ताज़ा खबर
 

टीका पर केंद्र का यू-टर्नः पहले ठोंका था 216 करोड़ डोज का दावा, अब SC में कहा- दिसंबर तक 135 करोड़ खुराक रहेंगी

दरअसल, टॉप कोर्ट द्वारा शुरू किए गए COVID-19 प्रबंधन पर स्वत: संज्ञान मामले में यह हलफनामा दायर किया गया था। 

सीरिंज में कोरोना टीका भरतीं हेल्थ वर्कर। (फोटोः पीटीआई)

भारत के पास इस साल अगस्त से दिसंबर के बीच 135 करोड़ कोरोना वैक्सीन की डोज रहेंगी। यह जानकारी केंद्र सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट को दी गई है।

केंद्र की ओर से कोर्ट में जमा किए गए हलफनामे के मुताबिक, “21 अगस्त 2021 से दिसंबर 2021 तक कोरोना टीकों की अनुमानित उपलब्धता इस प्रकार हैः Covishield- 50 करोड़ डोज, Covaxin- 40 करोड़ खुराक, Bio E sub unit vaccine- 30 करोड़ डोज, Zydus Cadila DNA vaccine- 5 करोड़ खुराक और Sputnik V-10 करोड़ यानी कुल 135 करोड़ डोज। दरअसल, टॉप कोर्ट द्वारा शुरू किए गए COVID-19 प्रबंधन पर स्वत: संज्ञान मामले में यह हलफनामा दायर किया गया था। corona vaccine, india, modi govt, national news

जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस एल नागेश्वर राव और जस्टिस रविंद्र भट्ट की तीन सदस्यीय बेंच ने मामले की सुनवाई की और केंद्र की टीकाकरण की नीति की आलोचना की थी। हलफनामे में यह भी कहा गया कि जनवरी 2021 से 31 जुलाई 2021 के बीच 51.6 करोड़ टीका की खुराक उपलब्ध रहेंगी।

हालांकि, मई में केंद्र ने कहा था कि दिसंबर 2021 तक 216 करोड़ खुराकें उपलब्ध रहेंगी। 13 मई को नीति आयोग सदस्य वीके पॉल ने बताया था, “इस साल अगस्त से दिसंबर तक टीका की 216 करोड़ खुराकें तैयार कर ली जाएंगी।” ऐसे में केंद्र की ओर से बताई गई ताजा संभावित टीकों की संख्या और पिछले डेटा में 81 करोड़ डोज का फर्क है।

टीकाकरण की रफ्तार से भी तय होगी बाजार की दिशाः वृहद आर्थिक आंकड़े, टीकाकरण की रफ्तार और वैश्विक रुख से इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों की दिशा तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय जताई और कहा कि इसके अलावा बाजार की निगाह मानसून की प्रगति पर भी रहेगी। रेलिगेयर ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष शोध अजित मिश्रा ने कहा, ‘‘इस सप्ताह नए माह की भी शुरुआत हो रही है। ऐसे में बाजार भागीदारों की निगाह उच्च चक्रीय संकेतकों मसलन वाहन बिक्री तथा विनिर्माण पीएमआई के आंकड़ों पर रहेगी। साथ ही मानसून की प्रगति पर भी सभी की निगाह रहेगी।’’ मिश्रा ने कहा कि टीकाकरण की रफ्तार उत्साहजनक है। इससे उम्मीद बंधती है कि राज्यों द्वारा अंकुशों में और ढील दी जा सकती है। हालांकि, कोविड के नए वेरिएंट से ये योजनाएं पटरी से उतर सकती हैं।

24 घंटे में 50,040 नए केस, 1,258 मौतेंः देश में कोविड-19 के एक दिन में 50,040 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3,02,33,183 हो गई और उपचाराधीन मामलों की संख्या गिरकर 5,86,403 रह गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार, इस संक्रामक रोग से एक दिन में 1,258 लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 3,95,751 हो गयी। उपचाराधीन मरीजों की संख्या और कम होकर 5,86,403 हो गयी जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.94 प्रतिशत है। स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या लगातार 45वें दिन कोविड-19 के रोज आने वाले मरीजों की संख्या से अधिक है। इस बीमारी से उबरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 2,92,51,029 हो गयी है। मृत्यु दर 1.31 प्रतिशत है।

Next Stories
1 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को DA और पेंशनभोगियों के DR पर हमारी ओर से नहीं जारी किया गया ज्ञापन- वित्त मंत्रालय ने किया साफ
2 PM Modi Mann Ki Baat: कोरोना टीका पर जब ‘मन की बात’ में बोला युवक- मन में डर है, जानें- PM ने कैसे समझाया?
3 कांच की छत, तीन तरफ घूमने वाली कुर्सियां और GPS सिस्टम, पहली बार ट्रेन में इस्तेमाल हुए खास विस्टाडोम कोच, जानें कैसा रहा यात्रियों का अनुभव
ये पढ़ा क्या?
X