कोरोना का कोहराम: स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को बताया लापरवाह, यूपी CM ने संक्रमित हो चुके BJP नेता के संपर्क में आने के बाद भी किया चुनाव प्रचार

बकौल हर्षवर्धन, "कैजुअल अप्रोच सामने आया है। लापरवाही का फैक्टर बहुत ज्यादा आया है। चुनाव हुए हैं। कुंभ हैं। परिवहन इत्यादि बहुत अधिक हो रहा है। दफ्तर खुल गए हैं। सामाजिक कार्यक्रम कर रहे हैं। शादियां हो रही हैं, पर 90 फीसदी लोग मास्क के बगैर नजर आते हैं। बस और रेलगाड़ी में संपर्क में आने में आशंका रहती है। आपने ये सारी चीजें देखी-समझी होंगी।"

Author Edited By अभिषेक गुप्ता नई दिल्ली/लखनऊ/कोलकाता | Updated: April 11, 2021 1:09 PM
Coronavirus in India, India News, National Newsकेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार सुबह नौ बजे जारी किए आंकड़ों के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटे में COVID-19 के 1,52,879 नए मामले आए। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

COVID-19/Coronavirus से भारत में फिर से कोहराम मचने लगा है। लोगों की लापरवाही के साथ दिन-प्रतिदिन संक्रमण के ताजा मामले भी बढ़ने लगे हैं। बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,52,879 नए मामले आ गए, जिसके कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,33,58,805 हो गई।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से यह डेटा रविवार सुबह जारी किया गया। साथ ही बताया गया कि 839 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,69,275 हो गई है, जबकि देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 11,08,087 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,20,81,443 है। वहीं, देश में कुल 10,15,95,147 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है। इसी बीच, दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर दस्तक दे चुकी है, जो कि बेहद खतरनाक बताई जा रही है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस पर कहा कि दिल्ली में कोरोना के 65% मरीज़ 35 साल से कम उम्र के हैं। इस वक़्त का पीक नवंबर से भी खतरनाक है। दिल्ली में पिछले 10-15 दिन में कोरोना बहुत तेज़ी से बढ़ा है, दिल्ली में कोरोना की ये चौथी वेव है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में COVID19 के 10,732 केस आए हैं, स्थिति बहुत चिंताजनक है। ​

Coronavirus, Lockdown Updates in India LIVE Updates in Hindi

कोरोना के बढ़ते मामले के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन ने आम लोगों को लापरवाह करार दिया था। हाल ही में 11 राज्यों के हेल्थ मिनिस्टर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना की स्थिति पर समीक्षा बैठक लेते हुए उन्होंने कहा था, “बीते समय में हमने देखा है कि ये (संक्रमण) फैलने में बहुत सारी चीजें बड़े पैमाने पर खुली भी हैं। सारी गतिविधियां चालू हुई हैं, पर लोगों ने कोरोना काल में अपनाया जाने वाले जरूरी बर्ताव (मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग) को एक प्रकार से तिलांजलि दे दी है।”

बकौल हर्षवर्धन, “कैजुअल अप्रोच सामने आया है। लापरवाही का फैक्टर बहुत ज्यादा आया है। चुनाव हुए हैं। कुंभ हैं। परिवहन इत्यादि बहुत अधिक हो रहा है। दफ्तर खुल गए हैं। सामाजिक कार्यक्रम कर रहे हैं। शादियां हो रही हैं, पर 90 फीसदी लोग मास्क के बगैर नजर आते हैं। बस और रेलगाड़ी में संपर्क में आने में आशंका रहती है। आपने ये सारी चीजें देखी-समझी होंगी।”

हर्षवर्धन का दावा- कभी नहीं उतारा मास्क, घर में भी नहीं; पर ये PHOTOS कुछ और ही बोल रहे

हालांकि, कोरोना एसओपी और नियमों के पालन में आम के साथ-साथ खास लोगों की लापरवाही भी सामने आई है। चार राज्यों (बंगाल, असम, केरल और तमिलनाडु) और एक केंद्र शासित प्रदेश (पुदुचेरी) में चुनावी रैलियों, रोडशो, सभाओं और उनसे संबंधित कार्यक्रमों में कई बार दिग्गज नेता भी बगैर मास्क के नजर आए हैं, जिनमें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तक शामिल हैं। ऊपर से कार्यक्रमों में भारी भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग का माखौल उड़ाती दिखी है।

यही नहीं, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने संक्रमित हो चुके भाजपा नेता सुनील बंसल के संपर्क में आने के बाद भी चुनाव प्रचार किया, जिनमें हाल ही में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। दरअसल, छह अप्रैल, 2021 को बीजेपी के 41वें स्थापना दिवस पर प्रदेश मुख्यालय में एक कार्यक्रम में वह सीएम और बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ मौजूद थे। अगले दिन बंसल ने ट्वीट किया कि कोरोना संक्रमित हैं।

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में अपील की, “शुरुआती लक्षण दिखने पर कल (छह अप्रैल) मैंने कोरोना जांच कराई, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। मैंने खुद को आइसोलेट कर लिया है। पिछले दिनों में मेरे संपर्क में आने वाले सभी लोगों से निवेदन है कि वे अपनी जांच करा लें।” इस ट्वीट के कुछ घंटों बाद ही यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ की बंगाल में सभा हुई थी। AAP के संजय सिंह ने इसे मुद्दा बनाते हुए चुनाव आयोग पर ही सवाल उठा दिए थे। पूछा था- ईसी कहां सो रहा है?

Next Stories
1 अर्णब ने पूछा- राजनीति में डुबकी लगाई, पर तैरने से डरते हैं? PK बोले- कोशिश की, सफलता नहीं मिली…आज नहीं तो कल आऊंगा
2 इंटरव्यू में बोले डॉ. हर्षवर्धन- कभी नहीं उतारा मास्क, घर में भी नहीं; पर ये तस्वीरें कुछ और ही बोल रहीं
3 केरल का नाइट गार्ड बना IIM टीचर- जानिए रंजीत रामचंद्रन की कहानी
ये पढ़ा क्या?
X