ताज़ा खबर
 

3500 के पार Coronavirus केसों की संख्या, 80% मामले सिर्फ 62 जिलों से; बोले पूर्व RBI गर्वनर- विकसित देशों ने जो किया, वो भारत के लिए दोहाराना असंभव

Covid-19 in India: पिछले 24 घंटों में देशभर में कोरोना संक्रमण के 505 तांजा मामलों की पुष्टि हुई है। इससे खबर लिखे जाने तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,577 पहुंच गई है और 83 लोग इस वायरस के चलते अपनी जान गवां बैठे।

Author Translated By Ikram नई दिल्ली | Updated: April 6, 2020 9:14 AM
कोरोना वायरस का संक्रमण देशभर में लगातार अपना पैर पसार रहा है।

Covid-19 in India: घातक कोरोना वायरस लगातार देशभर में अपने पैर पसार रहा है। पिछले एक सप्ताह के भीतर भारत में कोरोना से संक्रमित मरीजों और इससे होने वाली मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ा रहा है। खास बात है कि देश में कोरोना के 80 फीसदी मामले महज 62 जिलों में दर्ज किए गए हैं। शीर्ष सरकारी सूत्र ने बताया कि 14 अप्रैल को देश में लॉकडाउन खत्म होने के बाद इन जिलों में ये सख्ती लागू रहने की संभावना है। देश में अभी तक 274 जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं।

पिछले 24 घंटों में देशभर में कोरोना संक्रमण के 505 तांजा मामलों की पुष्टि हुई है। इससे खबर लिखे जाने तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,577 पहुंच गई है और 83 लोग इस वायरस के चलते अपनी जान गवां बैठे। बता दें कि 30 मार्च तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,251 थी और 32 मौत के मामले सामने आए थे। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुमानों के अनुसार, COVID-19 मामलों के दोगुने होने की वर्तमान दर 4.1 दिन है, हालांकि ये 7.4 दिन होती अगर तबलीगी जमात का एक कार्यक्रम पिछले महीने दिल्ली के निजामुद्दीन में नहीं हुआ होता।

Coronavirus in India LIVE Updates

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

सूत्रों ने बताया, ‘कोरोना प्रसार में एक स्पष्ट भौगोलिकता है। देश के 62 जिलों में 80 फीसदी से ज्यादा मामले सामने आए हैं। भीलवाड़ा में आक्रामक नियंत्रण रणनीति पर ध्यान केंद्रित करेंगे। हम टेस्टिंग की संख्या बढ़ा रहे हैं। पिछले दो दिनों में टेस्टिंग की संख्या दोगुनी हो गई। अगले कुछ दिनों में ये संख्या फिर से दोगुनी हो जाएगी।’

इसी बीच आरबीआई के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल ने कोरोना वायरस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने एक लेख में कहा कि कोरोना वायरस पर जो विकसित देशों ने किया वो भारत के ललिए दोहराना संभव नहीं है। इसके पीछे पूर्व आईबीआई गर्वनर तर्क देते हुए लिखते हैं चूंकि हमें सीमित वित्तीय स्थान की वास्तविकता का सामना करना होगा। उन्होंने कहा कि भारत का सही ढंग से मापा गया राष्ट्रीय राजकोषीय घाटा निरंतर रूप से अधिक है और यह अधिक बड़ा होने वाला है। राजस्व में तेजी से गिरावट आएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना की जंग नहीं है आसान! केंद्र का अनुमान- संकट से लड़ने को अगले 2 माह में चाहिए होंगे 50 हजार वेंटिलेटर, 2 करोड़ 70 लाख N95 मास्क
2 9 बजे 9 मिनट के लिए रोशनी बंद करने से ग्रिड पर नहीं पड़ा कोई असर
3 मकान मालिक ने फोन कर कहा, इस बार किराया मत देना