ताज़ा खबर
 

दिव्यांग बेटे ने घर से बाहर निकलने से पहले ‘नहीं पहना था मास्क’, झल्लाए पिता ने गला दबा उतार दिया मौत के घाट

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शाम में करीब 7 बजे बंशीधर श्यामपुकुर थाने आया और कहा कि उसने शाम 5.30 बजे अपने बेटे की हत्या कर दी है। उसका बेटा दिव्यांग था। आरोपी ने एक कपड़े से अपने बेटे का गला घोंटा था।

Author Edited By नितिन गौतम कोलकाता | Published on: April 20, 2020 9:49 AM
बेटे के मास्क ना लगाने से नाराज पिता ने की दिव्यांग बेटे की हत्या।

कोरोना संक्रमण का लोगों के अंदर इतना डर है कि एक पिता ने मास्क नहीं पहनने पर अपने दिव्यांग बेटे की गला दबाकर हत्या कर दी। मामला उत्तरी कोलकाता का है। दरअसल बेटा बिना मास्क के घर से बाहर जा रहा था, जिस पर पिता ने उसे टोका और दोनों में इसी बात को लेकर बहस हो गई। जिसके बाद पिता ने बेटे की हत्या कर दी।

पुलिस के अनुसार, घटना शनिवार शाम की है। 78 वर्षीय पिता बंशीधर मल्लिक और उनका दिव्यांग बेटा सिरशेंदु मल्लिक साथ रहते थे। शनिवार को दोनों के बीच झगड़ा हुआ और बंशीधर ने अपने 45 वर्षीय बेटे की गला दबाकर हत्या कर दी। बेटे की हत्या के बाद बंशीधर ने स्थानीय पुलिस स्टेशन जाकर आत्मसमर्पण कर दिया। जानकारी होने पर पुलिस ने बंशीधर को गिरफ्तार कर हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शाम में करीब 7 बजे बंशीधर श्यामपुकुर थाने आया और कहा कि उसने शाम 5.30 बजे अपने बेटे की हत्या कर दी है। उसका बेटा दिव्यांग था। आरोपी ने एक कपड़े से अपने बेटे का गला घोंटा था। इसके बाद पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और बॉडी रिकवर की।

बंशीधर एक प्राइवेट फर्म से रिटायर हुए थे और उनका बेटा बेरोजगार था। दोनों के बीच संबंध अच्छे नहीं थे और अक्सर दोनों के बीच झगड़ा होता रहता था। पुलिस के अनुसार, पिछले कुछ दिनों से दोनों के बीच हर रोज झगड़ा हो रहा था क्योंकि सिरशेंदु बिना मास्क लगाए घर से बाहर जा रहा था। इसी बात पर शनिवार को दोनों के बीच फिर झगड़ा हुआ और पिता ने बेटे की हत्या कर दी। बता दें कि बंगाल सरकार ने 12 मार्च से ही घर से बाहर निकलने पर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories