ताज़ा खबर
 

गोडसे प्रकरण: सीपीआई की मांग- साध्वी प्रज्ञा और हेगड़े को पार्टी से निकाले बीजेपी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले भाजपा नेताओं के बयानों को भाकपा ने दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये कहा है कि भाजपा इन बयानों से खुद को अलग कर तब तक अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकती है, जब तक कि इन नेताओं को पार्टी से निष्काषित नहीं किया जाता है।

Author नई दिल्ली | May 17, 2019 5:02 PM
साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और पीएम नरेन्द्र मोदी, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले भाजपा नेताओं के बयानों को भाकपा ने दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये कहा है कि भाजपा इन बयानों से खुद को अलग कर तब तक अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकती है, जब तक कि इन नेताओं को पार्टी से निष्काषित नहीं किया जाता है। भाकपा ने शुक्रवार को जारी बयान में भोपाल से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर और केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के बयानों को स्वतंत्रता आंदोलन का अपमान करार दिया। पार्टी ने भाजपा से इस मामले में देश से माफी मांगने की मांग की।

उल्लेखनीय है कि प्रज्ञा ठाकुर ने बृहस्पतिवार को कहा था कि महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे सबसे बड़े देशभक्त थे और जो लोग उन्हें आतंकवादी कहते हैं, वे अपनी गिरेबां में झांककर देखें। बाद में, ठाकुर ने माफी मांग कर अपना बयान वापस ले लिया। इसके बाद अनंत कुमार ने भी ट्वीट कर कहा कि गोडसे के प्रति नजरिया बदलने की जरूरत है, माफी मांगने की नहीं। कुछ समय बाद उन्होंने भी अपना ट्वीट हटा दिया।

भाकपा ने कहा कि भाजपा नेताओं के बयान से पार्टी की विचारधारा का पता चलता है। भाकपा ने कहा कि यह ऐतिहासिक तथ्य है कि हिंदू महासभा और आरएसएस की देश के स्वतंत्रता संग्राम में कोई भूमिका नहीं रही, ना ही ये संगठन भारत के धर्मनिरपेक्ष लोकतांत्रिक संविधान से कभी सहमत रहे हैं।
भाकपा ने कहा कि भाजपा को न सिर्फ देश से माफी मांगनी चाहिये बल्कि गांधी जी के बारे में इस तरह के बयान देने वाले नेताओं को भाजपा से निष्कासित करना चाहिये। पार्टी ने मध्य प्रदेश सरकार से प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार करने की भी मांग की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App