ताज़ा खबर
 

‘दीया-बाती इवेंट’ पर पटाखे फोड़ने वालों के बचाव में उतरे बंगाल BJP चीफ, बोले- आखिर नुकसान कैसा है?

Coronaviurs in India: दिलीप घोष सोमवार को ऐसे लोगों के समर्थन उतर आए जिन्होंने पीएम मोदी की बत्ती बंद अपील के उलट पटाखे फोड़े। उन्होंने कहा कि पटाखे फोड़ने में कुछ भी गलत नहीं है।

भाजपा पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष। (Express photo by Partha Paul/File)

Coronaviurs in India: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘रात नौ बजे, नौ मिनट के लिए दीया’ जलाने की अपील के उलट लोगों के पटाखे फोड़ने पर पश्चिम बंगाल भाजपा इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने सोमवार (6 अप्रैल, 2020) को कहा कि देशभर में लॉकडाउन के बीच ‘खुशी की अभिव्यक्ति’ के रूप में आतिशबाजी करने में कुछ भी गलत नहीं था। पीएम मोदी की अपील के उलट बीते रविवार को कई लोगों ने सड़कों पर आगजनी की, पटाखे जलाए और पेपर लालटेन हवा में छोड़ी।

देश में कोरोना संकट काल के बीच कुछ लोगों द्वारा पटाखे जलाए जाने पर सोशल मीडिया में भी तीखी आलोचना देखने को मिलीं। हालांकि कुछ मामले में पुलिस ने कार्रवाई भी की। कोलकाता में पुलिस ने लॉकडाउन के मानदंडों की अवहेलना के आरोप में 98 लोगों को गिरफ्तार किया। दरअसल पीएम मोदी ने लोगों से आग्रह किया था कि वे अपने घरों की लाइटें बंद करें और कोरोनो वायरस को हराने के लिए देश के ‘सामूहिक संकल्प’ को प्रदर्शित करने के लिए रविवार को रात 9 बजे नौ मिनट के लिए दीपक, मोमबत्तियां या मोबाइल फोन टॉर्च जलाएं।

Coronavirus in India LIVE Updates

दिलीप घोष सोमवार को ऐसे लोगों के समर्थन उतर आए जिन्होंने पीएम मोदी की बत्ती बंद अपील के उलट पटाखे फोड़े। उन्होंने कहा कि पटाखे फोड़ने में कुछ भी गलत नहीं है। अपने बात का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा, ‘लॉकडाउन और कोरोना महामारी के कारण लोग संकट की स्थिति में जी रहे हैं। किसी ने भी उनसे पटाखे फोड़ने के लिए नहीं कहा था। हालांकि अगर वो ऐसा करते हैं तो इसमें नुकसान कैसा है? ये तो खुशी की अभिव्यक्ति है।’

बंगाल भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘मैं उन पर्यावरणविदों से पूछना चाहता हूं जिन्होंने कहा था कि वायु की गुणवत्ता बिगड़ गई है। मगर जब प्रदूषण चरम होगा तो पूरे साल क्या होगा? मैं हर किसी से अनुरोध करूंगा कि इस घटना को मुद्दा न बनाएं।’

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

उल्लेखनीय है कि वरिष्ठ टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बत्ती बंद अपील की आलोचना की थी और कहा था कि भारत महामारी का जश्न मनाने वाला पहला राष्ट्र है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories