ताज़ा खबर
 

India Lockdown Extension: नए नियमों के साथ 17 मई के बाद भी जारी रहेगा लॉकडाउन

देश में अभी 17 मई तक लॉकडाउन है। देश में कोरोनावायरस के संक्रमण की बात करें तो अब तक 71 हजार से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। हालांकि, इसमें से 23 हजार से ज्यादा लोग ठीक भी हो चुके हैं।

Lockdown 850प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च की रात 12 बजे से देश भर में लॉकडाउन का ऐलान किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार यानी 12 मई 2020 को राष्ट्र के नाम संबोधन में लॉकडाउन के चौथे चरण का संकेत दिए। उन्होंने कहा कि चौथे चरण में नियम बदल जाएंगे। इसके लिए राज्यों से भी सुझाव मांगे गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि 18 मई से पहले देश को नए नियमों जानकारी दे दी जाएगी। पीएम नरेंद्र मोदी के मुताबिक, 18 मई से पहले लॉकडाउन के चौथे चरण की जानकारी साझा की जाएगी।

उन्होंने कहा कि ये लॉकडाउन नए रंग-रूप-नियम वाला होगा। बता दें कि देश में लागू लॉकडाउन 3.0 की अवधि 17 मई को खत्म हो रही है। पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण नए रंग रूप वाला होगा। नए नियमों वाला होगा। राज्यों से हमें जो सुझाव मिल रहे हैं, इससे जुड़ी जानकारी आपको 18 मई से पहले दी जाएगी।

बता दें कि पीएम मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी मुख्यमंत्रियों से बात की थी। जिसमें कोरोना और लॉकडाउन को लेकर चर्चा हुई। बातचीत के दौरान कई मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन बढ़ाने की वकालत की थी।

Coronavirus in India Live Updates: देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 70 हजार के पार पहुंची

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें:
कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा
जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए
इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं
क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Live Blog

Highlights

    19:32 (IST)12 May 2020
    पूरी तरह से नहीं हटेगा लॉकडाउन!

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के देश के नाम संबोधन से पहले आम लोगों में इसे लेकर चर्चा तेज हो गई है कि लॉकडाउन बढ़ेगा या फिर छूट का दायरा बढ़ेगा। लोग यह तो मान रहे हैं कि लॉकडाउन पूरी तरह से नहीं हटेगा। हालांकि, उन्हें यह भी उम्मीद है कि दफ्तर, बाजार, बस, ट्रेन और फ्लाइट्स की सेवाओं को लेकर कुछ बड़ा ऐलान हो सकता है।

    19:09 (IST)12 May 2020
    थोड़ी देर में साफ होगी तस्वीर

    पीएम नरेंद्र मोदी लॉकडाउन बढ़ाने का ऐलान करेंगे या फिर लॉकडाउन से एग्जिट प्लान की घोषणा करेंगे। थोड़ी ही देर में इस पर तस्वीर साफ हो जाएगी। वे रात 8 बजे देश को संबोधित करने वाले हैं। कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी का देश के नाम पांचवां संबोधन होगा। हालांकि, जिस तरह से राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने उनसे लॉकडाउन बढ़ाने की मांग की है, उससे तो यही कहा जा सकता है कि लॉकडाउन का बढ़ना तय है। भले ही थोड़ी छूट बढ़ा दी जाए।

    18:55 (IST)12 May 2020
    पंजाब ने की लॉकडाउन बढ़ाने की पैरवी

    पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की पैरवी की है। उन्होंने कहा कि लॉकडान से बाहर निकलने के लिए सावधानीपूर्वक रणनीति बनाई जाए और राज्यों को वित्तीय मदद दी जाए। तमिलनाडु में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने प्रधानमंत्री से 31 मई तक ट्रेन सेवाओं की मंजूरी नहीं देने की मांग की। बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि कंटेनमेंट जोन को छोड़कर राष्ट्रीय राजधानी में आर्थिक गतिविधियों की मंजूरी मिलनी चाहिए। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि आपात सेवाओं के कर्मचारियों के लिए मुंबई में लोकल ट्रेन सेवाएं शुरू की जाएं।

    18:31 (IST)12 May 2020
    डिलीवरी ब्वॉयज की होगी मेडिकल जांच

    देश में कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्‍ट्र में शराब की होम डिलिवरी होगी। प्रदेश का एक्साइज विभाग लॉकडाउन के बीच 14 मई से शराब की होम डिलिवरी कराएगा। महाराष्‍ट्र में शराब की होम डिलिवरी उन्‍हीं जिलों में की जाएगी, जहां के लिए मंजूरी मिली है। मुंबई समेत जिस भी शहर में कोरोनावायरस के कारण प्रतिबंध लगा है, वहां शराब की होम डिलीवरी नहीं होगी। होम डिलीवरी कैसी करनी है ये फैसला वाइन शॉप्स को करना होगा। सूबे में शराब की होम डिलिवरी लॉकडॉउन के दौरान तक ही होगी। शराब की दुकानों को अपने डिलिवरी ब्‍वॉयज की मेडिकल जांच रिपोर्ट एक्‍साइज विभाग को देना होगी। डिलीवरी ब्वायज को ग्‍लव्‍स, मास्क और गॉगल पहनना अनिवार्य होगा।

    18:06 (IST)12 May 2020
    दुकान खोलने की मिले मंजूरी

    दिल्ली के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से लॉकडाउन में और छूट देने की मांग की है। लोगों के मुताबिक, देश की अर्थव्यवस्था ठप है। गर्मी बढ़ गई है। लेकिन न तो बड़ी मार्केट खुली है और न ही घर से बाहर निकल सकते हैं। ऐसे में दुकानों को खोलने की मंजूरी मिलनी चाहिए। दिल्ली के लोगों को आशंका है कि शायद लॉकडाउन अभी और बढ़े। कुछ मार्केट और दुकानें और खोलने की मंजूरी मिले तो अर्थव्यवस्था पटरी पर आए। जिन लोगों का काम बंद है उनके लिए लॉकडाउन और संकट पैदा कर रहा है।

    17:38 (IST)12 May 2020
    कांग्रेस का दावा

    कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई ने करीब 27,865 प्रवासी मजदूरों का यात्रा खर्च वहन कर उन्हें उनके पैतृक स्थानों पर भेजा है। प्रदेश पार्टी अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने मंगलवार को यह दावा किया।थोराट ने कहा कि करीब 24,000 और प्रवासी मजदूरों को महाराष्ट्र से उनके गृह राज्यों में भेजने के प्रबंध कर लिए गए हैं। उन्होंने एक बयान में कहा, ‘अब तक, महाराष्ट्र कांग्रेस ने 27,865 कामगारों का यात्री खर्च वहन किया है।’ कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के बीच, अपने घरों को लौटने के लिए कई प्रवासी मजदूरों ने मीलों की यात्रा पैदल ही शुरू कर दी जबकि कुछ को परिवहन का जो साधन मिला, उसी से लौटने लगे। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पिछले हफ्ते कहा था कि अपने-अपने कार्यस्थलों पर फंसे जो प्रवासी श्रमिक एवं मजदूर घर लौटना चाहते हैं, ऐसे सभी जरूरतमंदों की रेल यात्रा का खर्च उनकी पार्टी की राज्य इकाइयां उठाएंगी।

    17:14 (IST)12 May 2020
    तीन रेलवे स्टेशन के लिए चलेंगी ट्रेनें

    भारतीय रेलवे द्वारा देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे लोगों के लिए मंगलवार से कुछ ट्रेनें चलाने के फैसले के मद्देनजर केरल ने राज्य के तीन रेलवे स्टेशनों पर कोविड-19 की ‘हवाई अड्डा मॉडल’ के तहत जांच करने की योजना बनाई है। ये रेलवे स्टेशन कोझीकोड, एर्नाकुलम और तिरुवनंतपुरम हैं। राज्य मंत्री वी.एस सुनील कुमार ने बताया कि किसी भी व्यक्ति में कोई भी लक्षण दिखने पर उसे स्टेशन से ही अस्पताल भेज दिया जाएगा और अन्य को केरल राज्य सड़क परिवहन (केएसआरटीसी) की विशेष बसों से उनके जिले के लिए रवाना किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘विशेष ट्रेनें केवल तीन स्टेशनों केरल-कोझीकोड, एर्नाकुलम और तिरुवनंतपुरम पर रुकेंगी। रेलवे हमें यात्रियों का पूरा पता मुहैया कराएगा। हम उन्हें उनके जिलों के अनुसार अलग करेंगे और तीन स्टेशनों पर उतरने वाले लोगों की सूची को अंतिम रूप देंगे। स्टेशन पर उतरने वाले यात्रियों की जांच की जाएगी।’

    16:45 (IST)12 May 2020
    फिलीपीन में फंसे 139 विद्यार्थी स्वदेश पहुंचे

    फिलीपीन में फंसे 139 भारतीय विद्यार्थी मनीला से एक विशेष विमान में मंगलवार सुबह अहमदाबाद हवाईअड्डे पर पहुंचे। गुजरात सरकार ने यह जानकारी दी। ये गुजराती छात्र उच्च शिक्षा के लिए फिलीपीन गए थे। लॉकडाउन के चलते वहां फंस गए थे। गुजरात सरकार की एक विज्ञप्ति में कहा गया, ‘फिलीपीन की राजधानी मनीला से 139 छात्रों को निकाला गया। वे एक विशेष विमान से मंगलवार सुबह अहमदाबाद हवाईअड्डे पर पहुंचे।’ इसमें कहा गया कि उनके आगमन के बाद, उन्हें उनके संबंधित जिलों में भेजा गया, जहां उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटीन में रखा जाएगा। राज्य के अधिकारियों ने इससे पहले कहा था कि गुजरात से 1,000 छात्रों को अलग-अलग देशों से लाया जाएगा। केंद्रीय सरकार ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के मद्देनजर यात्रा प्रतिबंध के चलते विश्व के विभिन्न हिस्सों में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए हाल में ‘वंदे भारत मिशन’ शुरू किया है।

    16:16 (IST)12 May 2020
    फिर शुरू होगी दैनिक समीक्षा!

    हाल ही में लॉकडाउन में ढील मिलने के बाद सरकार द्वारा पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 10 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर उत्पाद शुल्क 13 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दिया गया है। असम, दिल्ली, चेन्नई, हरियाणा, पंजाब, यूपी और उत्तराखंड सरकार ने वैट बढ़ाकर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाने का फैसला किया था। सूत्रों के मुताबिक, लॉकडाउन हटने के बाद तेल कंपनियां पेट्रोल और डीजल के दाम की फिर दैनिक समीक्षा शुरू करेंगी।

    16:02 (IST)12 May 2020
    एक्सपर्ट्स की ली जाएगी सलाह

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन के संबंध में जनता से सुझाव मांगे हैं। हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया कि इसके लिए कोई वोटिंग प्रक्रिया नहीं है। इन्हें केवल सुझाव के तौर पर लिया जाएगा। एक्सपर्ट्स की भी सलाह ली जाएगी। केजरीवाल ने एक ऑनलाइन मीडिया ब्रीफिंग में कहा, ‘मैं दिल्ली की जनता से पूछना चाहता हूं - क्या बसें चलनी चाहिएं? क्या मेट्रो सेवाएं शुरू होनी चाहिए? कृपया अपने सुझाव भेजें कि सरकार को 17 मई के बाद क्या करना चाहिए। लोग बुधवार शाम 5 बजे तक टोल-फ्री नंबर 1031, वाट्सएप नंबर 8800007722 पर कॉल या delhicm.suggestions@gmail.com पर ईमेल भेजकर अपने सुझाव भेज सकते हैं।’

    15:45 (IST)12 May 2020
    मजदूरों के पलायन पर हो सकती है चर्चा

    सूत्रों की मानें तो पीएम नरेंद्र मोदी आज लॉकडाउन के चौथे चरण का ऐलान कर सकते हैं। हालांकि, इस चरण में लोगों को ज्यादा छूट मिल सकती है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मजदूरों के पलायन और लॉकडाउन एग्जिट प्लान के मुद्दे पर भी चर्चा कर सकते हैं। इस दौरान वे एक बार फिर सोशल डिस्टेंसिंग यानी ‘दो गज की दूरी’ के महत्व को रेखांकित कर सकते हैं।

    15:40 (IST)12 May 2020
    दो गज की दूरी का महत्व समझें

    मोदी ने कहा था, ‘भले ही हम लॉकडाउन को क्रमबद्ध ढंग से हटाने पर गौर कर रहे हैं लेकिन हमें यह लगातार याद रखना चाहिए कि जब तक हम कोई वैक्‍सीन या समाधान नहीं ढूंढ लेते हैं, तब तक वायरस से लड़ने के लिए हमारे पास सबसे बड़ा हथियार सामाजिक दूरी बनाए रखना ही है।’ प्रधानमंत्री ने ‘दो गज की दूरी’ के महत्व पर जोर देते हुए कहा था कि कई मुख्यमंत्रियों द्वारा रात में कर्फ्यू लगाने के सुझाव को मानने से निश्चित रूप से लोगों में सतर्कता की भावना फिर से पैदा होगी।

    15:28 (IST)12 May 2020
    पीएम मोदी ने मांगे थे सुझाव

    पीएम मोदी ने सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की थी। उसमें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने केंद्रीय बलों की मांग की। अर्थव्यवस्था को कैसे खोलने के साथ लॉकडाउन को लेकर पीएम ने राज्यों को 15 मई तक अपने सुझाव देने के लिए कहा था।

    Next Stories
    1 कोरोना, लॉकडाउन के बीच PM नरेंद्र मोदी का संबोधन आज, आगे की नीति के लिए देश से मांग सकते हैं ‘साथ’
    2 Indian Railways IRCTC Train: गांव जाने की ऐसी बेताबी, कहीं छूट न जाए स्पेशल ट्रेन, आधी रात 2 बजे ही घर से नई दिल्ली स्टेशन को निकला शख्स
    3 Indian Railways की स्पेशल ट्रेनों में करने जा रहे सफर? Aarogya Setu ऐप अब डाउनलोड करना ‘अनिवार्य’
    ये पढ़ा क्या?
    X