ताज़ा खबर
 

एक घंटे के बजाय एक महीना अस्पताल में रह गए घोटाले के आरोपी एनसीपी नेता छगन भुजबल, कोर्ट ने डॉक्टर को ठहराया दोषी

सामाजिक कार्यकर्ता अंजलि दमानिया ने इसके खिलाफ अर्जी दी थी और जे जे अस्पताल व आर्थर रोड जेल के अधिकारियों पर लापरवाही के आरोप लगाए थे

Author January 14, 2017 10:21 AM
छगन भुजबल (File Photo)

मुम्बई की एक विशेष अदालत ने शुक्रवार को जे जे अस्पताल के डीन डॉ. टी पी लहाने को अदालत की अवमानना का दोषी ठहराया है। उनपर धनशोधन मामले में आरोपी एनसीपी नेता छगन भुजबल को एक निजी अस्पताल में अधिक समय तक ठहरने देने का आरोप था। भुजबुल को एक घंटे में हो सकने वाले एक मेडिकल टेस्ट के लिए बोम्बे हॉस्पिटल भेजा गया था, लेकिन वह एक महीने तक अस्पताल में रहे।

गुरुवार को धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) की अदालत के न्यायाधीश पी आर भावके ने सामाजिक कार्यकर्ता अंजलि दमानिया की अर्जी पर सुनावाई की, जिसमें कार्यकर्ता ने राज्य सरकार के जेजे हॉस्पिटल और ऑर्थर रोड जेल के अधिकारियों पर ड्यूटी की लापरवाही के आरोप लगाए थे। न्यायाधीश भावके ने आगे की कार्रवाई के लिए यह मामला बंबई उच्च न्यायालय के पास भेज दिया। न्यायाधीश ने कहा, “(दमानिया के) आवेदन को मंजूर किया जाता है और डीन को अदालत की अवमानना का दोषी ठहराया जाता है। आगे की कार्रवाई के लिए यह मामला बंबई उच्च न्यायालय के पास भेजा जाता है।”

दमानिया इस दलील के साथ पिछले महीने पीएमएलए अदालत पहुंची थीं कि जे जे अस्पताल और आर्थर रोड जेल के अधिकारियों की ड्यूटी की लापरवाही के चलते भुजबल दो नंवबर से बंबई के अस्पताल में ठहरे हुए हैं। भुजबल को अस्पताल ले जाए जाने से पहले ऑर्थर रोड जेल में रखा गया था। भुजबल थैलियम स्कैन के लिए बंबई अस्पताल में गए थे। दमानिया ने भी यह भी आरोप लगाया था कि राकांपा नेता अदालती आदेश का दुरूपयोग कर रहे हैं। भुजबल दिल्ली में महाराष्ट्र सदन के भवन के निर्माण में रिश्वतखोरी एवं धनशोधन के आरोपों में ईडी द्वारा पिछले साल 14 मार्च को गिरफ्तार किए गए थे।

काला हिरण शिकार मामला: हाईकोर्ट ने सलमान और सह-कलाकारों को 25 जनवरी को पेश होने को कहा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App