ताज़ा खबर
 

टीवी एंकर ने बताया नरेंद्र मोदी और सोनिया गांधी में अंतर तो हो गए ट्रोल, यूजर्स दे रहे चैलेंज

Coronavirus Outbreak in india: एंकर ने एक ट्वीट में कोरोना के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा और कथित तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा।

coronavirusप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

Coronavirus Outbreak in india: न्यूज चैनल इंडिया टीवी के एंकर सुशांत सिन्हा अपने एक ट्वीट के चलते सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। दरअसल शनिवार (11 अप्रैल, 2020) को उन्होंने एक ट्वीट में कोरोना के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा और कथित तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा। ट्वीट में सिन्हा ने लिखा, ‘बस इतना सा फर्क है कि पीएम मोदी कहते हैं कि कोरोना वॉरियर्स को सम्मान दीजिए क्योंकि वही असली हीरो हैं जो देश को बचा रहे हैं और सोनिया गांधी कहती हैं कि भीलवाड़ा में कोरोना के खिलाफ बेहतर लड़ाई का सारा श्रेय उनके बेटे राहुल को दीजिए क्योंकि उन्होंने कोरोना के बारे में बताया था।’

Coronavirus in India LIVE Updates

अपने इसी ट्वीट पर इंडिया टीवी के एंकर सिन्हा ट्विटर यूजर्स के निशाने पर आ गए। चिराग शर्मा @ChiragiINC ट्वीट कर लिखते हैं, ‘तुम्हें चैलेंज है कि एक बाइट या वीडियो दिखा दो जिसमे सोनिया गांधी ने कहा हो कि भीलवाड़ा मॉडल का श्रेय राहुल गांधी जी को दिया जाए। चैलेंज है दिखा सकते हो तो बाकी फर्जी पत्रकारिता तो रोज देख ही रहे हैं। प्रशांत भारती @Bhart_09 लिखते हैं, इसे कहते हैं कह के लेना। ज्ञानी व महान लोग हर बड़ी-बड़ी चीजों को भी क्रेडिट दूसरों को दे देते हैं वहीं छोटे लोग दूसरों की हर छोटी-छोटी चीजों के क्रेडिट को भी अपने नाम कर लेते हैं।’ जिमी @jimmypaliwal70 लिखते हैं कि ये साबित नहीं कर सकते।

यहां देखें ट्वीट-

इसी तरह संजय @SanjeevParashar लिखते हैं, ‘सरकार से सवाल करना लोकतंत्र है, विपक्ष का यही कार्य है, माननीय मोदी जी भी यही करते थे, सरकार की कमियां बताते थे। इसका तो लिखित सबूत है राहुल गांधी का 12 फरवरी का ट्वीट जिसमे कोरोना को लेकर चिंता जताई गई थी। थोड़ा शर्म कर लो, शीशे के सामने तो दिन मे 2 बार स्वयं भी खड़े होते हो।’ पुखराज पुरोहित @Shringipukhraj लिखते हैं, ‘जो भीलवाड़ा के हालात काबू करने के लिए गहलोत सरकार को श्रेय दे रहे हैं वो एक बार जयपुर पर भी नजर डाल लें जहां खुद मुख्यमंत्री बैठे हैं, भीलवाड़ा सिर्फ हमारे कलेक्टर चिकित्सक व समस्त मेडिकल टीम और हमारे पुलिस प्रसाशन के अथक परिश्रम से डेंजर जोन से वापस सेफ जोन बना है।’

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

घातक कोरोना वायरस के प्रकोप पर काबू पाने को लेकर राजस्थान का ‘भीलवाड़ा मॉडल’ आज पूरे देश में चर्चा का विषय है। भीलवाड़ा में बढ़ते मामले को देखते हुए जांच की गति बढ़ा दी गई, सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन किया जाने लगा और घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग की जाने लगी। जिले की सीमाओं को सील कर दिया गया, हर किसी की आवाजाही को रोक दिया गया और फिर सरकार द्वारा गठित रैपिड रिस्पॉन्स टीम का जिला प्रशासन ने सही से इस्तेमाल किया।

उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण से 34 लोगों की मौत हुई है। वहीं कोरोना संक्रमण के 909 नए मामले सामने आए हैं। कुल मामले बढ़कर 8356 हो गए हैं, जिनमें से 7367 एक्टिव केस हैं। इनमें से 716 डिस्चार्ज हो चुके हैं और 273 लोगों की मौत हो चुकी है।

Next Stories
1 अरबपत‍ि कारोबारी को प‍िकन‍िक के ल‍िए पास, पर आम आदमी को डायल‍िस‍िस के ल‍िए भी लेने में छूट रहे पसीने
2 कोरोना मरीजों की रूट मैपिंग, जियो टैगिंग कर हो रही स्क्रीनिंग, टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर केरल लड़ रहा महामारी से जंग
3 Coronavirus Lockdown: बच्चा बीमार, उसे ऊंटनी का ही दूध देना है’, महिला ने पीएम से लगाई गुहार तो IPS अफसर बने देवदूत, स्पेशल परमिशन ले ट्रेन से मुंबई पहुंचवाया 20 लीटर दूध
ये पढ़ा क्या?
X