ताज़ा खबर
 

यदि जाना चाहते हैं धार्मिक स्थल या शॉपिंग मॉल, इन बातों का रखना होगा ध्यान

रेस्तरां, धार्मिक स्थलों, शॉपिंग मॉल, होटल और कार्यालयों को खोलने के लिए भी SOP किया गया। जिसमें हर एक के लिए कई उपायों और प्रतिबंधों की सिफारिश की गई है। ऑफिस खोलने की अनुमति दी गई है, लेकिन इसके लिए नियोक्ता को व्यवस्था में काफी बदलाव करना होगा।

रेस्तरां, धार्मिक स्थलों, शॉपिंग मॉल, होटल और कार्यालयों को खोलने के लिए भी SOP किया गया।

आठ जून से देश में धार्मिक स्थल, होटल, रेस्तरां और शॉपिंग मॉल आदि खुल जाएंगे। इसके लिए सरकार की तरफ से दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं। इस दौरान जिन बातों का ध्यान रखा जाएगा, उनमें बच्चों, बुजुर्ग, गर्भवती महिलाओं को भीड़भाड़ वाली जगहों पर ना जाने की सलाह दी गई है। होटल, रेस्तरां और धार्मिक स्थलों पर लोगों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाए। रेस्तरां के कर्मियों को ग्लव्ज, मास्क पहनना जरूरी है।

धार्मिक स्थल खोलने को लेकर भी केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने कुछ गाइडलाइंस जारी की हैं। जिनके तहत ही लोगों को प्रवेश मिलेगा। इन गाइडलाइंस के अनुसार, एक बार में 10 से ज्यादा श्रद्धालु मंदिर में इकट्ठा नहीं होंगे। गेट पर ही लोगों का तापमान चेक होगा और प्रवेश से पहले हाथ पैर साबुन से धोना अनिवार्य होगा। कोविड 19 के लक्षण दिखाई देने पर लोगों को धार्मिक स्थल में प्रवेश नहीं मिलेगा। मूर्तियों, धार्मिक ग्रंथों को हाथ से छूने की मनाही होगी और प्रसाद भी नहीं बांटा जाएगा।

केंद्र सरकार ने लॉकडाउन को धीरे-धीरे हटाने की पहल के तहत 8 जून से कई चीजें खोलने की अनुमति दे दी है। इसके लिए मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) भी जारी कर दिया गया है। सोमवार (8 जून, 2020) से कंटेनमेंट जोन में धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। मंत्रालय ने कहा कि धार्मिक स्थलों पर बड़ी संख्या में लोगों की मौजूदगी होती है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि ऐसे परिसरों में भौतिक दूरी के नियम तथा अन्य एहतियाती उपायों का पालन किया जाए।

एसओपी में कहा गया है कि संक्रमण के संभावित प्रसार के मद्देनजर धार्मिक स्थलों में गायन समूहों को अनुमति न दी जाए, बल्कि इसकी जगह रिकॉर्डेड भजन बजाए जा सकते हैं। इस दौरान सामूहिक प्रार्थना से बचा जाना चाहिए और प्रसाद वितरण तथा पवित्र जल के छिड़काव जैसी चीजों को अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

UP, Uttarakhand Coronavirus LIVE Updates

रेस्तरां, धार्मिक स्थलों, शॉपिंग मॉल, होटल और कार्यालयों को खोलने के लिए भी SOP किया गया। जिसमें हर एक के लिए कई उपायों और प्रतिबंधों की सिफारिश की गई है। ऑफिस खोलने की अनुमति दी गई है, लेकिन इसके लिए नियोक्ता को व्यवस्था में काफी बदलाव करना होगा। अब ऑफिस में वॉशरूम जाने से लेकर कैफेटेरिया तक की व्यवस्था बदल जाएगी। बैठने की जगह में कम से कम एक मीटर की दूरी बरतनी होगी। किसी भी बाहरी व्यक्ति व्यक्ति की एंट्री बैन रहेगी। डाइवर से लेकर सफाईकर्मी और गार्ड तक को नियमों का पालन करना होगा।

होटलों और रेस्तराओं के लिए जारी एसओपी में कहा कि लक्षमुक्त कर्मचारियों और लोगों को ही प्रवेश की अनुमति मिलनी चाहिए तथा उचित भीड़ प्रबंधन होना चाहिए। मंत्रालय ने कहा कि गर्भवती महिलाओं, अधिक उम्र वाले या किसी स्वास्थ्य संबंधी समस्या से पीड़ित कर्मचारियों को अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए और उन्हें लोगों के सीधे संपर्क में आने जैसे कार्य से बचना चाहिए।

Live Blog

Highlights

    17:38 (IST)05 Jun 2020
    दफ्तरों के लिए ये होंगे नियम

    दफ्तरों के एंट्री गेट पर कर्मचारियों का तापमान चेक होगा। सबकुछ सामान्य होने पर ही दफ्तर में एंट्री दी जाएगी। कर्मचारियों को काम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। कंटेनमेंट जोन में कोई दफ्तर नहीं खुलेगा। समय समय पर दफ्तर में सैनेटाइजेशन की प्रक्रिया की जाएगी।

    17:34 (IST)05 Jun 2020
    गेट पर तापमान होगा चेक, थूकने पर होगी मनाही

    गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के मुताबिक सभी धार्मिक स्थलों, होटल, रेस्तरां के गेट पर लोगों का तापमान चेक किया जाएगा। कोरोना के लक्षण दिखाई देने पर व्यक्ति को एंट्री नहीं दी जाएगी।

    17:28 (IST)05 Jun 2020
    बच्चे, बुजुर्गों और गर्भवती महिलाओं के लिए सलाह

    केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने अनलॉक 1 के तहत जो छूट दी हैं, उनमें बच्चों, बुजुर्गों और गर्भवती महिलाओं के लिए एक सलाह दी गई है। इस सलाह में इन लोगों को भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचने की सलाह दी गई है। बता दें कि केंटनेमेंट जोन में अभी कोई छूट नहीं दी गई है। कंटेनमेंट जोन्स में कोई होटल, रेस्तरां या धार्मिक स्थल नहीं खुलेंगे।

    16:09 (IST)05 Jun 2020
    धार्मिक स्थलों के सैनेटाइजेशन का काम चालू

    आठ जून को देशभर में धार्मिक स्थल खुल जाएंगे। इसके लिए फिलहाल धार्मिक स्थलों में सैनेटाइजेशन का काम किया जा रहा है। धार्मिक स्थलों पर कई जगह सैनेटाइजेशन टनल लगायी गई है। 

    14:51 (IST)05 Jun 2020
    बंगाल में 8 जून से खुलेंगे मॉल्स और रेंस्तरा

    पश्चिम बंगाल में जूट उद्योग  एक जून से ही खुल गए हैं इसके अलावा धार्मिक स्थल भी खोल दिए गए हैं जबकि मॉल और रेस्तरां 8 जून से वापस चालू होने वाले हैं।

    13:59 (IST)05 Jun 2020
    कर्नाटक सरकार ने दी राज्य परिवहन के बसों के संचालन की अनुमति

    अनलॉक 1.0 के तहत कर्नाटक सरकार ने रात्रि कर्फ्यू के दौरान रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक राज्य परिवहन की बसों को संचालित करने की अनुमति दी। इन घंटों के दौरान ‘पिकअप पॉइंट’ या बस स्टैंड से यात्रियों को लाने के लिए ऑटो, टैक्सी और कैब चलाने की अनुमति दी गई है। मुख्य सचिव टी. एम. विजय भास्कर ने एक आदेश में कहा कि राज्य परिवहन निगम (बीएमटीसी, केएसआरटीसी, एनईकेआरटीसी और एनडब्ल्यूकेआरटीसी) की बसों को रात्रि कर्फ्यू के दौरान रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक संचालन की अनुमति दी गई है।

    12:46 (IST)05 Jun 2020
    जांच में स्वस्थ पाए गए श्रमिकों को राशन की सुविधा: CM योगी

    यूपी के सीएम योगी ने कहा कि जांच में स्वस्थ पाए गए श्रमिकों को राशन किट उपलब्ध कराते हुए पृथक रहने के लिए घर भेजा जाए। श्रमिकों को एक हजार रुपए का भरण-पोषण भत्ता अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने कहा कि जिलों में तैनात स्वास्थ्य विभाग के नोडल अधिकारियों की कोविड एवं अन्य अस्पतालों की निरीक्षण सम्बन्धी रिपोर्टों की नियमित समीक्षा की जाए। उन्होंने कहा कि सभी अस्पतालों में उपचार, स्वच्छता तथा सुरक्षा आदि के बेहतर प्रबंध किए जाएं। मुख्यमंत्री ने गौतमबुद्ध नगर जिले, कानपुर नगर, सहारनपुर, आगरा, अलीगढ़, मुरादाबाद, मेरठ, फिरोजाबाद तथा बुलन्दशहर में विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन जिलों में चिकित्सा सुविधाओं को और बेहतर किया जाए।

    12:34 (IST)05 Jun 2020
    योगी ने केन्द्र के दिशा-निर्देशों के अनुरूप उप्र में गतिविधियां शुरू कराने की तैयारी करने को कहा

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘अनलॉक’ व्यवस्था के तहत आगामी आठ जून से शुरू की जाने वाली गतिविधियों को केन्द्र सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप संचालित कराए जाने के बृहस्पतिवार को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आठ जून से मिलने वाली छूट के सन्दर्भ में अध्ययन करते हुए पूरी तैयारी के साथ इस व्यवस्था को लागू किया जाए। मुख्यमंत्री ने यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में ‘अनलॉक’ व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने पुलिस महानिदेशक को निर्देश दिये, ‘‘पुलिस द्वारा लगातार गश्त की जाए। राजमार्ग एवं एक्सप्रेस-वे पर पुलिस रिस्पांस व्हीकल (पीआरवी) 112 के माध्यम से सघन गश्त सुनिश्चित की जाए। सुरक्षित यातायात पर विशेष ध्यान दिया जाए।’’ उन्होंने सामाजिक दूरी बनाये रखने संबंधी नियम का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश देते हुए कहा कि कहीं भी भीड़ एकत्रित न होने पाए। योगी ने निर्देश दिए कि पृथक केन्द्र तथा सामुदायिक रसाई की व्यवस्था को सुदृढ़ रखा जाए। 

