ताज़ा खबर
 

Coronavirus Vaccine in India: कोविड-19 के एक दिन में 48,648 नए मामले, कुल संक्रमितों की संख्या 80,88,851 हुई

Coronavirus Vaccine in India: सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया का कहना है कि कोरोना वैक्सीन का पहला बैच अगले साल की दूसरी या तीसरी तिमाही तक उपलब्ध हो सकेगा।

coronavirus, covid 19, covid 19 vaccine, coronavirus vaccineकोरोना के बीच बिहार में सबसे बड़ा चुनाव हो रहा है। राजधानी पटना अपने मताधिकार के इस्तेमाल के लिए लाइन में खड़े लोग। (PTI Photo)

Coronavirus Vaccine in India: कोरोना वायरस का संक्रमण अब भी कम नहीं हुआ है। भारत समेत विश्व के कई देश अब भी इसके प्रकोप में हैं। यहां रोजाना हजारों की संख्या में लोग पॉज़िटिव पाये जा रहे हैं और सैकड़ों लोगों की जान जा रही है। भारत में कोविड-19 के एक दिन में 48,648 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर शुक्रवार को 80,88,851 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों के छह लाख से कम होने के साथ ही संक्रमण से ठीक होने की दर देश में 91 प्रतिशत के पार पहुंच गई है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार वायरस से 563 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,21,090 हो गई है। मंत्रालय ने बताया कि देश में कुल 73,73,375 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और मरीजों के ठीक होने की दर 91.15 प्रतिशत है। वहीं कोविड-19 से मृत्यु दर 1.50 प्रतिशत है।

वहीं टीके सहित प्रतिरक्षात्मक दवाओं का एक प्रमुख निर्माता सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया का कहना है कि कोरोना वैक्सीन का पहला बैच अगले साल की दूसरी या तीसरी तिमाही तक उपलब्ध हो सकेगा। एसआईआई के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा कि हम पहली बार में 100 मिलियन खुराक उपलब्ध कराने के लक्ष्य पर काम कर रहे हैं। यह 2021 के Q2-Q3 तक उपलब्ध हो जाना चाहिए।

वहीं रूस में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल फिलहाल रोक दिया गया है। टीके की ज्यादा मांग और डोज की कमी के चलते नए वालंटियर्स में कोरोना वैक्सीन के ट्रायल पर अचानक रोक लगा दी गई है। गुरुवार को अध्ययन चलाने वाले फर्म के एक प्रतिनिधि ने बताया कि मॉस्को की महत्वाकांक्षी कोरोना वैक्सीन योजना पर रोक लगाना एक झटका है। रूस में कोरोना की वैक्सीन स्पुतनिक वी का 85% लोगों पर कोई साइड इफेक्ट नहीं देखा गया। इस वैक्सीन को गामलेया रिसर्च सेंटर तैयार कर रहा है।

भारत में रूस की कोरोनो वैक्सीन का ट्रायल मार्च के महीने तक खत्म हो सकता है। रूसी वैक्सीन का भारत में ट्रायल कर रही हैदराबाद की फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी ने कहा है कि रूसी वैक्सीन के तीसरे चरण का मानव परीक्षण मार्च तक पूरा होने की उम्मीद है।

Live Blog

Highlights

    16:55 (IST)30 Oct 2020
    कोरोना को लेकर एम्स के निदेशक ने चेताया

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इस बारे में एम्स के निदेशक डॉक्टर गुलेरिया ने 'आजतक' से बातचीत के दौरान तीसरी लहर से इनकार करते हुए कहा कि अभी दूसरी लहर ही है जो फिर से तेज हो गई है। उन्होंने इसके पीछे सावधानी बरतने में ढिलाई का भी उल्लेख किया और कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ठीक से नहीं किया गया। मास्क लगाने में भी ढिलाई बरती गई। उन्होंने लोगों से कोरोना को लेकर सतर्क रहने की अपील की है।

    16:32 (IST)30 Oct 2020
    कोविड-19: महाराष्ट्र में कोरोना का क्या है हाल? पढ़ें

    महाराष्ट्र में गुरुवार को कोरोना से 5902 लोग संक्रमित मिले। मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 16 लाख 66 हजार 668 हो गया है। इनमें 1 लाख 27 हजार 603 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 14 लाख 94 हजार 809 लोग ठीक हो चुके हैं। संक्रमण के चलते अब तक 43 हजार 710 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

    15:59 (IST)30 Oct 2020
    कोरोना के ताजा हालात क्या हैं? पढ़ें

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 48,648 नए मामले रिपोर्ट किए गए हैं। वहीं, इस दौरान वायरस के चलते 563 लोगों की मौत हुई है। देश में कोविड-19 से अब तक कुल 80,88,851 लोग संक्रमित हुए हैं। 

