ताज़ा खबर
 

शराब पी कर वाहन चलाने वाला आदमी फिदायीन बम की तरह: अदालत

नशे की हालत में वाहन चलाते हुए एक आत्मघाती मानव बम की तरह आचरण कर रहा था जो ऐसी अवस्था में वाहन चलाने के दौरान अन्य की जान ले सकता था साथ ही साथ यह उसके लिए भी खतरनाक साबित हो सकता था।

Author नई दिल्ली | July 24, 2016 2:43 PM
court, bail to french women , chili politician murder case

दिल्ली की एक स्थानीय अदालत ने शराब पीकर वाहन चलाने के लिए दोषी ठहराए गए 35 वर्षीय व्यक्ति को मिली जेल की सजा को खारिज करने से इनकार करते हुए कहा कि उसने एक ‘‘आत्मघाती मानव बम’’ की तरह आचरण किया जो ऐसी अवस्था में वाहन चलाते हुए अन्य की जान भी ले सकता था।

बहरहाल, अदालत ने इस बात पर विचार करते हुए कि उसने अपराध पहली बार किया है और उसका दो महीने का बच्चा है उसकी सजा को पांच दिन से घटाकर दो दिन कर दिया। मजिस्ट्रेटी अदालत के आदेश को बरकरार रखते हुए अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश लोकेश कुमार ने कहा, ‘‘मेरी राय में याची इतने अधिक नशे की हालत में वाहन चलाते हुए एक आत्मघाती मानव बम की तरह आचरण कर रहा था जो ऐसी अवस्था में वाहन चलाने के दौरान अन्य की जान ले सकता था साथ ही साथ यह उसके लिए भी खतरनाक साबित हो सकता था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जो तथ्य और परिस्थितियां रिकॉर्ड में लाई गई हैं, उन्हें देखते हुए आदेश में मुझे कोई अवैधता या कमी नहीं दिखती है।’’ बहरहाल, अदालत ने दक्षिण दिल्ली के रहने वाले दोषी इंदरजीत सिंह की याचिका पर कहा कि याचिकाकर्ता 35 वर्ष का है और अपने परिवार का अकेला कमाने वाला सदस्य है, परिवार में दो महीने का बच्चा शामिल है और याची ने पहली बार अपराध किया है। इन तथ्यों को ध्यान में रखते हुए, अगर वह दो दिन की साधारण जेल की सजा काटेगा तो ऐसा प्रतीत होता है कि न्याय का उद्देश्य पूरा होगा।

सिंह ने अपनी अपील में कहा था कि वह अपराधी नहीं है और उससे अपराध पहली बार हुआ है। उसने कहा कि उससे अपराध भूलवश हुआ है जिसके लिए वह माफी मांग चुका है। अदालत ने उस पर 4,000 रूपये का जुर्माना लगाया और उसका ड्राइविंग लाइसेंस छह माह के लिए जब्त कर लिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 संयुक्त राष्ट्र में है तत्काल सुधार की जरूरत: शशि थरूर
2 सभी चिंताओं को दूर होने के बाद ही करेंगे जीएसटी का समर्थन: सिंधिया
3 दयाशंकर सिंह ने इंटरव्यू में मांगी माफी, किया सवाल- क्या मेरी पत्नी-बेटी की इज्जत मायावती से कम है ?
ये पढ़ा क्या?
X