    11:57 (IST)05 Jun 2020
    'शराब पीकर जब मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकते तो अल्कोहल से हाथ सैनिटाइज करके कैसे घुसने दे सकते हैं'

    भोपाल में एक मंदिर के पुजारी चंद्रशेखर तिवारी ने केंद्र की गाइडलाइन पर सवाल उठाते हुए एक कहा कि हम शराब पीकर जब मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकते हैं तो अल्कोहल से हाथ सैनिटाइज करके कैसे घुस सकते हैं। आप हाथ धोने की मशीन सभी मंदिरों के बाहर लगाइए, वहां पर साबुन रखिए उसको हम स्वीकार करते हैं। वैसे भी मंदिर में तो व्यक्ति घर से नहा कर ही प्रवेश करता है।

    11:29 (IST)05 Jun 2020
    पंजाब ने प्रवासियों को राज्य वापस लाने के लिए ट्रेन की व्यवस्था करने के लिए केंद्र को लिखा पत्र

    पंजाब सरकार ने लॉकडाउन के कारण काम बंद होने पर राज्य छोड़ कर जाने वाले श्रमिकों को राज्य वापस लाने के लिए ट्रेनों की व्यवस्था करने के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखा है क्योंकि राज्य में कई औद्योगिक इकाइयों में काम फिर से शुरु हो रहा है। उद्योग मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने बैंक र्किमयों को पंजाब लाने के लिए भी बसें भेजी थीं और ऐसी दो बसें बृहस्पतिवार को होशियारपुर पहुंचीं। एक विज्ञप्ति के अनुसार अरोड़ा ने यहां औद्योगिक निकायों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में यह बात कही। उन्होंने औद्योगिक इकाइयों के सुचारू रूप से संचालन के लिए हर संभव मदद का वादा किया।

    10:53 (IST)05 Jun 2020
    झारखंड ने अनलॉक-1 के लिए नये दिशानिर्देश जारी किये

    झारखंड सरकार द्वारा केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए लॉक डाउन से संबंधित दिशा निर्देशों में कहा गया है कि सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्य और अन्य कार्यों के लिए बड़ी संख्या में लोगों का जमा होना निषिद्ध बना रहेगा। दिशानिर्देशों के अनुसार निजी वाहनों व टैक्सी द्वारा राज्य में व्यक्तियों के प्रवेश के लिए ई प्रवेश पास की आवश्यकता बनी रहेगी। राज्य में सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गुटखा, तम्बाकू और तम्बाकू उत्पादों का सेवन र्विजत है। ऐसे ही अन्य दिशानिर्देश जारी किये गये हैं जो 04.06.2020 से 30.06.2020 तक की अवधि के लिए लागू रहेंगे।

    10:35 (IST)05 Jun 2020
    झारखंड ने अनलॉक-1 के लिए नये दिशानिर्देश जारी किये

    झारखंड सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए लॉक डाउन से संबंधित दिशा निर्देशों के तहत राज्य के लिये भी नए दिशा निर्देश जारी किये हैं जिनके तहत राज्य में अनलॉक-1 अथवा लॉकडाउन-पांच में किसी विवाह कार्यक्रम में पचास से अधिक एवं किसी के अंतिम संस्कार में बीस से अधिक लोग एकत्रित नहीं हो सकेंगे। आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा कुछ मामलों में राज्य सरकार को निर्णय लेने का निर्देश दिया गया है जिसके आलोक में राज्य सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है की पूर्व की भांति सभी धार्मिक संस्थान बंद रहेंगे। राज्य सरकार द्वारा जिन गतिविधियों को कंटेनमेंट जोन के बाहर अनुमति प्रदान की गयी है, उनमें आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर 9 बजे शाम से सुबह 5.00 बजे के बीच व्यक्तियों का आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा, सार्वजनिक स्थानों, कार्यस्थलों और परिवहन के दौरान फेस कवर या मास्क पहनना अनिवार्य है।

    Next Stories
    1 6 वीक और 6 चेक, रिलायंस जियो ने लॉकडाउन में भी जुटाई भारी पूंजी, जानें- क्या है रणनीति
    2 Coronavirus in India HIGHLIGHTS: देश में कोरोना मरीजों की संख्या 2.50 लाख के करीब, 6900 से ज्यादा मौतें, तमिलनाडु में अब 30 हजार संक्रमित
    3 कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार ने जारी किया राज्यों का जीएसटी का 36400 करोड़ रुपये बकाया