपुर में भी चुनाव कराए थे। सीआरपीएफ ने जवान की पहचान उजागर नहीं की है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि दो और तीन अप्रैल को जवान और उसकी यूनिट को हवाई सेवा के जरिए कश्‍मीर भेजा गया था। वहां से अतिरिक्‍त जाब्‍ते की मांग की गई थी। बताया गया है कि इस तरह से जल्‍दी में इन जवानों को वहां भेज तो दिया गया लेकिन इनके लिए मेस की व्‍यवस्‍था नहीं हो पाई। जवानों ने बाद में खुद ही मेस की व्‍यवस्‍था की। आठ अप्रैल को जवानों को मतदान के लिए तैनात किया गया। रिपोर्ट के अनुसार, जवानों ने बताया कि बड़गाम जिले के चादूरा में धरमबग के बूथ नंबर 65 में उनकी तैनाती थी। यहां पर सुबह होते ही 500-600 लोगों की भीड़ जमा हो गई। कुछ देर बाद इन्‍होंने बूथ पर हमला कर दिया और ईवीएम मशीन तोड़ दी। इसके बाद जवान टूटी हुई ईवीएम लेकर रवाना हो गए। लेकिन भीड़ ने उनका पीछा किया।

एक जवान के हवाले से लिखा गया है कि सेक्‍शन ऑफिसर ने उन्‍हें पलटवार ना करने और हवाई फायर ना करने का आदेश दिया था। क्‍योंकि ऐसा करने पर काफी नुकसान हो सकता था। उनके अनुसार जो वीडियो सामने आया है कि उसमें मारपीट का केवल एक हिस्‍सा ही है। जवानों के अगले बूथ पर पहुंचने और अतिरिक्‍त जाब्‍ता आने के बाद आंसू गैस छोड़कर भीड़ को हटाया गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अरनब गोस्वामी का दावा- एक मीडिया हाउस ने दी धमकी, नेशन वांट्स टु नो बोला तो करवा दूंगा गिरफ्तार
2 वीडियो: मगरमच्छ ने जल में रहकर ले लिया हाथी के बच्चे से बैर, देखिए क्या हुआ नतीजा
3 दिल्ली: 10 साल की बच्ची के रेप मामले की जांच कर रही महिला सब-इंस्पेक्टर पर दर्ज होगी उसी बच्ची के रेप की FIR
IPL 2020 LIVE
X