Covid-19 Cases in India: पूरे मई में 4254 मौतें, जून के 9 दिन में ही 2311, केस भी मई से सवा लाख ज़्यादा, बस यह एक जगह है अछूता

भारत में लॉकडाउन में ढील देने के ऐलान के बाद से ही कोरोना मरीजों और संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या में जबरदस्त उछाल आया है।

भारत में कोरोनावायरस संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना केसों की बढ़ती संख्या को देखते हुए 24 मार्च को ही लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था। हालांकि, दो महीने कड़े लॉकडाउन के बाद अब जब सरकार ने इसमें ढील का ऐलान किया है, तो कोरोना के केस एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं। पूरे मई में भारत में करीब 1.5 लाख संक्रमण के केस सामने आए थे, जबकि जून महीने के शुरुआती 9 दिनों में ही अब तक 84 हजार नए मामले सामने आ चुके हैं।

भारत में कोरोना से मरने वालों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। मई में देशभर में कुल 4254 लोगों की जान गई थी, जबकि पिछले 9 दिनो में ही 2311 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

COVID-19 Tracker LIVE Updates

आंकड़ों के अनुसार अब तक लक्षद्वीप ही एकमात्र राज्य/ केंद्र शासित प्रदेश है, जहां कोरोना का एक भी केस सामने नहीं आया है। यहां अभी भी सख्त लॉकडाउन लागू है। 9 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना से मौत नहीं हुई हैं। इन राज्यों में गोवा, मणिपुर, पुडुचेरी, नगालैंड, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह, दादरा और नगर हवेली-दमन एंड द्यू और सिक्किम शामिल हैं। वहीं, तीन राज्यों (लद्दाख,  मेघालय, त्रिपुरा) में 1-1 केस हैं।

राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र में पिछले करीब तीन हफ्ते से हर रोज दो हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज हो रहे हैं। वहीं दिल्ली में भी कोरोना के लगातार एक हजार से ज्यादा केस आ रहे हैं। आंकड़ों के लिहाज से बात की जाए, तो संक्रमण में भारत के केसों में 30 फीसदी हिस्सा महाराष्ट्र का ही है। मौतों में भी महाराष्ट्र की देश में 38 फीसदी की हिस्सेदारी है। अकेले मुंबई में ही इस वक्त 51 हजार से ज्यादा केस दर्ज हो चुके हैं, जो कि अन्य किसी भी राज्य से कहीं ज्यादा है।

उदाहरण के तौर पर दूसरे नंबर पर स्थित तमिलनाडु में अभी 34,914 केस हैं और 307 की मौत हुई है। यह भारत में संक्रमण के कुल मामलों का 15 फीसदी ही है। तीसरे नंबर पर स्थित दिल्ली में इस वक्त 31 हजार 309 केस हैं, हालांकि यहां 905 लोगों की जान गई है, जो कि देश में हुई मौतों का 11 फीसदी हिस्सा है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट