ताज़ा खबर
 

डॉक्टर को कोरोना योद्धा कहते हैं और शहीद मानने से भागते हैं, यह पाखंड है- नरेंद्र मोदी सरकार पर आईएमए का आरोप

डॉक्टरों की देश की सबसे बड़ी संस्था इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने नरेंद्र मोदी सरकार पर पाखंड का आरोप लगाया है। आईएमए का कहना है कि डॉक्टर को कोरोना योद्धा कहते हैं और उनकी मौत की गिनती करने की परवाह नहीं करते।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: September 18, 2020 11:01 AM
coronavirus, doctorsकोरोना वायरस महामारी में मारे गए डॉक्टरों का डेटा सरकार के पास नहीं। (रॉयटर्स)

कोरोना वायरस के चलते आम लोगों से साथ-साथ हजारों डॉक्टरों ने भी अपनी जान गवाई है। सरकार कोरोना वायरस से जंग लड़ने वाले डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को फ्रंटलाइन वॉरियर्स या कोरोना वॉरियर्स कह रही है। लेकिन उनकी मौत होने पर उन्हें शहीद का दर्जा नहीं दिया जाता।

डॉक्टरों की देश की सबसे बड़ी संस्था इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने नरेंद्र मोदी सरकार पर पाखंड का आरोप लगाया है। आईएमए का कहना है कि डॉक्टर को कोरोना योद्धा कहते हैं और उनकी मौत की गिनती करने की परवाह नहीं करते। गुरुवार को संसद में सरकार से इन वॉरियर्स की मौत के आंकड़े पूछे गए तो सरकार का कहना है कि उनके पास कोरोना के चलते जान गंवाने वालों या इस वायरस से संक्रमित होने वाले डॉक्टरों व अन्य मेडिकल स्टाफ का डेटा नहीं है।

आईएमए ने कहा कि 382 डॉक्टरों की कोविद -19 से मृत्यु हो गई है और संसद में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि यह राज्य का विषय है और उनके पास कोई डेटा नहीं है। सीनियर डॉक्टरों ने भी सरकार के इस जवाब पर आश्चर्य व्यक्त किया है। सीनियर डॉक्टरों का कहना है कि यह युद्ध में मारे गए सैनिकों की मौत का डेटा नहीं रखने के बराबर है।

आईएमए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर राजन शर्मा ने कहा कि ‘बड़े दुखी मन से यह चिट्ठी लिखी गई है कि विडंबना है कि मेरे डॉक्टर साथी, नर्स, हेल्थ केयर वर्कर्स सारे देश की सेवा में जुटे हुए हैं और अगर हमको स्टेट सब्जेक्ट की तरह बांट दिया जाए तो इससे बड़ी विडंबना मेडिकल सिस्टम में हो नहीं सकती।’

हालांकि, स्वास्थ्य मंत्रालय ने संसदीय सवालों का जवाब देते हुए कहा था कि यह स्वास्थ्य कर्मचारियों के बीच संक्रमण या मौतों का डेटा एकत्र नहीं किया गया,  लेकिन उनकी मृत्यु के बाद उनके परिवारों से प्राप्त बीमा दावों का रिकॉर्ड है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वीडियोः शिवसेना नेता से बोले BJP प्रवक्ता- कान में चम्मच क्यों घुसा रखा है? मिला जवाब- ये ब्लूटूथ है; पात्रा बोले- ‘टूथलेस टाइगर’ के कुछ काम नहीं आएगा
2 Coronavirus in India: स्वास्थ्य मंत्री ने संसद में दिया कोरोना वैक्सीन का लिखित में जवाब, बताया क्या चल रहा है
3 PM की तारीफ में जगदंबिका पाल ने दिया लंबा भाषण, खत्म कराने को खड़े हो गए थे BJP के ही कुछ MP; वाणी को दिया विराम देने पर कई ने कहा- शुक्रिया
यह पढ़ा क्या?
X