ताज़ा खबर
 

‘गोरक्षकों ने 3 साल में मार डाले 44, सौ से ज्यादा हमले भी हुए’, Human Rights Watch की रिपोर्ट में कई दावे

पीएम नरेंद्र मोदी खुद गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा का विरोध कर चुके हैं। पीएम ने कहा था कि गोरक्षा के नाम पर ऐसे कृत्य स्वीकार्य नहीं है।

ह्यूमन राइट्स वॉच ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी की पार्टी बीजेपी हिंदुओं द्वारा पूजे जाने वाली गाय की रक्षा के लिए नीतियों का समर्थन करती है। (reuters photo)

भारत में तीन सालों में कथित गोरक्षक संगठनों ने कम से कम 44 लोगों की हत्या कर दी। इन लोगों को कानूनी एजेंसियों और ‘हिंदू राष्ट्रवादी नेताओं’ की शह मिलती है। ह्यूमन राइट्स वॉच की रिपोर्ट में ऐसा दावा किया गया है। 104 पेज की इस रिपोर्ट में बताया गया है कि मारे गए लोगों में से 36 मुस्लिम समुदाय से थे। न्यूयॉर्क के समूह की इस रिपोर्ट के मुताबिक, मई 2015 से लेकर दिसंबर 2018 के बीच 100 से ज्यादा हमलों में 280 लोग घायल हुए हैं। हालांकि, रिपोर्ट में पुराने आंकड़ों या किसी समयावधि की तुलनात्मक जानकारी नहीं दी गई है।

ह्यूमन राइट्स वॉच ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी की पार्टी बीजेपी हिंदुओं द्वारा पूजे जाने वाली गाय की रक्षा के लिए नीतियों का समर्थन करती है। समूह ने आरोप लगाया कि बीजेपी के सांप्रदायिक बयानबाजियों की वजह से बीफ खाने के विरोध में हिंसक अभियान शुरू हुए। रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि गोरक्षकों के नाम पर हिंसा करने के आरोपियों के खिलाफ पुलिस अक्सर कार्रवाई करने में कोताही बरतती है, वहीं बहुत सारे बीजेपी नेता सार्वजनिक तौर पर इन हमलों को जायज ठहराते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, इस तरह की हिंसा से दलित और आदिवासी भी पीड़ित हैं। एक मानवाधिकार कार्यकर्ता ने विदेशी मीडिया संगठन को बताया कि कई हत्याओं के वीडियो तक बनाए गए, जो बाद में वायरल हो गए। ह्यूमन राइट्स वॉच की रिपोर्ट में गोरक्षकों के ग्रामीण अर्थव्यवस्था के असर के बारे में भी बताया गया है।

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी खुद गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा का विरोध कर चुके हैं। पीएम ने कहा था कि गोरक्षा के नाम पर ऐसे कृत्य स्वीकार्य नहीं है। वहीं, बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने बुधवार को कहा कि पीएम ऐसे तत्वों को अपराधी बता चुके हैं, साथ ही राज्य सरकारों से दरख्वास्त की है कि वे गोरक्षा के नाम पर हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ ऐक्शन लें। राव ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा कांग्रेस पार्टी की सरकारों में भी हुई है। नरसिम्हा के मुताबिक, बीजेपी पर हमले करना विभिन्न संगठनों और अंतरराष्ट्रीय मीडिया का मनपसंद काम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App