    15:26 (IST)30 Oct 2020
    अमेरिकी बायोटेक्नोलॉजी कंपनी 30,000 व्यक्तियों पर परीक्षण कर रही है

    अमेरिकी बायोटेक्नोलॉजी फर्म मॉडर्न इंक ने गुरुवार को कहा कि वह अगले महीने अपने कोविड -19 वैक्सीन के देर से चरण परीक्षण से शुरुआती आंकड़ों की रिपोर्ट करने के लिए ट्रैक पर है। कंपनी 30,000 व्यक्तियों पर परीक्षण कर रही है, जिसमें कहा गया है कि नवंबर में, एक स्वतंत्र डेटा निगरानी समिति के अपने परीक्षणों की एक अंतरिम समीक्षा करने की उम्मीद है। मॉडर्न एमआरएनए नामक एक टीका विकसित कर रहा है और उसका कहना है कि यह 2021-अंत तक 2 करोड़ खुराक का उत्पादन करने की उम्मीद कर रहा है।

    14:50 (IST)30 Oct 2020
    रूस के पास दो-डोज वाले जैब की पहली खुराक खत्म हो गई थी

    कोरोना की पहली वैक्सीन बनाने का दावा करने वाले रूस ने फिलहाल टीके की बढ़ती मांग और खुराक की कमी के कारण अस्थाई रूप से नए वॉलिंटियर्स को ट्रायल के लिए रोक दिया है। रूस की राजधानी मोस्को के कुछ क्लीनिकों का कहना है कि उनके पास दो-डोज वाले जैब की पहली खुराक खत्म हो गई थी। 

    14:11 (IST)30 Oct 2020
    2021 तक ब्राजील में वैक्सीन के अप्रूव हो जाने की और इस्तेमाल के लिए तैयार होने की पूरी उम्मीद

    ब्राजील के स्वास्थ्य नियामक अन्वेषा के प्रमुख एंटोनियो बर्रा टॉरेस ने कहा जून 2021 तक ब्राजील में वैक्सीन के अप्रूव हो जाने की और इस्तेमाल के लिए तैयार होने की पूरी उम्मीद है। टॉरेस ने कहा, जबकि अन्वेषा ने टीके को मंजूरी देने के लिए आवश्यक न्यूनतम प्रभावकारिता पर फैसला नहीं किया है, अतीत में, नियामक ने 50% से कम प्रभावशीलता वाले टीकों को मंजूरी दी है। ब्राजील में विश्व स्तर पर तीसरे सबसे अधिक मामले हैं।

    13:31 (IST)30 Oct 2020
    73,73,375 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं

    मंत्रालय ने बताया कि देश में कुल 73,73,375 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और मरीजों के ठीक होने की दर 91.15 प्रतिशत है। वहीं कोविड-19 से मृत्यु दर 1.50 प्रतिशत है। मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में 5,94,386 लोगों का कोविड-19 का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 7.35 प्रतिशत है। भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को संक्रमितों की संख्या 40 लाख के पार चली गई थी।

    13:06 (IST)30 Oct 2020
    एक दिन में 48,648 नए मामले सामने आए

    भारत में कोविड-19 के एक दिन में 48,648 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर शुक्रवार को 80,88,851 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों के छह लाख से कम होने के साथ ही संक्रमण से ठीक होने की दर देश में 91 प्रतिशत के पार पहुंच गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार वायरस से 563 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,21,090 हो गई है। मंत्रालय ने बताया कि देश में कुल 73,73,375 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और मरीजों के ठीक होने की दर 91.15 प्रतिशत है। वहीं कोविड-19 से मृत्यु दर 1.50 प्रतिशत है।

    12:13 (IST)30 Oct 2020
    स्पूतनिक-वी वैक्सीन ने भारत में फार्मा कंपनी डॉक्टर रेड्डी लैब्स से हाथ मिलाया है

    रूस ने अपने यहां तैयार स्पूतनिक-वी वैक्सीन के फेज थ्री के ट्रायल के लिए भारत में फार्मा कंपनी डॉक्टर रेड्डी लैब्स से हाथ मिलाया है। वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआइ) ने अनुमति दे दी है। 

    11:48 (IST)30 Oct 2020
    कोरोनो वैक्सीन का ट्रायल मार्च के महीने तक खत्म हो सकता है

