ताज़ा खबर
 

हैदराबाद के पुलिस इन्स्पेक्टर ने पेश की मिसाल, 2000 किमी दूर फंसे प्रवासी का भरा मेडिकल खर्च, हिमाचल के सीएम कर रहे वाह-वाह

पुलिस अधिकारी के इस कदम की हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर ने भी की है। इसके साथ ही सीएम ने एक पत्र लिखकर पुलिस अधिकारी को उनके मानवीय व्यवहार के लिए धन्यवाद भी दिया है।

हैदराबाद पुलिस के अधिकारी लक्ष्मीनारायण रेड्डी और हिमाचल के सीएम का पत्र। (इमेज सोर्स-ट्विटर/द हिंदू हैदराबाद)

देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच ऐसी कई कहानियां सामने आ रही हैं, जिनके बारे में सुनकर इंसानियत पर भरोसा जाग उठता है। हैदाराबाद में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया है, जहां एक पुलिस अधिकारी ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए शहर में फंसे हिमाचल प्रदेश के एक युवक के इलाज का 20 हजार रुपए का बिल अपनी जेब से चुका दिया। पुलिस अधिकारी की इस मदद की सभी लोग तारीफ कर रहे हैं। हिमाचल प्रदेश के सीएम तो इस घटना से इतने खुश हैं कि उन्होंने बाकायदा पुलिस अधिकारी को एक चिट्ठी लिखकर उनकी तारीफ की है।

इंडिया टुडे की एक खबर के अनुसार, बीती 16 अप्रैल को हैदाराबाद के एक कोविड 19 कंट्रोल रूम को एक फोन आया। इस कॉल में बताया गया कि हिमाचल प्रदेश का एक युवक लॉकडाउन के चलते हैदाबाद के कूकटपल्ली में फंसा हुआ है और उसे तुरंत ही मेडिकल मदद चाहिए।

इसके बाद कंट्रोल रूम से कूकटपल्ली इलाके के पुलिस को इसकी सूचना दी गई। जहां से यह मामला कूकटपल्ली थाने के इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायण रेड्डी के पास पहुंचा। पुलिस इंस्पेक्टर रेड्डी को पता चला कि हिमाचल के युवक ललित कुमार को अपेंडिक्स की समस्या थी और दर्द के चलते उसे तुरंत ही इलाज की जरूरत थी लेकिन ललित के पास इलाज के लिए पैसे नहीं थे।

इसके बाद पुलिस इंस्पेक्टर लक्ष्मीनारायण रेड्डी ने ललित को अस्पताल में भर्ती कराया और उसका 20 हजार रुपए का बिल भी अपनी जेब से ही भरा। पुलिस इंस्पेक्टर ने बताया कि ‘मैंने सिर्फ अपने पुलिस कमिश्नर का आदेश का पालन किया, जो कि हर मीटिंग में हमें याद दिलाते हैं कि राज्य में रहने वाले हर नागरिक की जिन्दगी की जिम्मेदारी हमारी है, फिर चाहे वो कहीं का भी हो।’

वहीं पुलिस अधिकारी के इस कदम की हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर ने भी की है। इसके साथ ही सीएम ने एक पत्र लिखकर पुलिस अधिकारी को उनके मानवीय व्यवहार के लिए धन्यवाद भी दिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अर्णब गोस्वामी की FIR निरस्त करने के मामले की सुनवाई दौरान तीन राज्यों के वकीलों ने SC जज से लगाई गुहार- ‘ऐसे लोगों को सुरक्षा न दी जाय मी लॉर्ड!’
2 ‘आप जहरीले बयान देकर सांप्रदायिक हिंसा फैलाना चाहते हैं, इतनी जल्दी FIR कैसे हो जाएगी रद्द?’ SC में अर्णब के खिलाफ बोले कपिल सिब्बल
3 कोरोना: एक जैसा नाम होने से अस्पताल ने 2 मरीजों को कर दिया था डिस्चार्ज, मामला खुलने पर फिर भेजे गए क्वारेंटाइन सेंटर