scorecardresearch

भारत में 2020 में मौतों का चौथा बड़ा कारण कोरोना, पर महाराष्ट्र-UP समेत सात सूबों में बना दूसरी अहम वजह

2020 में कोरोना महामारी की वजह से हुई 1,60,618 मौतों में से 1,38,713 मामलों में कोविड-19 वायरस की पहचान की गई थी, जबकि 21,905 मामलों में इसकी पुष्टि नहीं हुई थी।

Corona Death,Covid-19
महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक(जुलाई 2022 तक) कुल 5,26, 357 लोगों की मौत हुई है(फोटो सोर्स: PTI/फाइल)।

भारत के रजिस्ट्रार जनरल कार्यालय की तरफ से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2020 में कोविड -19 महामारी की वजह से 1 लाख 60 हजार 618 मौतें हुईं। जिसमें कोरोना से 8.9 प्रतिशत मौतें चिकित्सकीय प्रमाणित हैं। साल 2020 में राष्ट्रीय स्तर पर हुई चिकित्सकीय प्रमाणित मौतों का चौथा सबसे बड़ा कारण कोविड -19 था। जिसकी संख्या 18.11 लाख है।

रिपोर्ट के अनुसार जहां साल 2020 में देश में होने वाली मौतों के लिए कोरोना चौथा बड़ा कारण रहा तो वहीं सात राज्यों में यह दूसरा सबसे बड़ा कारण रहा। जिसमें महाराष्ट्र में 17.7 प्रतिशत, मणिपुर में 15.7 प्रतिशत, उत्तर प्रदेश में 15 प्रतिशत, हिमाचल प्रदेश में 13.5 प्रतिशत, आंध्र प्रदेश में 12 प्रतिशत, पंजाब में 11.9 प्रतिशत और झारखंड में 7.6 प्रतिशत मौतें कोरोना महामारी की वजह से हुईं।

कोरोना की वजह से राज्य की स्थिति- 2020 में महाराष्ट्र (61,212) में सबसे अधिक कोरोना से मौतें हुईं। इसके बाद उत्तर प्रदेश (16,489), कर्नाटक (15,476), आंध्र प्रदेश (12,193) और दिल्ली (8,744) का स्थान रहा। केवल एक राज्य-अरुणाचल प्रदेश- और एक केंद्र शासित प्रदेश-लक्षद्वीप में 2020 के दौरान चिकित्सकीय रूप से प्रमाणित कोविड डेथ की सूचना नहीं है।

2020 में चिकित्सकीय रूप से प्रमाणित मौतें के प्रमुख कारण-

शरीर के सर्कुलेटरी सिस्टम को प्रभावित करने वाले रोग से 32.1 फीसदी, श्वसन प्रणाली से जुड़ी 10 फीसदी मौतें, कोरोना महामारी के चलते 8.9 फीसदी, अन्य संक्रामक रोगों की वजह से 7.1 फीसदी, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज जैसी बीमारियों के चलते 5.8 फीसदी मौतें हुईं। इसके अलावा चोट लगने जहर, व अन्य बाहरी कारणों से 5.6 फीसदी मौेतें हुई। वहीं 11.3 फीसदी मौतें अन्य कारकों की वजह से हुई।

रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली मौतों का एकमात्र सबसे बड़ा कारण ‘शरीर के सर्कुलेटरी सिस्टम को प्रभावित करने वाले रोग’ रहे। जो चिकित्सकीय रूप से प्रमाणित सभी मौतों का 32.1 प्रतिशत था।

रिपोर्ट में 2020 में चिकित्सकीय रूप से प्रमाणित कोविड की मृत्यु का आंकड़ा(1,60,618) आधिकारिक तौर पर दिए गये केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के 2020 के आंकड़ें(1,48,994) से अधिक है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार कोरोना महामारी की शुरुआत से 25 मई 2022 तक भारत में कोरोना की वजह से 5 लाख 24 हजार 507 मौतें दर्ज की गईं।

वहीं 2020 में इस महामारी की वजह से हुई 1,60,618 मौतों में से 1,38,713 मामलों में कोविड-19 वायरस की पहचान की गई थी, जबकि 21,905 मामलों में इसकी पुष्टि नहीं हुई थी।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X