    भारत में रूस की कोरोनो वैक्सीन का ट्रायल मार्च के महीने तक खत्म हो सकता है। रूसी वैक्सीन का भारत में ट्रायल कर रही हैदराबाद की फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी ने कहा है कि रूसी वैक्सीन के तीसरे चरण का मानव परीक्षण मार्च तक पूरा होने की उम्मीद है। फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ईरेज़ इजरायल ने कहा कि स्पुतनिक-वी वैक्सीन के मध्य चरण के परीक्षण के लिए रजिस्ट्रेशन अगले कुछ हफ्तों में शुरू होगा और दिसंबर तक इस परीक्षण के समाप्त होने की संभावना है।

    11:27 (IST)30 Oct 2020
    स्पुतनिक वी का 85% लोगों पर कोई साइड इफेक्ट नहीं

    रूस में कोरोना की वैक्सीन स्पुतनिक वी का 85% लोगों पर कोई साइड इफेक्ट नहीं देखा गया। इस वैक्सीन को तैयार करने वाली गामलेया रिसर्च सेंटर के हेड अलेग्जेंडर गिंट्सबर्ग ने सोमवार को इस बारे में जानकारी दी है। 

    10:46 (IST)30 Oct 2020
    रूस में कोरोना की वैक्सीन का ट्रायल फिलहाल रोका

    रूस में कोरोना की वैक्सीन का ट्रायल फिलहाल रोक दिया गया है। टीके की ज्यादा मांग और डोज की कमी नए वालंटियर्स में कोरोना वैक्सीन के ट्रायल पर अचानक रोक लगा दी गई है। गुरुवार को अध्ययन चलाने वाले फर्म के एक प्रतिनिधि ने बताया कि मॉस्को की महत्वाकांक्षी कोरोना वैक्सीन योजना पर रोक लगाना एक झटका है।

    10:10 (IST)30 Oct 2020
    परीक्षण की प्रक्रिया लगभग दिसंबर के अंत तक समाप्त हो जाएगी

    अदार पूनावाला ने कहा, "वर्तमान प्रगति को ध्यान में रखते हुए, मैं कहूंगा कि परीक्षण की प्रक्रिया लगभग दिसंबर के अंत तक समाप्त हो जाएगी, और अगर सब ठीक रहता है तो फिर हम जनवरी में टीका लगवाने में सक्षम हो जाएंगे। हमने पहले ही इसकी सफलता को देखते हुए फैक्ट्री में प्रोडक्शन शुरू कर दी है।"

    09:31 (IST)30 Oct 2020
    कोरोना वैक्सीन 2021 के Q2-Q3 तक उपलब्ध हो जाएगी

    सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ ने कहा कि ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन काफी किफायती होगी। पूनावाला ने कहा, "हम पहली बार में 100 मिलियन खुराक उपलब्ध कराने के लक्ष्य पर काम कर रहे हैं। यह 2021 के Q2-Q3 तक उपलब्ध हो जाना चाहिए।"

    09:05 (IST)30 Oct 2020
    भारत में पॉजिटिविटी रेट 7.54%

    स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक भारत में लगातार पॉजिटिविटी रेट घट रही है वर्तमान में पॉजिटिविटी रेट 7.54% है। वहीं पिछले 24 घंटों में चंडीगढ़ में 80 नए COVID19 मामले सामने आए। पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 14,292 हुई जिसमें 665 सक्रिय मामले, 13,402 ठीक मामले और 225 मौतें शामिल हैं।

    08:49 (IST)30 Oct 2020
    मिज़ोरम में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 38 नए मामले सामने आए

    मिज़ोरम सरकार के सूचना और जनसंपर्क विभाग के मुताबिक मिज़ोरम में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 38 नए मामले सामने आए। कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या अब 2,694 है जिसमें 435 सक्रिय मामले और 2,258 डिस्चार्ज हो चुके मामले शामिल हैं।

    08:08 (IST)30 Oct 2020
    100 मिलियन खुराक का पहला बैच साल 2021 की दूसरी या तीसरी तिमाही तक उपलब्ध होगा

    सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के CEO अदार पूनावाला ने कहा कि SII द्वारा उत्पादित ऑक्सफोर्ड कोरोनावायरस वैक्सीन की 100 मिलियन खुराक का पहला बैच साल 2021 की दूसरी या तीसरी तिमाही तक उपलब्ध हो सकेगा।

    Next Stories
    1 LTC Voucher Scheme: राज्य सरकार के साथ निजी सेक्टर के कर्मचारियों को भी मिलेगा फायदा, जानें कैसे और कितना
    2 रुपहला पर्दा-ओटीटी प्लेटफॉर्म : ‘मिर्जापुर 2’ लीक होने ने उड़ाई नींद, रिलीज के एक दिन पहले ही हो गई लीक
    3 हमारी याद आएगी: जयकिशन- खामोश सुर और सूने टेबल पर जलती मोमबत्ती
    ये पढ़ा क्या?
    X