ताज़ा खबर
 

मुस्‍ल‍िम माकपा नेता ने आरएसएस व‍िचारक के समर्थन में क‍िया ट्वीट, पार्टी ने थमा द‍िया नोटिस

सीपीआई ने जैदी से पूछा कि उन्होंने क्यों हिदुत्व नेता के समर्थन में ट्वीट किया था।

Author नई दिल्ली | September 8, 2017 4:00 PM
सीपीआई नेता अमीर हैदर जैदी। (Photo Source: Facebook)

माकपा (सीपीआई) द्वारा मुस्लिम नेता को नोटिस थमा दिया गया है क्योंकि उन्होंने राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के विचारक राकेश सिन्हा के समर्थन में एक ट्वीट कर दिया था। इस मुस्लिम नेता का नाम अमीर हैदर जैदी है। जैदी ने जुलाई के महीने में आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा का समर्थन करते हुए ट्वीट किया था, जिनपर जुलाई के बीच में पश्चिम बंगाल का सौहार्द बिगाड़ने के आरोप में पश्चिम बंगाल पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इस नोटिस में सीपीआई ने जैदी से पूछा कि उन्होंने क्यों हिदुत्व नेता के समर्थन में ट्वीट किया था। वहीं जैदी ने पार्टी नेताओं से कहा था कि उनका राकेश सिंहा के साथ एक सामाजिक बंधन है जो कि राजनीति और विचारधाराओं से अलग है।

बता दें कि राकेश सिन्हा ने जुलाई में किए अपने एक ट्वीट में लिखा था कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बेनर्जी के दमनकारी नियम के खिलाफ हम अपनी आखिरी सांस तक लड़ेंगे। वहीं इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए अमीर हैदर जैदी ने लिखा ये लड़ाई अकेले राकेश सिन्हा की नहीं है। आज राकेश सिन्हा है कल कोई और भी हो सकता है। ममता सरकार तानाशाह नजर आ रही हैं और राजनीतिक विरोध का यह मतलब नहीं है। अमीर हैदर जैदी के इस ट्वीट का जवाब देते हुए राकेश सिन्हा ने लिखा था शुक्रिया अमीर हैदर जैदी जी, आपका समर्थन वैचारिक बाधाओं से ऊपर उठकर है जो कि लोकतंत्र के लिए बहुत मायने रखता है।

गौरतलब है कि राकेश सिन्हा पर जुलाई में पश्चिम बंगाल में हुए दंगों को लेकर ममता सरकार द्वारा केस दर्ज कराया गया था। सिन्हा ने अपने एक ट्वीट में कहा था कि वे दो सालों से बंगाल नहीं गए हैं और उनपर इस प्रकार का झूठा केस बनाया जा रहा है। राकेश सिन्हा ने लिखा था कि मुझ पर बंगाल में साम्प्रदायिक सद्भाव खराब करने, षड्यंत्र करने, दंगा भड़काने का आरोप लगाकर एफआईआर (224/1917 जुलाई 17) किया गया। दो साल से बंगाल नहीं गया हूं।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App